24 घंटे बाद भी नहीं मिले नर्मदा में डूबे चचेरे भाई बहन

गाडरवारा के लिंगा घाट की घटना

 

नरसिंहपुर/भौंरझिर. मकर संक्राति पर नर्मदा नदी के भौंरझिर के पास लिंगा घाट पर स्नान करते समय डूबे रितु कौरव व अभिराज कौरव का 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पता नही चल सका है। पुलिस प्रशासन गोताखोरों की मदद से लगातार उनकी तलाश कर रहा है। लापता किशोर व युवती चचेरे भाई-बहन हैं।
गौरतलब है कि मकर संक्राति के अवसर पर बुधवार दोपहर नर्मदा नदी के लिंगाघाट में बड़ी संख्या में श्रद्धालु स्नान करने के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान भौंरझिर निवासी अखिलेश कौरव अपने पुत्र अभिराज कौरव(12), भतीजी रितु कौरव पिता वोटसाब कौरव (21) व भौंरझिर की ही युवती विभा कौरव भी घाट पर थे। अभिराज व रितु दोनों नहाते हुए गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। उन्हें डूबता देख पिता अखिलेश व विभा कौरव बचाने के लिए गहरे पानी में गए तो वे भी डूबने लगे। स्थानीय लोगों ने अखिलेश और विभा को तो बचा लिया, लेकिन अभिराज व रितु गहरे पानी के बीच लापता हो गए थे। स्थानीय तैराकों व गोताखोरों ने उन्हें तलाशने के पूरे प्रयास किए पर अभी तक दोनों को तलाश नहीं किया जा सका है। घटना के दूसरे दिन सिहोरा चौकी प्रभारी सहित स्टाफ तथा परिजन व कोटवार मौके पर मौजूद रहकर तलाश करते रहे। आपदा प्रबंधन की टीम के सेनानी शैलेन्द्र सहगल, हवलदार ब्रजमोहन श्रीवास्तव,दीवान सिंह,शैलेन्द्र सिंह ,तारासिंह, राजेंद्र सिंह, शिवम पुरी,राहुल ढिमोले सहित अन्य लोग भी तलाश करते रहे।

abishankar nagaich Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned