वर्तमान में बिगड़ रहा सामाजिक परिदृश्य

नरसिंहपुर। लगातार बिगड़ रही राजनैतिक गतिविधियां समाज और राष्ट्र के लिए चिंता का विषय है। सामाजिक परिवेश में आ रही विसंगतियोंं के संबंध में मैं पिता और मेरी चिंता जैसा विषय प्रासंगिक है। पत्रिका द्वारा इस विषय के माध्यम से जो बात सामने लाने का प्रयास किया है। यह बात प्रतिष्ठित कृषक सुनील तिवारी ने कहते हुए बताया कि बीते 2 दशकों में आधुनिकता की दौड़ के पीछे हमने अपनी संस्कृति पर कुठाराघात किया है।

Ajay Khare

September, 1310:08 PM

Narsinghpur, Madhya Pradesh, India

नरसिंहपुर। लगातार बिगड़ रही राजनैतिक गतिविधियां समाज और राष्ट्र के लिए चिंता का विषय है। सामाजिक परिवेश में आ रही विसंगतियोंं के संबंध में मैं पिता और मेरी चिंता जैसा विषय प्रासंगिक है। पत्रिका द्वारा इस विषय के माध्यम से जो बात सामने लाने का प्रयास किया है। यह बात प्रतिष्ठित कृषक सुनील तिवारी ने कहते हुए बताया कि बीते 2 दशकों में आधुनिकता की दौड़ के पीछे हमने अपनी संस्कृति पर कुठाराघात किया है। जिसके परिणाम हम आज बलात्कार, बच्चों के साथ घृणित कृत्य के रूप में भी सामने देख रहे हैं। इसको लेकर आज हमारे समाज में भय का माहौल है, हम स्वयं व अपने बच्चों को सुरक्षित महसूस नहीं कर पा रहे हैं। इन सभी के अलावा रासायनिक उर्वरक के अंधाधुंध उपयोग के बाद हम दोबारा जैविक कृषि की ओर लौट रहे है। सरकारों व उनके नुमाइंदों ने अधिक अन्न उपजाने की होड़ में इस गर्त में ले गए और अब किसान अपनी उपज का सही दाम पाने के लिए मोहताज है।
विधानसभा व संसद में हम जिन्हें चुनकर भेज रहे हैं, वे भी इन मामलों को लेकर समाज पर ही ठीकरा फोड़कर अपना मतलब निकालने में लगे हैं। राजनीति में भ्रष्टाचार और अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों का बोलबाला होने से विसंगतियां बढ़ी है। वर्तमान राजनीति में शुचिता और सिद्धांत दरकिनार हो गए हैं, राजनेता हमारे आदर्श होते हैं, और उनका अनुसरण कर वर्तमान व भावी पीढ़ी भी इसी भेड़चाल की तरफ बढ़ रही है। आने वाली पीढ़ी को संवारने के लिए यह चिंतन का विषय है।

ठीकरा फोड़कर अपना मतलब निकालने में लगे हैं। राजनीति में भ्रष्टाचार और अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों का बोलबाला होने से विसंगतियां बढ़ी है। वर्तमान राजनीति में शुचिता और सिद्धांत दरकिनार हो गए हैं, राजनेता हमारे आदर्श होते हैं, और उनका अनुसरण कर वर्तमान व भावी पीढ़ी भी इसी भेड़चाल की तरफ बढ़ रही है। आने वाली पीढ़ी को संवारने के लिए यह चिंतन का विषय है।

ajay khare
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned