केजरीवाल बोले, चयन के बदले सेक्स मांगते हैं अफसर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के एक अधिकारी पर आरोप लगाए हैं कि उसने क्रिकेट खिलाडिय़ों के चयन के बदले यौन संबंधों की मांग की।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के एक अधिकारी पर आरोप लगाए हैं कि उसने क्रिकेट खिलाडिय़ों के चयन के बदले यौन संबंधों की मांग की। यह दावा केजरीवाल ने एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान किया।

केजरीवाल ने क्या आरोप लगाए?

- डीडीसीए के एक अधिकारी पर क्रिकेट खिलाडिय़ों के चयन के बदले यौन संबंधों की मांग करने का आरोप लगाया।  

- केजरीवाल ने बताया कि एक वरिष्‍ठ पत्रकार की पत्‍नी से करीब एक माह पहले एक डीडीसीए अधिकारी ने रात के समय उसके घर आने को कहा था। हालांकि केजरीवाल ने फिलहाल पत्रकार और अधिकारी के नाम का खुलासा नहीं किया है।

- केजरीवाल ने कहा कि वित्तीय अनियमितताओं के अलावा, सेक्स रैकेट सहित कई गलत चीजें हो रही हैं।

PM मोदी को कायर और मनोरोगी कहने का कोई मलाल नहीं
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को अपने उस बयान पर बिल्कुल भी पछतावा नहीं है, जिसमें उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को कायर और मनोरोगी बताया था। केजरीवाल ने स्वीकार किया कि उन्होंने खराब भाषा का प्रयोग किया था, लेकिन कहा कि उन्हें किसी चीज का मलाल नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि वह दिल से बोलते हैं। प्रधानमंत्री मोदी लच्छेदार भाषा बोलते हैं, लेकिन उनके कृत्य अच्छे नहीं हैं।

सीबीआई से नहीं लगता डर

मुख्यमंत्री ने एक बार फिर पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी ने उनके दफ्तर पर रेड मरवाई। मोदी को घोटालेबाज नजर नहीं आते, उन्हें सिर्फ केजरीवाल ही भ्रष्टाचारी नजर आते हैं। केजरीवाल ने कहा कि उन्हें सीबीआई से डर नहीं लगता है। उन्होंने अपने खिलाफ कोई भी जांच करा लेने की चुनौती दी। केजरीवाल ने पिछले दिनों दिल्ली सरकार के प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार के कार्यालय पर सीबीआई की छापेमारी के बाद ट्विटर पर पीएम मोदी के लिए इन आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था।

लड़ाई नहीं चाहते
केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने पीएम से मुलाकात कर कहा था कि हम आपके बच्चे जैसे हैं, हमें गाइड कीजिए। हम लड़ाई नहीं, सिर्फ काम करना चाहते हैं। केजरीवाल ने कहा कि मुलाकात के दौरान उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान के तहत दिल्ली को चमकाने और सारा क्रेडिट पीएम को देने की बात कही थी। मुख्यमंत्री ने पीएम के स्किल इंडिया अभियान पर कहा कि वह दिल्ली वालों को रोजगार देंगे और सारा क्रेडिट पीएम को देंगे। वह सिर्फ काम करना चाहते हैं, क्रेडिट लेना नहीं।

भूतों ने किया भ्रष्टाचार
केजरीवाल ने कहा कि डीडीसीए से जुड़ी फाइल में कई ऐसी चीजें हैं जो लोग नहीं जानते हैं। उन्होंने कहा कि डीडीसीए में भ्रष्टाचार के बारे में वित्त मंत्री अरुण जेटली को बताया था। लेकिन जब इस करप्शन के बारे में सार्वजनिक रूप से कहा तो जेटली ने मानहानि का मुकदमा कर दिया। डीडीसीए में भ्रष्टाचार मामले में जेटली का नाम न आने के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि किसी भी जांच रिपोर्ट में कभी किसी का नाम नहीं लिया गया। उन्होंने ताना मारते हुए कहा कि भ्रष्टाचार हुआ, लेकिन भूतों ने किया।





Show More
kamlesh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned