script बिहार विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पास, विश्वास मत से पहले हटाए गए अवध चौधरी | Bihar Floor Test Live: Nitish Kumar Trust Vote Soon No Confidence Motion Against Bihar Speaker Resigns Tejaswi yadav | Patrika News

बिहार विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पास, विश्वास मत से पहले हटाए गए अवध चौधरी

locationनई दिल्लीPublished: Feb 12, 2024 01:37:04 pm

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

Bihar Floor Test Updates: नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के नेतृत्व वाली बिहार (Bihar) सरकार के बहुमत परीक्षण से पहले राजनीतिक खेल (Political Game) जारी है। तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) के तीन विधायकों को तोड़कर विधानसभा अध्यक्ष को ही पद से हटा दिया है।

Bihar Floor Test Live:  Nitish Kumar Trust Vote Soon No Confidence Motion Against Bihar Speaker Resigns Tejaswi yadav

Bihar Floor Test Updates: नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के नेतृत्व वाली बिहार (Bihar) सरकार के बहुमत परीक्षण से पहले राजनीतिक खेल (Political Game) जारी है। विधानसभा में सोमवार को बहुमत परीक्षण से पहले अविश्वास प्रस्ताव लाकर विधानसभा अध्यक्ष अवध चौधरी को ही पद से हटा दिया गया। अवध चौधरी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव सदन में ध्वनिमत से पारित हो गया। अवध चौधरी के बाद उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने विधानसभा का संचालन किया।

आरजेडी के तीन विधायकों ने पाला बदला


बिहार में राजनीतिक धमाचौकड़ी के बीच राष्ट्रीय जनता दल के तीन विधायकों ने पाला बदल लिया है। तीन विधायक भारतीय जनता पार्टी के साथ चले गए हैं। इसमें प्रह्लाद यादव, नीलम सिंह और चेतन आनंद का नाम शामिल है। इन तीनों ने विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ आए आज अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ मतदान किया।

बाहुबली आनंद मोहन के पुत्र ने कर दिया खेल

गौरतलब है कि चेतन आनंद बाहुबली आनंद मोहन के पुत्र हैं। बाहुबली आनंद मोहन को जेल से निकलवाने के लिए जेल के मैनुअल में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बदलाव कराया था। यह आनंद मोहन डीएम कृष्णनैया हत्याकांड के मुख्य आरोपी हैं। तीनों विधायकों के पाला बदलने पर तेजस्वी यादव ने कहा कि हम सत्ता पक्ष के साथ नहीं बैठ सकते हैं। अब देखना दिलचस्प होगा कि इन विधायकों के खिलाफ तेजस्वी क्या कार्रवाई करते हैं।

ये है बिहार में बहुमत का आंकड़ा



विधानसभा में सदस्यों का आंकड़ा देखे तो एनडीए के पास समर्थन दिखाई दे रहा है। सत्ता पक्ष के पास भाजपा के 78, जदयू के 45, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के चार और एक निर्दलीय सहित 128 विधायकों का समर्थन होने का दावा किया जा रहा है, जबकि विपक्ष के पास राजद के 79, कांग्रेस के 19, वामपंथी दलों के 16 और एआईएमआईएम के एक विधायक सहित 115 का समर्थन है।

ट्रेंडिंग वीडियो