script"Fetal sex" screening gang busted in Odisha, 13 arrested | ओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तार | Patrika News

ओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तार

Odisha "sex determination racket": ओडिशा में पुलिस ने "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़ कर 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। छापेमारी के दौरान वहां 11 गर्भवती महिलाएं मौजूद थी। वहीं इस छापेमारी में पुलिस ने आशा कार्यकर्ता को भी गिरफ्तार किया है।

 

Published: May 28, 2022 10:51:12 am

Odisha "sex determination racket":ओडिशा की बरहामपुर पुलिस ने एक "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने छापेमारी करते हुए मुख्य आरोपी और एक आशा कार्यकर्ता सहित 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। बरहामपुर पुलिस अधीक्षक सरवण विवेक एम ने बताया कि पुलिस ने अंतरराज्यीय अल्ट्रासाउंड रैकेट चलाने के आरोप में 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। यह गर्भवती महिला के भ्रूण में पल रहे बच्चों के बारे में पता करते थे कि वह लड़का है या लड़की। इसके साथ ही पुलिस अधीक्षक ने बताया कि भ्रूण में लड़की पाई जाने के बाद यहां गर्भपात की भी व्यवस्था थी। गिरफ्तार किए गए सभी लोगों की पहचान करके आगे की कार्रवाई की जा रही है।
fetal-sex-screening-gang-busted-in-odisha-13-arrested.jpg
पुलिस ने छापेमारी के दौरान अल्ट्रासाउंड जांच मशीन, कनेक्टर, एक LOGIQ-e मेक अल्ट्रासाउंड मशीन, एक लैमिनेटेड LOGIQ बुक, XP अल्ट्रासाउंड मशीन इसके साथ ही अल्ट्रासाउंड के लिए यूज होने वाला अल्ट्रासाउंड ट्रांसमिशन जेल व 18 हजार 2 सौ रुपए नगद और एक मोबाइल जब्त किया है।
 

रंगेहाथ पकड़ा गया आरोपी

पुलिस ने बताया कि उन्हें "भ्रूण लिंग" परीक्षण के बारे में सुचना मिली थी, जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी की। छापेमारी के दौरान आरोपी "भ्रूण लिंग" परीक्षण करते हुए रंगेहाथ पकड़ा गया है। वहीं घर की पहली मंजिल पर 11 गर्भवती महिलाएं भी मौजूद थी। इसके साथ ही पुलिस ने बताया कि एक आशा कार्यकर्ता है जिसका नाम रीना प्रधान है उसे भी गिरफ्तार किया गया है, वो अपने गांव से दो गर्भवती महिलाओं को परीक्षण के लिए लाई थी। इसके लिए उसे कमीशन मिलता था।

कमीशन के लिए भेजते थे परीक्षण कराने

एसपी सरवण विवेक एम ने बताया कि सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर आगे की जांच चल रही है। इसके साथ ही हम यह भी पता चला है कि कई लैब और निजी क्लीनिकों में कार्यरत अन्य लोग भी "भ्रूण लिंग" परीक्षण के लिए भेजते थे, जिसके लिए उन्हें कमीशन दिया जाता था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.