स्कूली गतिविधियों के प्रभावी संचालन के लिए स्थल पर प्रदर्शन के माध्यम से बताए तरीके

स्कूली गतिविधियों के प्रभावी संचालन के लिए स्थल पर प्रदर्शन के माध्यम से बताए तरीके

स्कूली गतिविधियों के प्रभावी संचालन के लिए स्थल पर प्रदर्शन के माध्यम से बताए तरीके
सतत एवं व्यापक मूल्यांकन प्रशिक्षण की शुरुआत

नरङ्क्षसहपुर/करेली- शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय परिसर चांवरपाठा में सतत एवं व्यापक मूल्यांकन पर तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला की शुरुआत हुई। जिसमें राज्य स्तर से प्रशिक्षण प्राप्त मास्टर ट्रेनर्स द्वारा प्रशिक्षण संचालित किया गया। सर्वप्रथम सरस्वती पूजन एवं सरस्वती वंदना करके प्रशिक्षण की प्रार्थना सभा से शुरुआत की गई। सीसीई गतिविधियों की अवधारणा को स्पष्ट करते हुए विद्यालय में सदन निर्माण ग्रुप लीडर,निबंध लेखन प्रतियोगिता प्रार्थना सभा के दौरान की संपूर्ण गतिविधियों का स्थल पर प्रदर्शन कर संचालन का तरीका बताया गया। प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य विद्यालयों में विद्यार्थियों के चहुंमुखी विकास,मानसिक,स्वास्थ्य,शैक्षिक उन्नति को दृष्टिगत रखते हुए सहस शैक्षिक वातावरण का निर्माण करने के संबंध में प्रभावी गतिविधियों के संचालन के बारे में शिक्षकों को बताया गया। शाला स्तर पर बाल सभा की गतिविधियों को आनंददायी तरीके से मनोरंजक शैली में प्रदर्शन करने हेतु प्रेरित किया गया। शिक्षण प्राप्त करने वालों में विकासखंड के समस्त हाई एवं हायर सेकंडरी विद्यालय के प्राचार्य एवं 22 शिक्षकों समेत 90 शिक्षकों की मौजूदगी रही। इस प्रशिक्षण कायक्रम के मास्टर ट्रेनर्स में में केके अग्रवाल,रजनीश जैन,सीपी अग्रवाल,अरविंद वर्मा,सत्य प्रकाश त्यागी,मिलन जारोलिया,जेपी कोष्टी,राकेश श्रीवास,शिवदयाल नोरिया शामिल हैं।

Amit Sharma
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned