script Election Result 2023 : सीएम बघेल ने लिखी पीएम मोदी को चिट्ठी, जानिए चिट्ठी में क्या है जो हो गया हंगामा | Chhattisgarh CM Bhupesh Baghel Writes PM Narendra Modi Ban Online Gambling Batting Platform Like MahaDev App | Patrika News

Election Result 2023 : सीएम बघेल ने लिखी पीएम मोदी को चिट्ठी, जानिए चिट्ठी में क्या है जो हो गया हंगामा

locationनई दिल्लीPublished: Dec 02, 2023 02:32:42 pm

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

Chhattisgarh Assembly Election Result 2023 CM Bhupesh Baghel : छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव भले ही समाप्त हो गया है लेकिन राजनीति अपने चरम पर जारी है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आनलाइन बेटिंग एप्स पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है

chhattisgarh_cm_bhupesh_baghel_writes_pm_narendra_modi_ban_online_gambling_batting_plateform.png

Chhattisgarh Assembly Election Result 2023 CM Bhupesh Baghel : छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव भले ही समाप्त हो गया है लेकिन राजनीति अपने चरम पर जारी है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आनलाइन बेटिंग एप्स पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। इस संबंध में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक पत्र लिखा है। इसकी जानकारी भी उन्होंने अपने एक्स पोस्ट पर दी है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक्स पर एक पोस्ट में लिखा है कि 'प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर ऑनलाइन बेटिंग के अवैध कारोबार से जुड़ी वेबसाइट्स, एपीके, टेलीग्राम, इंस्टाग्राम अकाउंट्स, यूआरएल पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की मांग की है। ऑनलाइन बेटिंग, गेमिंग के माध्यम से अवैध जुआ एवं सट्टा कारोबार का देशव्यापी विस्तार हुआ है। विदेशों में बैठकर इसके संचालक अवैध कारोबार कर रहे हैं'

गौरतलब है कि महादेव बेटिंग एप्स मामले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर आरोप लगा था। उस समय तो हंगामा ही हो गया जब महादेव बेटिंग ऐप के मुख्य आरोपी शुभम सोनी ने यह दावा किया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उसे दुबई में जुए का व्यापार खड़ा करने के लिए प्रोत्साहित किया। वह अपने सहयोगियों के लिए रिहा करने के लिए मुख्यमंत्री के पास गया था। इसके लिए उसने कुल 508 करोड़ रुपए का भुगतान भी किया।

ईडी ने बनाए हैं 14 आरोपी
महादेव बेटिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने 14 लोगों को आरोपी बनाया है। इसमें इस एप के प्रमोटर सौरभ चंद्राकर, रवि उप्पल,एसआई चंद्रभूषण वर्मा, कांस्टेबल भीम सिंह, सतीश चंद्राकर, हवाला ऑपरेटर्स दमानी भाई और आसिम दास शामिल हैं। कई लोगों को ईडी ने हिरासत में भी लिया है। यह घोटाला करीब छह हजार करोड़ का बताया जा रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो