scriptCongress expels Acharya Pramod Krishnam for anti-party remarks Know Pm Modi Connection | आचार्य प्रमोद कृष्णम कांग्रेस से छह साल के लिए निष्काषित, पीएम मोदी से एक फरवरी को की थी मुलाकात | Patrika News

आचार्य प्रमोद कृष्णम कांग्रेस से छह साल के लिए निष्काषित, पीएम मोदी से एक फरवरी को की थी मुलाकात

locationनई दिल्लीPublished: Feb 10, 2024 11:33:29 pm

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

Acharya Pramod Krishnam Expelled: : श्री कल्कि धाम प्रमुख और कांग्रेस (Congress) नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम को कांग्रेस पार्टी ने तत्काल प्रभाव से निष्कासित कर दिया गया है। 1 फरवरी को प्रमोद कृष्णम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm Modi)को “श्री कल्कि धाम” में होने वाले शिलान्यास में आमंत्रित करने के लिए मिलने गए थे।

Congress expels Acharya Pramod Krishnam for anti-party remarks Know Pm Modi Connection

Acharya Pramod Krishnam Expelled: : श्री कल्कि धाम प्रमुख और कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम को कांग्रेस पार्टी ने तत्काल प्रभाव से निष्कासित कर दिया गया है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने पत्र जारी करते हुए लिखा है कि अनुशासनहीनता की शिकायतों और पार्टी के खिलाफ बयानबाजी को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रमोद कृष्णम को तत्काल प्रभाव से छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित करने के लिए उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रस्ताव को मंजूरी देती है।

गौरतलब है कि 1 फरवरी को प्रमोद कृष्णम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को “श्री कल्कि धाम” में होने वाले शिलान्यास में आमंत्रित करने के लिए मिलने गए थे। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की और तस्वीरें शेयर करते हुए सोशल मीडिया पर लिखा है कि 19 फ़रवरी को आयोजित “श्री कल्कि धाम” के शिलान्यास समारोह में भारत के यशस्वी प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ, मेरे इस पवित्र “भाव”को स्वीकार करने के लिये माननीय प्रधानमंत्री का हार्दिक आभार एवं साधुवाद।

आचार्य प्रमोद कृष्णम ने राम मंदिर शिलान्यास से पहले कहा था कि भगवान श्रीराम को किसी एक पार्टी के साथ जोड़कर देखना ठीक नहीं है। न राम भाजपा के हैं, न आरएसएस के हैं और न ही कांग्रेस के हैं। हमारी लड़ाई भारतीय जनता पार्टी से है। राम मंदिर से नहीं है। वह 22 फरवरी को प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम में भी पहुंचे थे। उन्होंने राहुल गांधी की न्याय यात्रा को भी पर्यटन बता दिया था।

congress_expels_acharya_pramod_krishnam_for_anti_party_remarks.png

ट्रेंडिंग वीडियो