बारिश और बाढ ने मचाई तबाही, जबलपुर सहित कई जिलों से टूटा नरसिंहपुर का संपर्क

-नर्मदा व सहायक नदियों की बाढ़ ने लोगों की फजीहत बढाई

By: Ajay Chaturvedi

Published: 30 Aug 2020, 03:04 PM IST

नरसिंहपुर. लगातार हो रही बारिश तथा नर्मदा व सहायक नदियों में आई बाढ़ ने जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त कर दिया है। कई पुल व पुलिया के ऊपर पानी आ जाने से जिले का पड़ोसी जिलों से सीधा संपर्क टूट गया है। इसमें जबलपुर, छिंदवाड़ा, साईंखेड़ा, झांसीघाट आदि प्रमुख हैं।

बता दें कि शुक्रवार की रात से शुरू बारिश शनिवार शाम तक तेज बारिश होती रही। नतीजा यह कि लगातार बारिश के चलते एनएच-26 बी पर ग्राम धुवघट के पास एक पुलिया टूटने से छिंदवाड़ा-नरसिंहपुर मार्ग का संपर्क टूट गया है। इसी तरह स्टेट हाइवे क्रमांक-22 पर झांसीघाट व सांईखेड़ा के पास झिकौली का पुल नर्मदा की बाढ़ से डूब गया है, जिससे जिले का जबलपुर और पड़ोसी जिले रायसेन से सीधा संपर्क टूट गया है। साथ ही ककराघाट पुल डूबा है। बरांझ, शेढ़, सीतारेवा, शक्कर, माछा आदि नदियों की बाढ़ ने भी जिले के पचासों ग्रामीण क्षेत्रों का आवागमन प्रभावित कर दिया है।

बारिश व बाढ से चारों तरफ पानी ही पानी हो गया है। नाला-नाली सभी उफना रहे हैं। नतीजा यह कि जिला मुख्यालय से लगे गांव रमखिरिया में समीपी पीरा नाला में नहाने गया एक युवक पैर फिसलने से नाले में जा गिरा और पलक झपकते ही बह गया। काफी तलाश की गई तो वह नाले में बरामद हुआ, लेकिन जांच में मृत पाया गया। पुलिस ने बताया कि रमखिरिया निवासी जयराम पिता पल्टू यादव 32 वर्ष की डूबने से मृत्यु होने पर मर्ग कायम किया गया है।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned