scriptBharat Biotech announces Covaxin Production Slowed Down | कम होगा कोवैक्सीन का प्रोडक्शन, भारत बायोटेक ने बताई वजह | Patrika News

कम होगा कोवैक्सीन का प्रोडक्शन, भारत बायोटेक ने बताई वजह

Bharat Biotech ने घोषणा की है कि वो COVAXIN के निर्माण को धीमा करेगी और कंपनी की अन्य आवश्यकताओं को पूरा करने पर फोकस करेगी। आखिर Bharat Biotech को ये ऐसा निर्णय क्यों लेना पड़ा इसे अपने पोस्ट में कंपनी ने विस्तार से बताया है।

Updated: April 02, 2022 11:41:26 am

फार्मा कंपनी Bharat Biotech ने शुक्रवार को घोषणा की कि वो COVAXIN पर्डक्शन को कम करने वाले हैं। कंपनी ने कहा है कि उसने एजेंसियों को अपनी आपूर्ति दायित्वों को पूरा करने और मांग में कमी को देखते हुए ये निर्णय लिया है। इसके अलावा वो उनकी आवश्यक सुविधाओं को पूरा करने ओर फोकस करेगी जो काफी समय से लंबित है।
Bharat Biotech announces Covaxin Production Slowed Down
Bharat Biotech announces Covaxin Production Slowed Down
क्या कहा भारत बायोटेक?
भारत बायोटेक ने एक बयान जारी कर इस बात की घोषणा की। अपने बयान में भारत बायोटेकने कहा, ***** भारत बायोटेक आज घोषणा करता है कि वो COVAXIN के प्रोडक्शन को धीमा करेगा।एजेंसियों की आपूर्ति से जुड़ी जो भी मांग थी उसे हमने पूरा कर लिया है। अब चूंकि मांग में भी कमी आई है इसलिए कंपनी लंबित सुविधा रखरखाव, प्रक्रिया और सुविधा अनुकूलन गतिविधियों पर फोकस करेगी।

अच्छे इक्विपमेंट की आवश्यकता पर करेंगे फोकस
कंपनी ने आगे लिखा, "पिछले साल कई बेहतर Equipment की आवश्यकता थी वैक्सीन के निर्माण के लिए लेकिन पूरी नहीं की जा सकी थी। हालांकि, वैक्सीन के निर्माण और उसकी गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं किया गया।"
Bharat Biotech की डब्ल्यूएचओ टीम के साथ सहमति
भारत बायोटेक ने ये भी बताया कि हाल ही में WHO के पोस्ट EUL निरीक्षण के दौरान, Bharat Biotech ने डब्ल्यूएचओ टीम के साथ नियोजित सुधार गतिविधियों के दायरे पर सहमति व्यक्त की और संकेत दिया कि उन्हें जल्द से जल्द प्रैक्टिकली लागू किया जाएगा।"

COVAXIN को WHO से अनुमति मिलने में डाली गई बाधा
बता दें स्वदेशी वैक्सीन COVAXIN कोरोना के खिलाफ 77.8 फीसदी प्रभावी रही है जिसकी जानकारी मेडिकल जर्नल लैंसेट में प्रकाशित हुए स्टडी से मिली है। इसके बावजूद कई बाहरी ताकतों ने मेड इन इंडिया वैक्सीन – Covaxin को WHO की अनुमति ना मिले इसके भरपूर प्रयास किये थे जिसपर चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एन.वी. रमण ने भी प्रकाश डाला था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Gyanvapi Masjid Case: ज्ञानवापी में शिवलिंग के दावे के बीच आज सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई, वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई कोExclusive: ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट मेंGood News: AIIMS दिल्ली में अब 300 रुपए तक के टेस्ट होंगे मुफ्तIPL 2022, RCB vs GT: Virat Kohli का तूफान, RCB ने जीता मुकाबला, प्लेऑफ की उम्मीदों को लगे पंखBRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारत के विदेश मंत्री जयशंकर ने उठाया आतंकवाद का मुद्दाअफगानिस्तान में तालिबान का नया फरमान- महिला टीवी एंकर चेहरा ढककर पढ़ें खबरअमेरिकी राष्ट्रपति Biden के लिए महाराष्ट्र और आंध्र से गिफ्ट में जाएंगे आमसीएम मान ने अमित शाह से मुलाकात के बाद कहा-पंजाब में तैनात होंगे 2,000 और सुरक्षाकर्मी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.