scriptExcept Aditya Thackeray, all Ministers of Shiv Sena joins rebels | Maharashtra Political Crisis: आदित्य को छोड़ शिवसेना के सारे MLA Minister हुए बागी, उद्धव ठाकरे के साथ बचे सिर्फ MLC मंत्री | Patrika News

Maharashtra Political Crisis: आदित्य को छोड़ शिवसेना के सारे MLA Minister हुए बागी, उद्धव ठाकरे के साथ बचे सिर्फ MLC मंत्री

एक तरफ जब शिवसेना 16 बागी विधायकों की अयोग्यता पर कार्रवाई करने की बात कर रही है, उसी समय उसके एक और विधायक तथा कैबिनेट मंत्री उदय सामंत भी एकनाथ शिंदे खेमे में शामिल हो गए हैं। सामंत ने अपने अध्यक्ष और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भाग लेने के एक दिन बाद ही रविवार को गुवाहाटी, असम के लिए उड़ान भरी। उनके दलबदल से शिंदे के खेमे में शिवसेना विधायकों की ताकत बढ़कर 39 हो गई है।

जयपुर

Published: June 27, 2022 10:53:10 am

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना को रविवार को एक और झटका लगा जब उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत, जो रत्नागिरी जिले से आते हैं, एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले विद्रोही खेमे में शामिल हो गए। वह बागियों में शामिल होने वाले नौवें मंत्री हैं। सामंत, जो पिछले कुछ दिनों से मुंबई में थे और शिवसेना के सभी मंथन में हिस्सा लिया था, अचानक सूरत के लिए रवाना हो गए और वहां से गुवाहाटी के लिए उड़ान भरी। इसके बाद, अब, पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे, जो वर्ली विधानसभा क्षेत्र से चुने गए हैं, राज्य विधानसभा से आने वाले सीएम उद्धव ठाकरे के साथ शिवसेना के अकेले कैबिनेट मंत्री हैं। बता दें उद्धव ठाकरे खुद राज्य परिषद के लिए चुने गए थे।
aditya_thackeray.jpg
बचे मंत्रियों में सभी हैं MLC

शिवसेना के अन्य कैबिनेट मंत्रियों में सुभाष देसाई और अनिल परब शामिल हैं जो राज्य परिषद से हैं। एक अन्य कैबिनेट मंत्री शंकरराव गंडख क्रांतिकारी शेतकारी से चुने गए।
शिंदे खेमे में पहुंचे 9 मंत्री

दूसरी ओर, विद्रोही खेमे के 9 मंत्रि और 30 विधायक शामिल हैं। बागी हो चुके विधायक मंत्रियों के नाम इस प्रकार हैं -

1.एकनाथ शिंदे, शहरी विकास और लोक निर्माण मंत्री
2. दादाजी भूसे, कृषि मंत्री

3. गुलाबराव पाटिल, जल आपूर्ति और स्वच्छता मंत्री

4. संदीपन भुमरे, रोजगार गारंटी और बागवानी मंत्री

5. उदय सामंत, उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री

6. शंभूराज देसाई, गृह राज्य मंत्री (ग्रामीण) के साथ वित्त और योजना, राज्य उत्पाद शुल्क, विपणन, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री
7. अब्दुल सत्तार, राजस्व, ग्रामीण विकास, बंदरगाह, खार भूमि विकास और विशेष सहायता राज्य मंत्री

8. राजेंद्र पाटिल यद्रवकर, लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, खाद्य एवं औषधि प्रशासन, कपड़ा, संस्कृति मामलों के राज्य मंत्री
9. बच्चू कडू, जल संसाधन (सिंचाई) और कमान क्षेत्र विकास, स्कूल शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, श्रम, ओबीसी-एसईबीसी-एसबीसी-वीजेएनटी कल्याण राज्य मंत्री

इसके अलावा शिंदे खेमे में प्रहार जनशक्ति के दो विधायक और सात निर्दलीय समेत शिवसेना के 30 और विधायकों के समर्थन का दावा किया है। दूसरी ओर, राज्य विधानसभा में कुल 55 विधायकों में से केवल 16 विधायक ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना के पास बचे हैं।
शिवसेना भवन क्षेत्र का विधायक भी बागी

इसके पहले बुधवार 22 जून को शिंदे खेमे में शामिल होने वालों में माहिम विधायक सदा सर्वंकर भी शामिल थे। सदा सर्वंकर का दलबदल इस बात का संकेत माना जा रहा है कि शिवसेना नेतृत्व के प्रति नाराजगी कितनी गहरी है। सर्वंकर प्रतिष्ठित माहिम निर्वाचन क्षेत्र से विधायक हैं। यह सीट शिवसेना के लिए बेहद खास है। दरअसल शिवसेना भवन और शिवाजी पार्क भी माहिम निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं जहां बाला ठाकरे ने शिवसेना की स्थापना की थी।
राजनीतिक पर्यवेक्षकों का कहना है कि शिंदे खेमे से सरवनकर का जाना नेतृत्व के खिलाफ विधायकों के बीच असंतोष को दर्शाता है, खासकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उद्धव के बेटे, पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे के प्रति अंसतोष। उनकी कार्यशैली के प्रति असंतोष। यह ठाकरे के विधायकों के साथ-साथ पार्टी में युवा सेना (Youth Shiv Sainik Unrest) के नेताओं के उदय के खिलाफ बढ़ते असंतोष को भी उजागर करता है।
शिवसेना का दिल है दादर
“सर्वंकर का बाहर निकलना बहुत महत्वपूर्ण बताया जा रहाद है। वह दादर से हैं जो शिवसेना का दिल या नब्ज है। अगर दादर का एक विधायक नाखुश है और अब नेतृत्व के साथ नहीं रहना चाहता है, तो यह दिखाता है कि सीएम के खिलाफ कितना असंतोष था। वैसे भी बागी खेमे का आरोप है कि सीएम को एक ऐसे गुट या भीड़ ने घेर लिया, जिसने विधायकों को उनके पास नहीं पहुंचने दिया। क्या कोई कल्पना करेगा कि दादर से विधायक होने के नाते, सर्वंकर की भी सीएम तक पहुंच नहीं थी। लेकिन अब उनका जाना इस बात का संकेत है कि वह भी आइसोलेशन में थे।बता दें, मुंबई में शिवसेना के 13 विधायक हैं, जिनमें से आदित्य को छोड़कर किसी को भी एमवीए सरकार में मंत्री नहीं बनाया गया था। वहीं अनिल परब और सुभाष देसाई जैसे एमएलसी को मंत्री बनाया गया।
सीएम खुद हैं MLC

शिवसेना ने उद्धव ठाकरे को मुंबई से राज्य के पहले मुख्यमंत्री के रूप में खड़ा किया था। सीएम पद की शपथ लेने के बाद सीएम ठाकरे खुद एमएलसी बन गए। अब मुंबई के कम से कम तीन अन्य विधायक - प्रकाश सुर्वे (मगथाने), मंगेश कुडलकर (कुर्ला) और यामिनी जाधव (भायखला) ने भी उद्धव खेमे का साथ छोड़ दिया है, जो बीएमसी चुनावों में शिवसेना को नुकसान पहुंचा सकता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar News: तेज प्रताप भी बन सकते हैं मंत्री, बिहार में 16 अगस्त को मंत्रिमंडल विस्तारBilkis Bano Gang Rape: आजीवन कारावास की सजा काट रहे सभी 11 दोषी रिहा, राज्य सरकार की माफी योजना के तहत जेल से आए बाहरIndependence Day 2022: भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर इन देशों ने दी बधाईयां और कही ये बातKarnataka News: शिवमोग्गा में सावरकर के पोस्टर को लेकर बढ़ा विवाद, धारा 144 लागूसिंगर राहुल जैन पर कॉस्ट्यूम स्टाइलिस्ट के साथ रेप का आरोप, मुंबई पुलिस ने दर्ज की एफआईआरशख्स के मोबाइल पर गर्लफ्रेंड ने भेजा संदिग्ध मैसेज, 6 घंटे लेट हुई इंडिगो की फ्लाइट, जाने क्या है पूरा मामलासिर्फ 'हर घर' ही नहीं, 'स्पेस' में भी लहराया 'तिरंगा', एस्ट्रोनॉट राजा चारी ने अंतरिक्ष स्टेशन पर लहराते झंडे की शेयर की तस्वीरबिहार : नीतीश कुमार का बड़ा ऐलान, 20 लाख युवाओं को देंगे नौकरी और रोजगार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.