scripthow to check gold purity with BIS mobile app | सोना असली है या नकली, अपने मोबाइल से तुरंत करें पता | Patrika News

सोना असली है या नकली, अपने मोबाइल से तुरंत करें पता

आपके घर में रखा सोना असली है या नकली, घर बैठे कर सकते हैं पता। आपको इसलिए लिए एक सरकारी ऐप का इस्तेमाल करना होगा। जानिए क्या है तरीका

नई दिल्ली

Updated: January 05, 2022 05:02:42 pm

भारतीय मानक ब्यूरो या ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (BIS) ने एक खास मोबाइल ऐप लांच किया है। आप इस मोबाइल ऐप के जरिये कई तरह की महत्वपूर्ण जानकारी ले सकेंगे जैसे सामान लाइसेंसी है या नहीं ये आप आसानी से पता कर सकते हैं। कौन सा प्रोडक्ट असली है या नकली ऐसी तमाम जरूरी जानकारी आप इस ऐप के जरिए से पा सकते हैं। सरकार ने अभी हाल में आभूषणों की हॉलमार्किंग शुरू की है। इस ऐप के जरिये हॉलमार्क गहनों के बारे में जानकारी हासिल कर सकेंगे। इस मोबाइल ऐप का नाम बीआईएस केयर ऐप है।
gold.jpg
Gold (Jewellery)
आईएसआई मार्क वाले सामान भी हो सकते हैं नकली:
किसी सामान पर लाइसेंस नंबर लिखा है या आईएसआई का चिन्ह छपा है तो उसकी असलियत जानने के लिए इस ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं। बाजार में कई सामान ऐसे होते हैं जिनपर निशानी आईएसआई की लगी होती है, लेकिन वह सामान नकली होता है। इससे बचने के लिए बीआईएस केयर ऐप (BIS care app) ‘लाइसेंस के विवरण सत्यापित करें’ का विकल्प दिया गया है। इस विकल्प का इस्तेमाल करके आप आईएसआई मुहर लगे प्रोडक्ट की असलियत के बारे में जान सकेंगे। इससे उस प्रोडक्ट की प्रामाणिकता के बारे में पता चल जाता है।

हॉलमार्किंग की मिलेगी सटीक जानकारी:
सरकार ने ग्राहकों की सुविधा के लिए आभूषणों की हॉलमार्किंग को अनिवार्य कर दिया है। अब गहनों की हॉलमार्किंग जरूरी है जिससे कि ग्राहक शुद्ध गहने की खरीदारी करते वक्त प्रोडक्ट को लेकर आश्वस्त हो जाएं। बीआईएस केयर ऐप में इसके लिए एक खास सुविधा दी गई है। आप ‘एचयूआईडी संख्या का सत्यापन करें’ ऑप्शन पर क्लिक कर एचयूआडी यानी कि हॉलमार्किंग आईडी के साथ हॉलमार्क वाली ज्वैलरी की प्रामाणिकता जांच कर सकते हैं। इस ऐप की मदद से किसी कंपनी या उसके प्रोडक्ट की लाइसेंस को वेरिफाई कर सकते हैं। अगर कोई जेवर की दुकान खुद को बीआईएस से लाइसेंस प्राप्त बताता है, तो वह दुकान असली में लाइसेंसी है या नहीं, इस ऐप से जानकारी ले सकते हैं।

लाइसेंस की करें जांच:
सरकार ने कुछ उत्पादों को जरूरी सर्टिफिकेट की श्रेणी में डाला है। यानी कि वैसे प्रोडक्ट बिना लाइसेंस बिक्री नहीं किए जा सकते। ऐसे प्रोडक्ट की जानकारी बीआईएस केयर ऐप से प्राप्त कर सकते हैं। अगर आपको किसी प्रोडक्ट या उससे जुड़ी कंपनी से शिकायत है, तो इस ऐप में ‘कंप्लेंट’ का विकल्प दिया गया है। उस विकल्प पर क्लिक कर आप शिकायत दर्ज कर सकते हैं। ‘अपने मानक को जानें’ में जाकर आप किसी भी प्रोडक्ट की टेस्टिंग के लिए प्रयोगशालाओं के बारे में जानकारी पा सकते हैं।

इस बात पर भी दें ध्यान:
कुछ ऐसे प्रोडक्ट भी हैं जिनके लिए बीआईएस से लाइसेंस लेना अनिवार्य है। ऐसे प्रोडक्ट को बीआईएस से लाइसेंस मिला है या नहीं, इस ऐप के जरिये आसानी से चेक कर सकते हैं। इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद असली है या नकली, यह जानने के लिए आर नंबर को वेरिफाई करना होता है। बीआईएस केयर ऐप के जरिये आसानी से आर-नंबर को प्रमाणित किया जा सकता है। कोई प्रोडक्ट सही नहीं है या उसकी क्वालिटी घटिया है तो ऐप के जरिये शिकायत की जा सकती है। अगर किसी कंपनी ने आईएसआई मुहर का दुरुपयोग किया है तो इसकी शिकायत भी दर्ज कराई जा सकती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगाHowrah Superfast- हावड़ा सुपरफास्ट से यात्रा करने वाले यात्रियों को परिवर्तित मार्ग से करना पड़ेगा सफर, इन स्टेशनों पर नहीं जाएगी ट्रेनपूर्व केंद्रीय मंत्री की भाजपा में वापसी की चर्चाएं, सोशल मीडिया पर फोटो से गरमाई सियासतTrain Reservation- अब रेल यात्रियों के पांच वर्ष से छोटे बच्चों के लिए भी होगी सीट रिजर्व, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.