scriptGyanvapi Masjid Case Another Plea Filed By Ashwani Upadhyay In Supreme Court | ज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांग | Patrika News

ज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांग

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर उठे विवाद में लगातार नए मोड़ सामने आ रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को एक और नई याचिक दायर की गई है। ये याचिका वकील अश्विनी उपाध्याय ने दाखिल की है। उन्होंने इस याचिका के जरिए देश की शीर्ष अदालत से खास मांग की है।

नई दिल्ली

Published: May 23, 2022 11:52:18 am

ज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी विवाद सेशंस कोर्ट से ट्रासंफर किए जाने के बाद सोमवार को इस मामले पर अहम सुनवाई होना है। लेकिन इस सुनवाई से पहले ही देश की सर्वोच्च अदातल में एक और नई याचिका दायर की गई है। ये याचिका वकील अश्विनी उपाध्याय ने दाखिल की है। इस याचिका के जरिए उपाध्याय ने देश की शीर्ष अदालत से खास मांग की है। वकील उपाध्याय ने याचिका के जरिए मांग की है कि, उनका पक्ष भी सुना जाए. उन्होंने कहा कि ये मामला सीधे तौर पर उनकी धार्मिक स्वतंत्रता के अधिकार से जुड़ा है। दरअसल, जिला जज अजय कुमार विश्वेश की कोर्ट में पहली बार केस ओपन होगा और केस की रोजाना सुनवाई भी की जा सकती है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने जिला अदालत को 8 हफ्ते में सुनवाई पूरी करने का निर्देश दिया है।
Gyanvapi Masjid Case Another Plea Filed By Ashwani Upadhyay In Supreme Court
Gyanvapi Masjid Case Another Plea Filed By Ashwani Upadhyay In Supreme Court
अश्विनी उपाध्याय ने कोर्ट में रखी अपनी दलील
वकील अश्विनी उपाध्याय ने सर्वोच्च अदालत में याचिका दायर कर खास मांग की है। उपाध्याय ने कहा है कि, उनका पक्ष भी सुना जाए। ये मामला सीधे तौर पर उनकी धार्मिक स्वतंत्रता के अधिकार से जुड़ा है।

उन्होंने कहा कि, सदियों से वहां भगवान आदि विशेश्वर की पूजा होती रही है। ये सम्पत्ति हमेशा से उनकी रही है। ऐसे में किसी भी कीमत पर सम्पत्ति से उनका अधिकार नहीं छीना जा सकता।

यह भी पढ़ें

ज्ञानवापी सुनवाई: विदेशी यात्री का दावा परिसर में मौजूद था शिवलिंग, महिलाएं करती थीं पूजा

उपाध्याय ने याचिका दायर कर कहा कि, एक बार प्राण प्रतिष्ठा हो जाने के बाद, मन्दिर के कुछ हिस्सों को ध्वस्त करने और यहां तक कि नमाज पढ़ने से भी मन्दिर का धार्मिक स्वरूप नहीं बदलता।
उन्होंने कहा, जब तक कि विसर्जन की प्रकिया के जरिए मूर्तियों को वहां से हस्तांतरित न किया जाए तब तक मंदिर का धार्मिक स्वरूप कायम रहता है।

मस्जिद कमेटी की याचिका को खारिज करने की मांग
याचिका के जरिए अश्विनी ने यह भी दलील दी है कि इस्लामिक सिद्धान्तों के मुताबिक भी मन्दिर तोड़कर बनाई गई कोई मस्जिद वैध मस्जिद नहीं है।

उन्होंने कहा कि, 1991 का प्लेसेस ऑफ वर्शिप एक्ट किसी धार्मिक स्थल के स्वरूप को निर्धारित करने से नहीं रोकता। इसके साथ ही उपाध्याय ने याचिका में मस्जिद कमेटी की याचिका को खारिज करने की मांग की है। बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आज पहली बार इसकी सुनवाई जिला जज डॉ अजय कृष्ण विश्वेस की अदालत में होगी।

यह भी पढ़ें

ज्ञानवापी केसः सुप्रीम कोर्ट ने जिला जज को ट्रांसफर किया मामला, वजू के लिए की ये व्यवस्था




सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

सीढ़ियां से उतरने के दौरान गिरे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, कंधे की हड्डी टूटीदिल्ली और पंजाब में दी जा रही मुफ्त बिजली, गुजरात में क्यों नहीं?: केजरीवालहैदराबाद में बोले PM मोदी- 'तेलंगाना में भी जनता चाहती है डबल इंजन की सरकार, जनता खुद ही बीजेपी के लिए रास्ता बना रही'पीएम मोदी ने लंबे समय तक शासन करने वाली पार्टियों का मजाक उड़ाने के खिलाफ चेताया, कहा - 'मजाक मत उड़ाएं, उनकी गलतियों से सीखें'Rajasthan: वाहन स्क्रैपिंग सेंटर के लिए एक एकड़ जमीन जरूरीAchievement : ऐसा क्या किया पुलिस ने की मिला तीन लाख का ईनाम और शाबाशी ?Mumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट से पहले शिवसेना का नया दांव, स्पीकर राहुल नार्वेकर से की 39 विधायकों के खिलाफ एक्शन की मांगहनुमानजी के नाम पर वोट मांग रहे कमल नाथ! भाजपा ने की शिकायत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.