scriptJammu Kashmir political parties fume over EC's decision for Allowing non-locals to vote | Jammu Kashmir: बाहरी लोगों को वोट के अधिकार देने पर भड़के कश्मीरी नेता, मुफ्ती और उमर ने केंद्र पर साधा निशाना | Patrika News

Jammu Kashmir: बाहरी लोगों को वोट के अधिकार देने पर भड़के कश्मीरी नेता, मुफ्ती और उमर ने केंद्र पर साधा निशाना

Jammu Kashmir Election: जम्मू-कश्मीर में बाहरी निवासियों को वोट डालने के अधिकार दिए जाने से यहाँ सियासी पारा बढ़ गया है। जम्मू कश्मीर के नेताओं ने न केवल इसका विरोध किया है बल्कि इसे विनाशकारी बताया है। जल्दी ही कश्मीर के नेता एकजुट हो इसके खिलाफ एक्शन की तैयारी कर रहे हैं।

Updated: August 18, 2022 12:01:34 pm

Kasmiri Leaders: जम्मू कश्मीर में इस साल विधानसभा चुनाव होने की पूरी संभावना जताई जा रही है। इन चुनावों से पहले ही चुनाव आयोग ने एक बड़ी घोषणा करते हुए कहा है कि राज्य में जो भी गैर कश्मीरी लोग रह रहे हैं वो भी वोट डाल सकते हैं इसके लिए निवास प्रमाण पत्र की भी आवश्यकता नहीं है। चुनाव आयोग के इस फैसले के बाद जम्मू कश्मीर की सियासी माहौल गरमा गया है। पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती से लेकर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने इसका विरोध किया है। इन नेताओं का कहना है कि बीजेपी अपने हित के लिए जम्मू कश्मीर में बाहरियों को वोट डालने का अधिकार दिया है। इस तरह से यहाँ बीजेपी लोकतंत्र को खत्म करने पर तुली है।
Jammu Kashmir political parties fume over EC's decision for Allowing non-locals to vote
Jammu Kashmir political parties fume over EC's decision for Allowing non-locals to vote

बीजेपी स्थानीय लोगों को करना चाहती है कमजोर


पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने इस फैसले का विरोध करते हुए कहा, "जम्मू-कश्मीर में बाहरी लोगों को वोट देने की अनुमति दिया जाना स्पष्ट रूप से चुनाव परिणामों को प्रभावित करना है। असली उद्देश्य स्थानीय लोगों को कमजोर कर अपनी पकड़ मजबूत करते हुए यहाँ अपना शासन करना जारी रखना है।"

चोर दरवाजे से वॉटर्स लाने की कोशिश


मुफ्ती ने आगे कहा, "बीजेपी चोर दरवाजे से वॉटर्स लाने की कोशिश कर रही है। 25 लाख वॉटर्स बाहर से लाए जा रहे हैं। बीजेपी वास्तव में संविधान को खत्म कर रही है और केवल अपने हित में काम कर रही है। लोकतंत्र के नाम पर अराजकता फैला रही। वास्तव में ये हिन्दू राष्ट्र नहीं बीजेपी राष्ट्र है।"
यह भी पढ़ें

कश्मीर में फिर दो हिंदूओं की हत्या

तानाशाही नीति अपना रही बीजेपी


उन्होंने आगे कहा, "बीजेपी के लिए जम्मू कश्मीर प्रयोगशाला है। वो अपने हित के लिए ED का गलत इस्तेमाल कर रही और अब यहां फासीवादी स्थापित करने की कोशिश कर रही है। वो यहाँ तानाशाही नीति अपना रही है ऐसे में हमें जम्मू-कश्मीर के संकल्प पर और जोर देना चाहिए।"

मुफ्ती ने कहा कि "मैंने डॉ फारूक अब्दुल्ला से बात की है और उनसे एक सर्वदलीय बैठक बुलाने का अनुरोध किया है, जिसमें वे लोग भी शामिल हैं जिनसे हम असहमत हैं, ताकि हम भविष्य की कार्रवाई का खाका तैयार कर सकें।"
यह भी पढ़ें

चुनाव आयोग का बड़ा ऐलान, जम्मू कश्मीर में रह रहे बाहरी लोग भी डाल सकेंगे वोट

उमर अब्दुल्ला ने भी किया विरोध


मुफ्ती से पहले नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने भी ट्वीट कर चुनाव आयोग के फैसले का विरोध किया था। उन्होंने लिखा, "क्या बीजेपी जम्मू-कश्मीर के मूल वॉटर्स के समर्थन को लेकर इतनी असुरक्षित है कि उसे सीटें जीतने के लिए अस्थायी मतदाताओं को इम्पोर्ट करने की जरूरत है? जब जम्मू-कश्मीर के लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने का मौका दिया जाएगा तो इनमें से कोई भी चीज बीजेपी की मदद नहीं करेगी।"

सज्जाद लोन ने इसे बताया विनाशकारी कदम


वहीं, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष सज्जाद गनी लोन ने सरकार के इस कदम को विनाशकारी बताया है। बता दें कि जम्मू कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी हृदेश कुमार ने घोषणा करते हुए कहा था कि कश्मीर में रहने वाले बाहरी भी अपना नाम वोटर लिस्ट में शामिल करा सकते हैं और वोट डाल सकते हैं जिसके लिए उन्हें निवास प्रमाण पत्र की भी आवश्यकता नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

गृह मंत्रालय ने PFI को 5 साल के लिए किया बैन, टेरर लिंक के आरोप में RIF सहित 8 अन्य संगठनों पर भी एक्शनसड़क हादसे में साइरस मिस्त्री की मौत को लेकर हुआ बड़ा खुलासा! IRF की रिपोर्ट में सामने आईं बड़ी बातेंदिल्ली शराब नीति मामले में हुई पहली गिरफ्तारी, CBI ने मनीष सिसोदिया के सहयोगी को किया अरेस्टVideo: दिल्ली में खतरे के निशान से ऊपर बढ़ा यमुना का जलस्तर, लोहे वाले पुल से आवगमन हुआ ठपLegends League Cricket 2022: भीलवाड़ा किंग्स ने गुजरात जाइंट्स को 57 रनों से हराया5G in India : PM मोदी India Mobile Congress में 1 अक्टूबर को करेंगे 5G की शुरुआत'हम भी बता देंगे उन्होंने क्या किया है और हमने क्या किया," बिहार के पूर्णिया में अमित शाह की रैली पर बोले नीतीश कुमारगुजरात में चुनावी तैयारियों में जुटा चुनाव आयोग, कहा- 4.83 करोड़ वॉटर्स पंजीकृत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.