scriptLife is a factory of good deeds, the character of real life should be | जिंदगी अच्छे कामों की फैक्टरी है, संत की तरह होना चाहिए रियल लाइफ का किरदार | Patrika News

जिंदगी अच्छे कामों की फैक्टरी है, संत की तरह होना चाहिए रियल लाइफ का किरदार

पत्रिका से विशेष मुलाकात में फैक्टरी फिल्म के विलेन अभिनेता शरद सिंह ने कहा

नरसिंहपुर

Published: November 15, 2021 08:48:16 pm

नरसिंहपुर. इंसान का जीवन एक रंगमंच है, यह अच्छे काम करने के अवसर देने वाली वह फैक्टरी है जिसमें आप अपनी असल जिंदगी का किरदार एक संत की तरह निभाकर अपना जीवन सफल बना सकते हैं और दूसरों का भी भला कर सकते हैं। ये बात बॉलीवुड लीजेंड अभिनेता आमिर खान के भाई फैजल अली खान निर्देशित फैक्टरी फिल्म में बतौर विलेन काम कर चुके अभिनेता शरद सिंह ने पत्रिका से विशेष बातचीत में कही। गत दिवस शहर आगमन पर उन्होंने अपने टीवी व फिल्मी कॅरियर पर पत्रिका से विशेष बातचीत की। उन्होंने कहा कि एक छोटा इंसान भी बड़ा काम कर सकता है, मुकाम हासिल कर सकता है, बशर्ते उसमें कुछ कर गुजरने की आग हो।
फैक्टरी से पहले फ्रॉड सइयां और बांके की क्रेजी बारात में कर चुके अभिनय
मूलत: अभिनय से जुड़े शरद सिंह ने अपने नरसिंहपुर प्रवास के दौरान अभिनय के प्रति उनके समर्पण भाव को साझा किया। उन्होंने बताया कि फैक्टरी फिल्म में रोल मिलने के पूर्व वे वारसी की फिल्म फ्रॉड सइयां और राजपाल यादव के साथ फिल्म बांके की क्रेजी बारात में अभिनय कर चुके थे। इस तरह वे काम तो लगातार कर रहे थे पर अंदर से झुंझलाहट इस बात की होती थी कि ऐसा कोई काम नहीं मिल रहा था, जिसे करने के बाद बॉलीवुड में उनकी एक अलग पहचान बन जाए। इसी बीत दो साल पहले उनके मित्र तालिब की बदौलत आमिर खान के भाई फैसल खान से मुलाकात ने उनके आगे बढऩे का रास्ता खोला। फैसल निर्देशित फैक्टरी में उन्हें मुख्य विलेन के किरदार के लिए सिलेक्ट किया गया। 3 सितंबर को देशभर के सिनेमाघरों में प्रदर्शित इस फिल्म को दर्शकों समेत क्रिटिक्स ने भी खूब सराहा। उनके अभिनय की जमकर तारीफ हुई। शरद सिंह बताते हैं कि उन्होंने कभी भी अभिनय की कोई ट्रेनिंग नहीं ली। वे थिएटर करते करते इस मुकाम तक पहुंचे हैं। जिंदगी के उतार चढ़ाव ने उन्हें भाव भंगिमाओं को समझने में मदद की। मैंने अपने जीवन में बुरा वक्त भी देखा, अपमान भी झेला लेकिन कभी विचलित नहीं हुआ। ये वो दौर था जब मदद मांगने पर भी अपनों ने साथ नहीं दिया, उल्टा मुंह मोड़ लिया।इन विपरीत हालातों के बावजूद ठान लिया था कि खुद की पहचान बनाकर रहूंगा।उन दिनों मुंबई की यात्रा करना मेरे लिए सपने जैसा ही था। मैं इस स्थिति में नहीं था कि मुंबई आकर संघर्ष कर पाता। लेकिन मैंने अब अपने बलबूते काफी कुछ हासिल कर लिया है। मेरी बहनों की शादी हो गई। मेरा अपना व्यापार है, पर मेरी सोच एक उत्कृष्ट अभिनेता बनने की है। एक बेहतरीन चरित्र अभिनेता बनने की है। मैं फैसल खान का शुक्रगुजार हं जिन्होंने मेरी अभिनय क्षमता पर भरोसा कर मुझे इतना बड़ा अवसर दिया। शरद सिंह के अनुसार किरदार के प्रस्तुतिकरण में मेरे जीवन अनुभव बेहद कारगर रहे हैं। देर से ही सही लेकिन फैक्टरी फिल्म के जरिए मैं कलाकार के रूप में अपनी पहचान बनाने में सफल रहा।
sharad_singh_actor.jpg
actor sharad singh
१७ साल पहले फिल्म प्रथा में मिला था पहला ब्रेक
अभिनेता शरद सिंह ने बताया कि 17 वर्ष पहले फिल्म प्रथा में उन्हें पहला ब्रेक मिला था। इसमें उन्होंने पुलिस इंस्पेक्टर का किरदार निभाया था लेकिन इससे उनके हालात नहीं बदले। वापस होशंगाबाद आकर वही मुश्किलें, फिर एमआर की नौकरी की, कई नौकरियां बदली। हालांकि आज लंबे संघर्ष के बाद वे इतने सक्षम हो गए हैं कि वे मुंबई में अपनी कला से जुड़ी हसरतों को पूरा कर सकें।
लक्ष्य पैसा कमाना नहीं बल्कि पहचान बनाना है
पत्रिका से बातचीत में अभिनेता शरद सिंह ने कहा कि यदि आप छोटे शहर में रह रहे हो और आप टीवी पर आ जाएं तो शहर के निवासियों के लिए आप बहुत बड़े कलाकार हो जाते हैं। ऐसा ही मेरे साथ भी हुआ। शरद के अनुसार मेरे आसपास के लोगों का व्यवहार भी मेरे प्रति अचानक बदल गया। फिर शहर के हर कार्यक्रम में मुझे निमंत्रित किया जाने लगा, इज्जत मिलने लगी। हालांकि शरद इससे इत्तेफाक नहीं रखते, उनके अनुसार मेरा मकसद अभिनय से ढेर सारा पैसा कमाना नहीं बल्कि कलाकार के तौर पर पहचान व इज्जत पाना है। मैं लोगों को यकीन दिलाना चाहता हूं कि एक छोटा इंसान भी बड़ा काम कर सकता है। वे देश के पांच बड़े निर्देशकों में से एक के साथ वेब सीरीज व्हेयर आई लास्ट यू में भी महत्वपूर्ण किरदार निभाते नजर आने वाले हैं। शरद सिंह गाने के भी शौकीन हैं । मोहम्मद रफी और किशोर कुमार उनके पसंदीदा गायक हैंं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.