पुलिस अभिरक्षा में युवक की मौत, करेली थाना प्रभारी सहित 5 सस्पेंड

नरसिंहपुर। करेली थाना क्षेत्र के ग्राम इमझिरी निवासी एक युवक की मृत्यु हो गई। करेली पुलिस युवक को पूछताछ के लिए गिरफ्तार कर लाई थी। घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार इमझिरी निवासी अनुराग राजपूत पिता उपेन्द्र राजपूत 19 वर्ष को करेली थाना पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर थाने लाया गया था।

Ajay Khare

September, 1210:07 PM

नरसिंहपुर। करेली थाना क्षेत्र के ग्राम इमझिरी निवासी एक युवक की मृत्यु हो गई। करेली पुलिस युवक को पूछताछ के लिए गिरफ्तार कर लाई थी। घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार इमझिरी निवासी अनुराग राजपूत पिता उपेन्द्र राजपूत 19 वर्ष को करेली थाना पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर थाने लाया गया था।
मामले में पुलिस अधीक्षक डीएस भदौरिया ने करेली थाना प्रभारी अरविंद चौबे, सब इस्पेक्टर बसंत शर्मा के अलावा एक सहायक उपनिरीक्षक, एक प्रधान आरक्षक एवं एक आरक्षक को निलंबित कर दिया। घटना की न्यायिक जांच के आदेश देते हुए शव का मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में तीन चिकित्सकों से पोस्टमार्टम कराया गया। दूसरी और इस घटना को लेकर जिला कांग्रेेस अध्यक्ष मैथिलीशरण तिवारी एवं आप नेता अजय दुबे ने पुलिस कार्यप्रणाली पर कई सवाल उठाते हुए आरोप लगाये। मृतक के विरूद्ध पुलिस ने धारा 151 के तहत कार्रवाई की गई थी।
मृतक के पिता उपेन्द्र राजपूत ने आरोप लगाया कि उसके बेटे को पुलिस लेकर आई थी, इसकी उसे कोई जानकारी नहीं थी। सुबह पुलिस की सूचना मिलने पर जिला अस्पताल बुलाया गया, जहां आकर पता चला कि उसकी मृत्यु हो गई है। सूत्रों का कहना है कि युवक ने जहरीला पदार्थ खाया है। मामले की संदिग्धता के चलते न्यायाधीश की मौजूदगी में पांच डाक्टरों की पेनल ने शव का पोस्टमार्टम किया। घटना से गुस्साए परिजनों ने विरोध जताया, इस दौरान पहुंचे कांग्रेस के पदाधिकारियों ने धरना देना शुरू कर दिया।
मौके पर पहुंचे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन द्वारा जानकारी दी गई कि पुलिस अधीक्षक द्वारा मामले को लेकर न्यायिक जांच के लिए आदेश किए है, इस संबंध में तत्काल प्रभाव से करेली थाना प्रभारी अरविंद चौबे सहित सहित एक उपनिरीक्षक, एक सहायक उपनिरीक्षक, एकप्रधान आरक्षक व एक आरक्षक को सस्पेंड किए जाने की जानकारी दी तब धरना समाप्त कर शव को लेकर परिजन अपने गांव रवाना हुए। एहतियात के चलते पुलिस बल भी गांव में तैनात किया गया।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन ने बताया कि मृतक अनुराग को धारा 151 में गिरफतार किया गया था और मंगलवार की रात्रि को उसने सल्फास खा ली जिसकी तबियत बिगडऩे पर उसे करेली के स्वास्थ केन्द्र के बाद जिला चिकित्सालय नरसिंहपुर लाया गया किन्तु उसकी मौत हो गयी। घटना में प्रथमदृष्टया संबंधितों की लापरवाही प्रतीत हो रही है, मामले में सूक्ष्म विवेचना कर कार्रवाई की जाएगी।

ajay khare Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned