scriptजमीन कारोबारी के यहां इतनी नकदी की गिनने के लिए मंगानी पड़ी मशीन, कारतूस देखकर दंग रह गई ईडी | A machine had to be called to count so much cash at the land dealer's place, ED was stunned to see the cartridges | Patrika News
राष्ट्रीय

जमीन कारोबारी के यहां इतनी नकदी की गिनने के लिए मंगानी पड़ी मशीन, कारतूस देखकर दंग रह गई ईडी

ED: 12 जून को शहर के एक जमीन कारोबारी शेखर कुशवाहा को गिरफ्तार किया था। उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। बताया गया है कि शेखर से मिले इनपुट के आधार पर ईडी ने कमलेश के ठिकानों पर दबिश दी।

रांचीJun 21, 2024 / 07:25 pm

Anand Mani Tripathi

रांची के जमीन घोटाले में ईडी ने कारोबारी कमलेश कुमार के ठिकानों पर छापेमारी की है। इस दौरान करीब एक करोड़ कैश और 100 से ज्यादा कारतूस बरामद किए गए हैं। कमलेश कांके रोड के चांदनी चौक स्थित एस्टर ग्रीन अपार्टमेंट में रहता है। वह इसी रोड में एक रिजॉर्ट भी चलाता है। इसके अलावा वह लैंड डेवलपर का काम करता है। ईडी की टीम ने शुक्रवार दोपहर उसके ठिकानों पर दबिश दी।
एजेंसी ने 12 जून को शहर के एक जमीन कारोबारी शेखर कुशवाहा को गिरफ्तार किया था। उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। बताया गया है कि शेखर से मिले इनपुट के आधार पर ईडी ने कमलेश के ठिकानों पर दबिश दी। कमलेश मूल रूप से जमशेदपुर के सीतारामडेरा थाना क्षेत्र का निवासी है और लगभग डेढ़ दशक से रांची में रह रहा है। उसने कुछ वर्षों तक प्रेस फोटोग्राफर और इसके बाद क्राइम रिपोर्टर के रूप में काम किया। बाद में वह जमीन के धंधे से जुड़ गया।
ईडी ने उसे जमीन घोटाले में पूछताछ के लिए समन किया था, लेकिन वह हाजिर नहीं हुआ। इसके पहले कमलेश एक जमीन पर अवैध कब्जे के आरोप में जेल जा चुका है। रांची के जमीन घोटाले में ईडी ने अब तक पूर्व सीएम हेमंत सोरेन, रांची के तत्कालीन उपायुक्त छवि रंजन, झामुमो नेता अंतु तिर्की सहित कुल 22 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन अभियुक्तों से पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ है कि रांची में आदिवासियों की जमीन बड़े पैमाने पर हड़पी गई है और फर्जी कागजात बनाकर मनी लॉन्ड्रिंग की गई है।

Hindi News/ National News / जमीन कारोबारी के यहां इतनी नकदी की गिनने के लिए मंगानी पड़ी मशीन, कारतूस देखकर दंग रह गई ईडी

ट्रेंडिंग वीडियो