scriptFarmer protest increases tension in Punjab supply of diesel and gas reduced | किसान आंदोलन ने पंजाब की बढ़ाई टेंशन, डीजल और गैस की सप्लाई हुई कम | Patrika News

किसान आंदोलन ने पंजाब की बढ़ाई टेंशन, डीजल और गैस की सप्लाई हुई कम

locationनई दिल्लीPublished: Feb 13, 2024 06:35:39 pm

Submitted by:

Shivam Shukla

Farmers protest: किसानों के आंदोलन ने पंजाब की टेंशन बढ़ा दी है। सामने आई जानकारी के मुताबिक, पंजाब में डीजल और गैस की आपूर्ति को कम कर दिया गया है।

Farmers protest

पंजाब और हरियाणा समेत देश के हजारों किसान दिल्ली कूच कर चुके हैं। किसानों को राजधानी में घुसने से रोकने के लिए दिल्ली से सटी सभी सीमाओं पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। इसके साथ ही प्रशासन ने कई तरह के इंतजाम किए गए हैं। हालांकि किसानों पर इसका कोई असर नहीं दिख रहा है। किसानों के आंदोलन का असर अब जरूरी आपूर्ति पर पड़ना शुरू हो गया है। पंजाब में डीजल और गैस की सप्लाई कम कर दी गई है। सूत्रों के मुताबिक, किसानों के विरोध प्रदर्शन के कारण पंजाब में पचास फीसदी कम डीजल और बीस फीसदी कम गैस भेजी जाएगी। ऐसा इस लिए किया गया है कि डीजल की कम आपूर्ति से ट्रैक्टर के पहिए रुक जाएंगे। इसके साथ गैसे की कम सप्लाई से इसका दुरुपयोग कम होगा।

किसानों पर ड्रोन से दागे जा रहे आंसू गैस के गोले

बता दें कि पंजाब-हरियाणा शंभू बार्डर (Shambu Border) के बाद खनौरी बार्डर पर बने पुल पर बड़ी संख्या में किसान पहुंच गए हैं। किसानों का आंदोलन (Farmer Protest 2.0) जंग जैसे हालत में पहुंच गया है। किसानों को तितर बितर करने के लिए पुलिस लगातार आंसू गैस से गोले दाग रही है। यह पहली बार है कि किसान आंदोलन में पुलिस ड्रोन से आंसू गैस के गोले छोड़ रही है। किसान नेता सरवन सिंह पंधेर का कहना है कि सभी किसान कंट्रोल में हैं। पुलिस आंसू गैस के गोले छोड़ रही है। हम इसकी निंदा करते हैं।

ये है किसानों की मांग

बता दें कि किसान केंद्र सरकार से स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करने, किसानों और खेत मजदूरों के लिए पेंशन स्कीम लाने की मांग कर रहे हैं। इसके साथ ही कृषि ऋण माफी और 2020/21 के विरोध प्रदर्शन के दौरान दर्ज पुलिस मामलों को वापस लिए जाने के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो