scriptAir Pollution In Delhi air Quality in Very Poor Category Reaches 387 Today | Air Pollution In Delhi: राजधानी में कड़ाके की ठंड के बीच गहराया सांसों का संकट, जानिए कहां पहुंचा AQI | Patrika News

Air Pollution In Delhi: राजधानी में कड़ाके की ठंड के बीच गहराया सांसों का संकट, जानिए कहां पहुंचा AQI

Air Pollution In Delhi राजधानी में लगातार हवा का स्तर खराब होता जा रहा है। बढ़ते प्रदूषण की वजह से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। गुरुवार को भी राजधानी में सांसों का संकट गहरा गया। ओवरऑल एयर क्वालिटी इंडेक्स 387 दर्ज किया गया जो बहुत खराब श्रेणी में आता है।

नई दिल्ली

Published: December 23, 2021 10:47:07 am

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण ( Air Pollution In Delhi ) ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। रोजाना जहरीली हवा राजधानीवासियों के लिए परेशानी के साथ-साथ बीमारियों की कारण भी बन रही है। खास बात यह है इन दिनों दिल्ली में कड़ाके की ठंड ( Delhi Weather ) पड़ रही है। बर्फीली हवाओं ( Cold Wave ) ने राजधानी में ठिठुरन बढ़ा दी है, इस बीच जहरीली हवा मौसम की दोहरी मार साबित हो रही। गुरुवार को भी दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक बहुत खरब रहा। हल्के कोहरे के साथ-साथ एक्यूआई स्तर खराब रहने से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।
Air Pollution In Delhi
सफर इंडिया के मुताबिक गुरुवार 23 दिसंबर को दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक ( Air Quality Index ) 387 दर्ज किया गया है। जो बहुत खराब श्रेणी में आता है। हालांकि सफर ने दो दिन पहले अनुमान जताया था कि हवा की गति में सुधार होने पर दिल्ली में एयर क्वालिटी अच्छी हो सकती है, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। पाबंदियां हटाए जाने के बाद सांसों पर संकट और गहरा गया।

यह भी पढ़ेँः Delhi Air Pollution: दिल्ली में पाबंदियों में छूट के बाद फिर दमघोंटू हुई हवा, जानिए कैसी है एयर क्वालिटी
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गुरुवार सुबह हल्का कोहरा छाया रहा। लोग खुद को गर्म रखने के लिए अलाव जलाते दिखाई दिए। दिल्ली के जंगपुरा और लाजपत नगर में लोगों ने अलाव के हाथ तापकर सर्दी से बचाव की कोशिश की। हालांकि सर्दी से बचाव के लिए लोग अलाव का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन इससे भी धुआं बढ़ने से हवा की क्वालिटी और खराब होने का खतरा बढ़ जाता है।
आमतौर पर दिल्ली में सर्दी के मौसम में लोग खराब हवा या फिर प्रदूषण का सामना करते ही है, लेकिन इस बार दिवाली के बाद से ही दिल्लीवासियों को बड़ी राहत नहीं मिली है। हालांकि इसको लेकर सुप्रीम कोर्ट ने भी कई बार केंद्र से लेकर राज्य सरकारों को फटकार लगाई है, लेकिन कुछ फौरी राहत के अलावा ज्यादा असर देखने को नहीं मिला।
यह भी पढ़ेँः Delhi Weather News Updates Today: शीतलहर की चपेट में राजधानी, जानिए अभी और कितने दिन जारी रहेगा सर्दी का सितम

सुस्त हवा से बढ़ी परेशानी


मौसम विभाग के मुताबिक सुस्त हवाओं की रफ्तार के चलते प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। दरअसल हवा की रफ्तार तेज होने पर वातावरण में घुले प्रदूषक कणों का बिखराव तेज हो जाता है। हवा शांत रहने पर प्रदूषक कण ज्यादा देर तक हवा में बने रहते हैं। ऐसे में हवा की गति में तेजी आने पर प्रदूषण से राहत मिलने के आसार हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

क्या सच में बुझा दी गई अमर जवान ज्योति? केंद्र सरकार ने दिया जवाबVideo: बॉम्बे हाई कोर्ट के जज के चैंबर में मिला 5 फीट लंबा सांप, वन विभाग की टीम ने किया रेस्क्यूदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारUP Assembly Elections 2022 : एकाएक राजनीति में उतरकर इन महिलाओं ने सबको चौंकाया, बटोरी सुर्खियांभारत के इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में Adani Group की हो सकती है धमाकेदार एंट्री, कंपनी ने ट्रेडमार्क किया दायरशहीद हेमू कालाणी: आज भी हैं युवा वर्ग के लिए आदर्शपश्चिम बंगाल में टीबी के मरीजों की संख्या पहले से तीन गुना अधिकअब राजसमंद संसदीय क्षेत्र में होगा कई ट्रेनों का ठहराव, दीया कुमारी कर रही थी डिमांड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.