scriptfire at bandipur tiger reserve in karnataka | कर्नाटक: बांदीपुर टाइगर रिजर्व में लगी आग, 2.5 एकड़ जंगल जलकर खाक | Patrika News

कर्नाटक: बांदीपुर टाइगर रिजर्व में लगी आग, 2.5 एकड़ जंगल जलकर खाक

कर्नाटक के चामराजनगर जिले में बांदीपुर टाइगर रिजर्व में आग लगने से 2.5 एकड़ से अधिक जंगल जलकर राख हो गया। वन अधिकारियों के अनुसार, यह आग रविवार दोेपहर लगी थी। अधिकारियों ने कहा कि आग पर काबू पा लिया गया। राहत की बात यह है कि इस आग से कोई वन्यजीव प्रभावित नहीं हुआ।

नई दिल्ली

Published: March 07, 2022 02:48:57 pm

Fire at Bandipur Tiger Reserve: कर्नाटक के बांदीपुर टाइगर रिजर्व के वन क्षेत्र में आग लग गई। वन अधिकारियों के अनुसार, कर्नाटक के चामराजनगर जिले में बांदीपुर टाइगर रिजर्व में आग लगने से 2.5 एकड़ से अधिक हिस्सा जल गया। यह आग रविवार दोेपहर लगी। अधिकारियों ने कहा कि आग पर काबू पा लिया गया। राहत की बात यह है कि इस आग से कोई वन्यजीव प्रभावित नहीं हुआ। यदि आग तेजी होती बड़ा नुकसान हो सकता है। आग की वजह से यहां आने वाले पर्यटकों को रोक दिया गया। हालांकि अब सब सामान्य है। बांदीपुर टाइगर रिजर्व के जंगल में आग लगना आम बात है। यहां पर पहले भी कई बार आग लगने की घटनाएं सामने आ चुकी है।

fire at bandipur tiger reserve
fire at bandipur tiger reserve

400 अतिरिक्त वन रक्षक किए गए तैनात
वन अधिकारियों ने बताया कि कल दोपहर करीब 2.30 बजे बांदीपुर रेंज के मूलपुर बेट्टा जंगल में कर्मचारियों ने आग देखी। आग लगने के बाद वन विभाग ने 400 अतिरिक्त वन रक्षक तैनात किए हैं। बांदीपुर में शुष्क पर्णपाती वनस्पति है, जिससे यह आग की चपेट में आ जाता है। अधिकारियों का कहना है कि 50 प्रतिशत से अधिक जंगल लैंटाना से भरा हुआ है जो अत्यधिक दहनशील है।

यह भी पढ़ें

Ahmedabad : खोखरा के रायपुर भजिया हाऊस में आग




20 वॉच टावर बनाए गए
एक अधिकारी ने कहा कि वन विभाग ने एहतियात के तौर पर चौबीसों घंटे निगरानी रखने के लिए 20 वॉच टावरों का निर्माण किया है। आपात स्थिति का जवाब देने के लिए संवेदनशील क्षेत्रों में दमकल गाड़ियों को तैनात किया गया है। जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं और जंगल से गुजरने वाले हाईवे पर हर रोज पानी का छिड़काव किया जाता है।

यह भी पढ़ें

रुई की फैक्टरी में भीषण आग, सांवेर रोड पर हुआ हादसा




2019 में लगी आग से जला था 15000 एकड़ जंगल
आपको बता दें कि इस जंगल में पहले भी कई बार आग लग चुकी है। प्रशासन की तरफ से यहां पर देखभाल करने के लिए प्रयाप्त मात्रा में अधिकारी और कर्मचारी लगाए गए है। साल 2019 में बांदीपुर वन क्षेत्र का भी आग लग गई थी। इस आग से 15,000 एकड़ से अधिक हिस्सा आग में जल गया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यतासुप्रीम कोर्ट द्वारा साइरस मिस्त्री की पुनर्विचार याचिका खारिज पर रतन टाटा ने क्या कहा?अलगाववादी नेता यासीन मलिक आतंकवाद से जुड़े मामले में दोषी करार, 25 मई को होगी अगली सुनवाईPalm Oil Export Ban : पाम आयल एक्सपोर्ट पर से बैन हटाने जा रहा इंडोनेशिया, अब भारत में खाद्य तेल सस्ते होने की उम्मीद'माता-पिता भारतीय नागरिकता भलें छोड़ दें, गर्भ में मौजूद बच्चे को नागरिकता वापस पाने का हक' - मद्रास हाईकोर्ट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.