scriptDCGI Gives Permission to Bharat Biotech for Intranasal Booster Dose Trials | DCGI ने भारत बायोटेक को इंट्रानैसल बूस्टर डोज के ट्रायल की दी मंजूरी, 9 जगहों पर होंगे परीक्षण | Patrika News

DCGI ने भारत बायोटेक को इंट्रानैसल बूस्टर डोज के ट्रायल की दी मंजूरी, 9 जगहों पर होंगे परीक्षण

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया यानी DCGI ने भारत बायोटेक को उसकी नाक से दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन की बूस्टर खुराक के परीक्षण की इजाजत दे दी है। बताया जा रहा है कि ये परीक्षण 9 जगहों पर किया जाएगा।

नई दिल्ली

Published: January 28, 2022 02:44:52 pm

कोरोना वायरस से जंग के बीच लगातार भारत वैक्सीनेशन पर जोर दे रहा है। देश में 162 करोड़ से ज्यादा कोरोना की टीके की खुराक दी जा चुकी हैं। इस बीच एक और बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया यानी DCGI ने भारत बायोटेक को उसकी नाक से दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन की बूस्टर खुराक के परीक्षण की इजाजत दे दी है। माना जा रहा है कि, इस इंट्रा नैजल वैक्सीन की खुराक के जरिए देश में जारी कोरोना के खिलाफ जंग से निपटने में मदद मिलेगी। नाक से दी जाने वाली इस कोरोना वैक्सीन का परीक्षण देश में 9 जगहों पर किया जाएगा।
DCGI Gives Permission to Bharat Biotech for Intranasal Booster Dose Trials
DCGI Gives Permission to Bharat Biotech for Intranasal Booster Dose Trials
भारत बायोटेक ने स्वदेशी वैक्सीन कोवाक्सिन का निर्माण कर देश में इस महामारी के खिलाफ जंग में बड़ी कामयाबी हासिल की है। हाल में डीसीजीआई ने भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को बाजारों में बिक्री की मंजूरी भी दी है। हालांकि ये मंजूरी कुछ शर्तों के साथ दी गई है। इसके तहत ये वैक्सन मेडिकल स्टोर पर नहीं मिलेगी बल्कि निजी और सरकारी अस्पतालों में दी जाएगी।

यह भी पढ़ें

बाजारों में बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगी Covidshield और Covaxin, शर्तों के साथ DCGI ने दी मंजूरी

भारत बायोटेक कंपनी अब बूस्टर खुराक के लिए नाक से दी जाने वाली वैक्सीन बना रही है। इसको लेकर कंपनी को पहली सफलता भी मिल गई है। इसके तहत कंपनी को बूस्टर डोज के इंट्रानैसल का ट्रायल कर करने की मंजूरी मिल गई है। बताया जा रहा है कि कंपनी देश के 9 जगहों पर इसके परीक्षण करेगी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भारत बायोटेक ने अपनी नैजल वैक्सीन BBV154 को पहले से टीका ले चुके लोगों को बूस्टर डोज के तौर पर उपयोग करने का प्रस्ताव दिया है। वहीं डीसीजीआई की ओर से भारत बायोटेक से तीन हफ्ते पहले मंजूरी के लिए प्रोटोकॉल जमा करने को कहा गया था।
यह भी पढ़ें

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- अभी कोरोना का खतरा बरकरार, 11 राज्यों में 50 हजार से ज्यादा एक्टिव केस



बता दें कि कोरोना वायरस से जंग के बीच इंट्रानैसल कोविड-19 बूस्टर भारत में इस तरह का पहला हथियार है। ऐसा माना जाता है कि इंट्रानैसल वैक्सीन में ओमिक्रॉन सहित कोरोना वायरस के विभिन्न वेरिएंट को फैलने से रोकने की क्षमता होती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.