दूसरी लहर ने अप्रेल में मचाया कोहराम जिले के 6 नगरों में 300 से ज्यादा लोगों ने कहा इस संसार को अलविदा

पत्रिका पड़ताल-केवल अप्रेल माह में जिले के 6 नगर पालिका क्षेत्रों में 312 लोग हमेशा के लिए अपनों से जुदा हो गए। हालांकि जिला प्रशासन के कोरोना बुलेटिन के मुताबिक जिले में अब तक कोरोना से केवल 68 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है।

By: ajay khare

Published: 20 May 2021, 09:30 PM IST

अजय खरे.नरसिंहपुर. कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने जिले के सैकड़ों लोगों को मौत के समंदर में धकेल दिया। जिले भर में बड़ी संख्या में लोग काल के गाल में समा गए, चिताएं सुलगती रहीं और लोग कफन दफन का इंतजाम करने में लगे रहे। अप्रेल और मई के पहले सप्ताह तक जिले के सभी मुक्तिधामों और कब्रिस्तानों में शवों की अंतिम यात्रा पूरी होती रही। नगर पालिका और अन्य संस्थाओं द्वारा जारी किए जाने वाले मृत्यु प्रमाण पत्र इस बात की पुष्टि करते हैं कि किस तरह कई लोगों के लिए अप्रेल और मई का महीना उनकी जिंदगी का आखिरी सफर साबित हुआ। केवल अप्रेल माह में जिले के 6 नगर पालिका क्षेत्रों में 312 लोग हमेशा के लिए अपनों से जुदा हो गए। हालांकि जिला प्रशासन के कोरोना बुलेटिन के मुताबिक जिले में अब तक कोरोना से केवल 68 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है।
नरसिंहपुर में एक माह में 71 मौतें
नगर पालिका नरसिंहपुर में अकेले अप्रेल माह में 71 मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किए जबकि जनवरी से लेकर अप्रेल तक 160 प्रमाण पत्र जारी किए। मौत का आंकड़ा अप्रेल माह में अचानक बढ़ गया। जनवरी में 32, फरवरी में 28, मार्च में 29 और फिर अप्रेल में दो गुना से ज्यादा 71 हो गया। बताया गया है कि कोरोना के कारण जिला अस्पताल में भर्ती जिले भर के कई मरीजों ने यहां आखिरी सांस ली जिनका अंतिम संस्कार यहां के मुक्तिधामों में किया गया। जिसकी वजह से यहां मौत का ग्राफ काफी ज्यादा रहा। हालांकि नगर पालिका के रिकार्ड के मुताबिक 71 मौतों में से केवल 26 मौतें कोरोना मरीजों की थीं।
गाडरवारा में सबसे ज्यादा 122 मौतें
कोरोना ने गाडरवारा में सबसे ज्यादा हाहाकार मचाया। यहां की नगर पालिका ने अप्रेल माह में 122 प्रमाण पत्र जारी किए। जबकि इस माह 20 मई तक केेवल १५ जारी किए हैं। यहां जनवरी में 18,फरवरी में22, मार्च में 28 मौतें दर्ज की गईं जबकि अप्रेल में मौतों का ग्राफ चार गुना ज्यादा बढ़ गया। नगर पालिका के रिकार्ड के मुताबिक महामारी की दूसरी लहर में यहां जनवरी से लेकर 20 मई तक कोरोना से केवल 4 मौतें हुई हंै जिनमें से 3 अप्रेल में और एक 20 मई तक हुई है।
सबसे कम मौतें तेंदूखेड़ा में
नगर पालिका तेंदूखेड़ा के रिकार्ड में 5 माह में जिले में सबसे कम मौतें दर्ज की गई हैं। यहां जनवरी में 7 फरवरी में 9 मार्च में केवल 2 अप्रेल में 4 और मई में अभी तक केवल १२ लोगों ने इस संसार को अलविदा कहा। चार माह में केवल 34 मौतें हुईं । तुलनात्मक रूप से चार माह में सबसे ज्यादा मौतें मई में हुई हैं।
करेली में 90 सालीचौका में 60 लोगों ने छोड़ा अपनों का साथ
कोरोना की दूसरी लहर में करेली में जनवरी से लेकर २० मई तक करेली में 90 लोगों ने और सालीचौका में 60 लोगों ने अपनों का साथ छोड़ दिया। इन दोनों नगर पालिका क्षेत्रों में मौतों की यह संख्या पिछले 6 महीने की तुलना में ज्यादा है। यहां अप्रेल और मई में पिछले तीन माह की तुलना में अधिक संख्या में मौतें दर्ज की गई हैं।
गोटेगांव में 36 दिन में 87 मौतें
जबलपुर जिले की सीमा से लगे गोटेगांव में एक अप्रेल से लेकर 6 मई तक 87 लोगों की मौत दर्ज की गई।
जिनमें से अप्रेल में 80 और इस माह 6 मई तक 7 मौतें दर्ज हुईं। नगर पालिका के रिकार्ड के मुताबिक 36 दिन में कोरोना से 21 मौतें हुर्इं इनमें से कोरोना संदिग्ध 10 मौतें शामिल हैं जबकि शेष मौतें अन्य कारणों से हुई हैं।

वर्जन
जिला मुख्यालय पर जिले भर के लोग अपने उपचार के लिए आते हैं कोरोना या अन्य बीमारी से या अन्य कारणों से मौत होने पर जिनका अंतिम संस्कार यहां किया गया उनके डेथ सर्टिफिकेट भी नियमानुसार यहां से जारी किए गए। इस वजह से नरसिंहपुर में मौत का ग्राफ कुछ ज्यादा रहा है।
केवी सिंह सीएमओ नगर पालिका नरसिंहपुर
जिले में 3 दिन का औसत पॉजिटिविटी रेट 4.06 प्रतिशत
नरसिंहपुर. जिले में कोरोना संक्रमण में लगातार कमी आ रही है। 17, 18 एवं 19 मई को बीते 3 दिनों में जिले का औसत पॉजिटिविटी रेट घटकर 4.06 प्रतिशत हो गया है। इस अवधि में 3 हजार 522 सेंपल लिये गये, जिनमें से 143 सेंपल पॉजिटिव पाये गये। 17 मई को 1155 सेंपल में से 70 पॉजिटिव पाये गये और पॉजिटिविटी रेट 6.06 प्रतिशत रहा। इसी तरह 18 मई को 1193 सेंपल में से 49 पॉजिटिव पाये गये और पॉजिटिविटी रेट 4.11 प्रतिशत रहा। इसी तरह 19 मई को 1174 सेंपल में से 24 पॉजिटिव पाये गये और पॉजिटिविटी रेट 2.04 प्रतिशत रहा। इन 3 दिनों का औसत पॉजिटिविटी रेट 4.06 प्रतिशत रहा।

ajay khare
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned