scriptThe knock of the third wave, the work of the new 16-bed ICU has been i | तीसरी लहर की दस्तक इधर जिला अस्पताल में इंतजाम अधूरे नए 16 बेड के आईसीयू का काम पड़ा है अधूरा | Patrika News

तीसरी लहर की दस्तक इधर जिला अस्पताल में इंतजाम अधूरे नए 16 बेड के आईसीयू का काम पड़ा है अधूरा

कोरोना की दूसरी लहर में हाहाकार मचने और बड़ी संख्या में लोगों की महामारी से मौत के दौरान जिले भर के सरकारी अस्पतालों में बड़ी-बड़ी सुविधाएं जुटाने की बातें कही गई थीं।

नरसिंहपुर

Published: December 02, 2021 08:47:48 pm

नरसिंहपुर. कोरोना की दूसरी लहर में हाहाकार मचने और बड़ी संख्या में लोगों की महामारी से मौत के दौरान जिले भर के सरकारी अस्पतालों में बड़ी-बड़ी सुविधाएं जुटाने की बातें कही गर्इं थीं। लेकिन 6 माह बाद भी स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन और जिला आपदा प्रबंधन समिति अभी तक जरूरी सुविधाएं नहीं जुटा सकी है।
नए आईसीयू का काम अभी भी अधूरा
दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी को लेकर समस्या निर्मित हुई थी और सबसे ज्यादा जोर ऑक्सीजन और ऑक्सीजन बेड की उपलब्धता पर दिया गया था। लेकिन इसी बिंदु पर अभी भी जिला अस्पताल में भारी कमियां हंै । जिला अस्पताल में पिछले 3 महीने से 16 बेड के नए आईसीयू का काम चल रहा है लेकिन अभी भी इसका 25 से 40 फीसदी काम बकाया है इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि तीसरी लहर से निपटने की तैयारी को लेकर प्रशासन कितना संजीदा है। जिला अस्पताल में 28 आईसीयू बेड की व्यवस्था की जा रही है जिसमें 12 आईसीयू बेड पहले से मौजूद हैं जबकि 16 बेड के लिए काम अभी चल रहा है ।
अभी तक सीटी स्कैन की सुविधा नहीं
दूसरी लहर में फेफड़ों में संक्रमण का पता लगाने के लिए सीटी स्कैन की जरूरत पड़ी थी। लोग सीटी स्कैन के लिए मारे मारे फिर रहे थे और सीटी स्कैन मशीनों पर लंबी कतारें नजर आ रहीं थी । सीटी स्कैन कराने के लिए लोगों के २४-24 घंटे बाद नंबर लग रहे थे । लेकिन जिला प्रशासन ने कितनी गंभीरता से प्रयास किया इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जिला अस्पताल में अभी तक सीटी स्कैन मशीन उपलब्ध नहीं हो सकी है। कहा जा रहा है कि मशीन बेंगलुरु में आ गई है लेकिन वहां से नरसिंहपुर कब आएगी इसके बारे में किसी को कुछ नहीं पता। दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि कोरोना की जांच के लिए जरूरी सीआरपी, डि डिमर और अन्य जांचों की सुविधा उपलब्ध है ।
188 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था
तीसरी लहर से निपटने की तैयारी के लिए जिला अस्पताल में 188 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था की गई है जिसमें रेडक्रास के 25 बेड शामिल हैं । ऑक्सीजन की उपलब्धता को लेकर अभी तक ठोस उपलब्धि यही है कि 1000 लीटर प्रति मिनट क्षमता की एक पीएसए यूनिट चालू हो चुकी है जबकि लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन टैंक की स्थापना के लिए अभी काम किया जाना बाकी है । बताया गया है कि 6000 लीटर क्षमता का लिक्विड ऑक्सीजन टैंक स्थापित किया जाएगा जिसके बाद लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता बनी रहेगी।
0301nsp6.jpg
icu
कलेक्टर ने किया आईसीयू व ऑक्सीजन संयंत्रों का निरीक्षण
प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या और तीसरी लहर की आशंका के बीच कलेक्टर रोहित सिंह ने एसपी विपुल श्रीवास्तव, सीईओ जिला पंचायत डॉ. सौरभ संजय सोनवणे व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ जिला चिकित्सालय एवं सिविल अस्पताल गाडरवारा में स्थापित ऑक्सीजन संयंत्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर ने ऑक्सीजन संयंत्र की कार्यप्रणाली की जानकारी ली और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। इस अवसर पर नरसिंहपुर में सिविल सर्जन डॉ. अनीता अग्रवाल, सीएमएचओ डॉ. अजय कुमार जैन, गाडरवारा में एसडीएम सुश्री सृष्टि जयंत देशमुख मौजूद थीं। कलेक्टर ने जिला अस्पताल में आईसीयू गहन चिकित्सा इकाई का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाएं देखीं। उन्होंने निर्देश दिये कि तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सभी व्यवस्थायें चाक चौबंद रहें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.