script"I am not a resident of Assam" Chief Minister Himanta Bishwa Sharma revealed UP Connection | "मैं असम नहीं,यूपी का मूल निवासी", मुख्यमंत्री हिमंत बिश्वा शर्मा ने किया खुलासा, जानिए कहां से है शर्मा का कनेक्शन | Patrika News

"मैं असम नहीं,यूपी का मूल निवासी", मुख्यमंत्री हिमंत बिश्वा शर्मा ने किया खुलासा, जानिए कहां से है शर्मा का कनेक्शन

locationनई दिल्लीPublished: Feb 10, 2024 11:10:39 am

Submitted by:

Anand Mani Tripathi

CM Himanta Bishwa Sharma Revealed UP Connection : असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व शर्मा ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने असम की विधानसभा में कहा कि वह असम के नागरिक हैं लेकिन मूल निवासी खिलंजिया नहीं हैं।

i_am_not_a_resident_of_assam_chief_minister_himanta_bishwa_sharma_revealed_up_connection.png

CM Himanta Bishwa Sharma Revealed UP Connection : भाजपा के फायरब्रांड नेता और असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व शर्मा ने अपनी मूल पहचान को लेकर बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने असम की विधानसभा में अपना बात रखते हुए कहा कि वह असम के नागरिक हैं लेकिन मूल निवासी खिलंजिया नहीं हैं। उन्होंने बताया कि उनके पूर्वज उत्तर प्रदेश के कन्नौज से जाकर वहां बसे हैं। हिमंत असम में जमीन का पट्टा देने में भेदभाव के आरोप पर बोल रहे थे। विपक्ष एक खास समुदाय के साथ भेदभाव करने का आरोप लगा रहा था। आरोप था कि कागज पूरे होने के बाद भी समुदाय को पट्टा नहीं दिया जा रहा है।

वसुंधरा योजना में जमीन
असम सरकार वसुंधरा योजना के तहत असम के मूल निवासियों को जमीन का पट्टा दे रही है। इसे लेकर ही विपक्ष हमलावर है। मुख्यमंत्री सरमा ने आरोप का जवाब देते हुए कहा कि इस योजना का लाभ सिर्फ असम के मूल निवासियों को मिलेगा। जिनके पूर्वज हजारों सालों से असम में रह रहे हैं। खिलंजिया वहीं हैं जो यहां हजारों सालों से रह रहे हैं। वसुंधरा योजना में पट्टा के लिए करीब 13 लाख लोगों ने आवेदन दिया था लेकिन सिर्फ 40 फीसदी को ही पट्टा मिला है।

असम में हुआ था हिमंत का जन्म
असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा का जन्म 1 फरवरी 1969 को असम के ही जोरहाट में हुआ था। इनके पिता का नाम कैलाश नाथ सरमा और मृणालिनी देवी है। 1996 में पहली बार जालुकबारी से चुनाव लड़ा लेकिन हार गए। 2001 में यहीं से चुनाव जीतकर विधानसभा में प्रतिनिधित्व किया। भाजपा में आने से पहले सरमा कांग्रेस में थे। यहां तरुण गोगोई सरकार में कृषि और स्वास्थ्य मंत्री की जिम्मेदारी संभाली। भाजपा में आने के बाद 2021 से वह असम के मुख्यमंत्री हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो