script13 parties' letter to PM over Violence; Uddhav refuses to sign | देश में हिंसा और 13 पार्टियों का पीएम को पत्र: उद्धव ठाकरे ने इस डर से पत्र पर नहीं किए थे हस्ताक्षर | Patrika News

देश में हिंसा और 13 पार्टियों का पीएम को पत्र: उद्धव ठाकरे ने इस डर से पत्र पर नहीं किए थे हस्ताक्षर

देशभर में हिंसा पर पीएम मोदी की चुप्पी पर 13 विपक्षी पार्टियों ने उन्हें पत्र लिखा था। इस पत्र पर कई बड़ी विपक्षी पार्टी के नेताओं ने हस्ताक्षर किये लेकिन उद्धव ठाकरे ने ऐसा करने से मना कर दिया था। अब इसके पीछे की वजह चर्चा में है।

Updated: April 20, 2022 07:27:51 am

देश भर में हिंसा पर 13 विपक्षी नेताओं ने देश के प्रधानमंत्री मोदी को संयुक्त पत्र लिखा था। इस पत्र पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, NCP प्रमुख शरद पवार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, उनके तमिलनाडु समकक्ष और द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन, झारखंड के मुख्यमंत्री और झामुमो प्रमुख हेमंत सोरेन, राजद प्रमुख तेजस्वी जैसे कई विपक्षी पार्टियों ने हस्ताक्षर किये लेकिन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इसपर हस्ताक्षर करने से इनकार कर दिया। उनके ऐसा न करने के पीछे की वजह को उनका डर बताया जा रहा है।
Violence in the country and 13 parties' letter to PM; Uddhav Thackeray refuses to sign
Violence in the country and 13 parties' letter to PM; Uddhav Thackeray refuses to sign
6 घंटे तक विपक्षी पार्टियों ने किया इंतजार
जहांगीरपुरी में हुई हिंसा के बाद संयुक्त विपक्ष द्वारा एक पत्र लिखा गया है और उसी पत्र पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के हस्ताक्षर नहीं किये। कहा जा रहा है कि उद्धव ठाकरे ने हिंदू वोटों के बंटवारे के डर से हस्ताक्षर नहीं किए। पार्टी के सूत्रों के अनुसार सभी विपक्षी नेताओं ने करीब 6 घंटे तक उद्धव ठाकरे के पत्र पर हस्ताक्षर करने का इंतजार किया और फिर बिना उद्धव के हस्ताक्षर के ही पत्र को भेज दिया गया।

हिन्दू वॉटर छिटकने से डरे उद्धव?
सूत्रों के मुताबिक, शिवसेना प्रमुख और राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने समझौते पर हस्ताक्षर नहीं किए और ये हिन्दू वोट के अलगाव का डर है जो उन्हें सता रहा है। इसके अलावा इसके पीछे की वजह राज्य में MNS चीफ राज ठाकरे का लाउडस्पीकर के विवाद को उठाना भी बताया जा रहा।

दरअसल, राज ठाकरे ने हाल ही में हनुमान चालीसा के मुद्दे को लेकर शिवसेना को घेरा था। तब संजय राउत ने उन्हें जवाब भी दिया था लेकिन सत्ता में आने के बाद से शिवसेना पर बार बार सेक्युलर होने के आरोप लगे हैं। बीजेपी नेता देवेन्द्र फडणवीस ने तो 'छद्म धर्मनिरपेक्ष' का टैग तक शिवसेना को दे दिया था। राज ठाकरे को भी बीजेपी का समर्थन मिला है जिससे शिवसेना को हिन्दू वोट छिटकने का डर सताने लगा है। महाराष्ट्र के राजनीतिक गलियारों में इसलिए चर्चा है कि हिंदुओं के अलगाव के डर से उद्धव ठाकरे ने पत्र पर हस्ताक्षर नहीं किए।

पत्र में क्या था?
दरअसल, मुख्य विपक्षी दलों के नेताओं ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर पूछा है कि देश भर में जारी हिंसा पर प्रधानमंत्री मोदी चुप क्यों हैं? इस पत्र में ये तक कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मोदी हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ चुप रहकर उन्हें सुरक्षा दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें

दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा के 5 आरोपियों पर लगाया गया रासुका (NSA)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: अपनी पत्नी पर खूब प्रेम लुटाते हैं इस नाम के लड़केबगैर रिजर्वेशन कर सकेंगे ट्रेन में यात्रा, भारतीय रेलवे ने जारी की सूचीनाम ज्योतिष: इन 3 नाम की लड़कियां जहां जाती हैं वहां खुशियों और धन-धान्य के लगा देती हैं ढेरजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंधन के देवता कुबेर की इन 4 राशियों पर हमेशा रहती है कृपा, अच्छा बैंक बैलेंस बनाने में रहते है कामयाबआपके यहां रहता है किराएदार तो हो जाएं सावधान, दर्ज हो सकती है एफआईआर24 हजार साल ठंडी कब्र में दफन रहा फिर भी निकला जिंदा, बाहर आते ही बना दिए अपने क्लोनअंक ज्योतिष अनुसार इन 3 तारीख में जन्मे लोगों के पास खूब होती है जमीन-जायदाद

बड़ी खबरें

महंगाई की मार! सरकार के इस फैसले से लगेगा तगड़ा झटका, 1 जून से महंगी हो जाएगी कार-बाइक की खरीदारीबंगाल के राज्यपाल के निशाने पर ममता बनर्जी के भतीजे, कहा - 'अभिषेक बनर्जी ने पार की लक्ष्मण रेखा'Haryana Congress Rally: पूर्व CM भूपेंद्र सिंह हुड्डा का बड़ा ऐलान- हमारी सरकार बनी तो 6 हजार रुपए देंगे वृद्धा पेंशनमानापाथी हिमालय के निचले इलाके में दिखा लापता नेपाली विमान, मुस्टांग में क्रैश होने की आशंका, सवार थे 22 लोगसुप्रिया सुले पर विवादित टिप्पणी के बाद बीजेपी नेता चंद्रकांत पाटील ने मांगी माफीअरविंद केजरीवाल ने कहा- हरियाणा में लाखों बच्चों का भविष्य अंधकार में, हमें मौका मिला तो बच्चे बनेंगे डॉक्टर-इंजीनियरउज्जैन की गली-गली में घूमे हैं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, शादी के कपड़े भी यहीं सिलाए, जानिए बार-बार क्यों आते थे यहांअमरनाथ यात्रा से पहले आतंकी साजिश नाकाम, ड्रोन को गिराया, स्टिकी बम बरामद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.