गुजरात: मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने अपने पास कई मंत्रालय रखे, नए नामों का किया ऐलान

गुजरात के नए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल (Bhupendra Patel) ने पूरे मंत्रिमंडल को बदल डाला है। मंत्रिमंडल में महिलाओं और युवाओं को जगह दी है।

By: Mohit Saxena

Published: 16 Sep 2021, 10:10 PM IST

नई दिल्ली। गुजरात (Gujrat) के नए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल (Bhupendra Patel) ने पूरे मंत्रिमंडल को बदल डाला है। गुरुवार को उन्होंने सभी नए मंत्रियों को शपथ दिलवाई। इस फैसले से कई वरिष्ठ नेता उनसे नाराज हैं। मगर सीएम ने अपने फैसले से मंशा साफ कर दी है कि वह सरकार को नए तरीके से चलाने की कोशिश करने वाले हैं।

पटेल अपने पास कई मंत्रालय रखेंगे

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार खुद सीएम भूपेंद्र पटेल अपने पास कई मंत्रालय को रखेंगे। सीएम प्रशासन, गृह और पुलिस हाउसिंग, I&b, शहरी विकास, माइन्स एंड मिनरल जैसे मंत्रालय को अपने पास रखेंगे। उन्होंने 36 वर्षीय हर्ष संधवी को गृह राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) का कार्यभार सौंपा है।

ये भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी का दावा, नए सेंट्रल विस्टा पर होगी अगले गणतंत्र दिवस की परेड

गुजरात के सीएम ने राजेंद्र त्रिवेदी को रेवेन्यू और लॉ ऑर्डर मंत्रालय ,जीतू वाघनी को शिक्षा मंत्रालय , ऋषिकेश पटेल को आरोग्य और परिवार कल्याण , पूर्णेश मोदी को मार्ग और मकान मंत्रालय , राघव जी पटेल को कृषि पशुपालन और गौ संवर्धन, कनु देसाई को वित्त और पेट्रोकेमिकल्स मंत्रालय , वन पर्यावरण और क्लाइमेट चेंज का कार्यभार किरीट सिंह राणा को दिया गया है।

वहीं नरेश पटेल को जाति विकास मंत्रालय, प्रदीप परमार को सामाजिक न्याय मंत्रालय, अर्जुन जी चौहान को ग्रमीण विकास, हर्ष संघवी को गृहमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), जगदीश पंचाल को कुटीर उद्योग और नमक उद्योग (स्वतंत्र प्रभार) , बृजेश मेरजा को श्रम रोजगार पंचायत (स्वतंत्र प्रभार) , निमिषा वकील को महिला और बाल कल्याण (स्वतंत्र प्रभार) दिया गया है।

युवाओं का भी ख्याल रखा गया

भूपेंद्र पटेल के नए मंत्रिमंडल में महिलाओं को जगह दी गई है। इसके साथ युवाओं का भी ख्याल रखा गया है। इस तरह से जातीय समीकरण साधने का प्रयास हो रहा है। विशेषज्ञों की राय है कि चुनाव को देखते हुए कई नए मंत्रियों को इस मंत्रिमंडल में शामिल करा जा सकता है।

गुजरात चुनाव से पहले इस बड़े फेरबदल से सभी हैरान हैं। विजय रुपाणी के इस्तीफे के बाद सभी पुराने मंत्रियों का पत्ता साफ कर दिया गया है। ऐसे में भाजपा की रणनीति को लेकर नई-नई अटकले लगाई जा रही हैं।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned