प्रेमिका को हत्या कर गाड़ दिया जमीन में,आरोपी गिरफ्तार

15 दिन पहले अचानक गायब हो गई थी युवती, हादसे में घायल आरोपी को अस्पताल से गिरफ्तार किया पुलिस ने

By: ajay khare

Published: 11 Dec 2017, 08:34 PM IST

नरसिंहपुर। चीचली थाना क्षेत्रांतर्गत ग्राम थलवाड़ा में पंद्रह दिन पहले शादी का दबाव बनाने पर युवक ने अपनी प्रेमिका की हत्या कर उसे जमीन में दफन कर दिया और गायब हो गया। 8 दिसंबर को युवती की लाश बरामद की गई थी। गत दिवस एक हादसे में घायल होने के बाद जब युवक अस्पताल पहुंचा तो अस्पताल से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने उसे दबोच लिया। पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।
यह है मामला
विगत दिनों चीचली थाना क्षेत्रांतर्गत ग्राम थलवाडा में एक युवती की जमीन में दबी हुयी लाश बरामद होने पर हत्या का प्रकरण दर्ज किया गया था। मामले की विवेचना में स्पष्ट हुआ कि 27 नवंबर 2017 को ग्राम की युवती शशि ठाकुर पिता वीरन ठाकुर 23 उम्र साल के लापता होने पर परिजनों द्वारा 28 नवंबर को थाना में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी गयी थी। जिसकी तलाश की जा रही थी। इसी दौरान दिनांक 8 दिसंबर को पुलिस को जमीन में लाश गड़ी होने की सूचना प्राप्त हुयी, खुदाई कराने पर युवती का शव बरामद हुआ। प्रारंभिक विवेचना में मृत युवती की पहचान उक्त लापता शशि ठाकुर के रूप में हुई। प्रथम दृष्टया मामला हत्या का पाये जाने से अज्ञात आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ की गयी।

 

थाना प्रभारी चीचली निरीक्षक एसएल झारिया द्वारा अपने स्टाफ सहित पतासाजी प्रारंभ की गयी। पुलिस अनुसंधान के दौरान यह तथ्य स्पष्ट हुये कि मृत युवती शशि ठाकुर अंतिम बार ग्राम के ही पवन मेहरा नामक युवक के साथ देखी गयी थी। जिसके बाद से पुलिस संदेही युवक पवन मेहरा को तलाश कर रही थी। रविवार को पवन मेहरा एक हादसे में घायल होने पर गाडरवारा के शासकीय अस्पताल में इलाज कराने पहुंचा। अस्पताल से पुलिस को तहरीर के माध्यम से सूचना मिलने पर पवन मेहरा का नाम सुनते ही पुलिस के कान खड़े हो गए और पुलिस ने अस्पताल में भर्ती पवन को हिरासत में ले लिया । आरोपी ने पूछताछ में बताया कि मृतिका शशि ठाकुर एवं आरोपी पवन मेहरा के मध्य पूर्व से परिचय व संबंध थे, घटना के दिन मृतिका द्वारा आरोपी से शादी करने हेतु दबाब बनाये जाने पर दोनों के मध्य झगड़ा हुआ। झगड़े के दौरान आरोपी पवन मेहरा ने आवेश में आकर मृतिका शशि ठाकुर का गला दबाकर हत्या कर दी एवं शव को जमीन में गाड़ दिया गया । आरोपी ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है। आरोपी की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त फावड़ा गैंती भी बरामद कर जब्त किए गए हें। आरोपी को अस्पताल से गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी चीचली निरीक्षक एसएल झारिया,सउनि माधवराव निवारे, सउनि अनिल सिंह, प्रधान आरक्षक चेतराम, ,राजकुमार दीक्षित, आरक्षक रंजीत, आरक्षक प्रमोद पाल एवं आरक्षक यशवंत सिंह की प्रमुख भूमिका रही।

 

ajay khare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned