भारत में 86% बैटरी निर्मित की जा रही हैं, भविष्य में सौ प्रतिशत तक पहुंचेंगे: नितिन गडकरी

केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि बैटरी क्षमता में, हम सफल होंगे। आने वाले समय में कई तरह के ईंधन विकल्प होंगे।

By: Mohit Saxena

Published: 17 Sep 2021, 09:36 PM IST

नई दिल्ली। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार एक बयान में कहा कि देश में आने वाले समय में कई तरह के ईंधन विकल्प होंगे।

हम इथेनॉल, मेथनॉल, बायोडीजल, बायो-सीएनजी, इलेक्ट्रिक, एलएनजी और ग्रीन हाइड्रोजन पर काम कर रहे हैं। लिथियम-आयन बैटरी, सोडियम-आयन बैटरी, जिंक ऑयल, एल्युमीनियम ऑयल, स्टील ऑयल पर काम जारी है।

ये भी पढ़ें: राघव चड्ढा ने नवजोत सिद्धू पर किया हमला, कहा-पंजाब राजनीति के राखी सावंत

इनके उपयोग से पेट्रोल पर निर्भरता पूरी तरह से खत्म होगी। लोगों को नए विकल्प मिल सकेंगे। उन्होंने कहा कि देश में सबसे ज्यादा बैटरी क्षमता को बढ़ावा देने की जरूरत है।

 

 

 

 

 

 

इलेक्ट्रिक वाहनों का विनिर्माण हब बनेंगे

नितिन गडकरी ने कहा कि बैटरी क्षमता में, हम सफल होंगे। 86% बैटरी भारत में निर्मित की जा रही हैं और भविष्य में हम इसे 100% तक ले जाएंगे। हम इलेक्ट्रिक वाहनों का विनिर्माण हब बनेंगे और उन्हें दुनिया को निर्यात करेंगे। गौरतलब है कि इस समय पेट्रोल के दाम आसमान छू रहे हैं।

नए विकल्प सामने आएंगे

इससे देश में महंगाई दर लगातार बढ़ती जा रही है। शुक्रवार को ईंधन विकल्प पर पूछे एक सवाल पर नितिन गडकरी ने उम्मीद जताई है कि देश में जल्दी नए विकल्प सामने इसकी मदद से ईंधन सस्ता होगा। साथ ही ट्रांसपोर्ट का खर्च कम हो जाएगा। उन्होंने कहा कि देश में बैटरी को लेकर नई-नई परियोजनाएं सामने आ रही हैं।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned