scriptKhushbu Singh Success Story, became entrepreneur after husband death | पति की मृत्यु के बाद किया मुश्किलों का सामना, फिर बनाई सफल एंटरप्रिन्योर के रुप में अमृतसर की खुशबू सिंह ने पहचान | Patrika News

पति की मृत्यु के बाद किया मुश्किलों का सामना, फिर बनाई सफल एंटरप्रिन्योर के रुप में अमृतसर की खुशबू सिंह ने पहचान

फैशन डिजाइनर रितु कुमार से प्रभावित होकर अमृतसर की खुशबू सिंह के दिल में अपना कारोबार करने का जज्बा पैदा हुआ। पति की मृत्यु के बाद अपने और बच्चे के पालन-पोषण के लिए मुश्किलों से दो-दो हाथ किए और आज वह अपनी कंपनी स्थापित कर सोलर पैनल इंडस्ट्री में अलग पहचान बना चुकी हैं।

नई दिल्ली

Published: April 04, 2022 04:15:03 pm

आज की महिलाएं दूसरों पर निर्भर रहने के बजाय आत्मनिर्भर बनकर दूसरों के लिए प्रेरणास्त्रोत बन रही हैं। और इसी कड़ी में अमृतसर की खुशबू सिंह का नाम भी शामिल है। खुशबू सिंह ने पढ़ाई पूरी करने के बाद साल 2006 में उन्होंने सबसे पहले इंश्योरेंस कंपनी में मैनेजर की नौकरी की। साल 2007 में उनकी शादी हो गई। 2008 में बेटा हुआ, तो वहीं 2012 में पति की ब्रेन स्ट्रोक के कारण मौत हो गई। पति की मत्यु के बाद बच्चे के पालन-पोषण के लिए उनके सामने संकट पैदा हो गया। मगर इन मुश्किल हालातों का उन्होंने डट कर सामना किया और अपनी अलग पहचान बनाने में सफलता हासिल कर लिया।
पति की मृत्यु के बाद किया मुश्किलों का सामना, फिर बनाई सफल एंटरप्रिन्योर के रुप में अमृतसर की खुशबू सिंह ने पहचान
पति की मृत्यु के बाद किया मुश्किलों का सामना, फिर बनाई सफल एंटरप्रिन्योर के रुप में अमृतसर की खुशबू सिंह ने पहचान
एंटरप्रिन्योर बनने के लिए खुशबू ने दिन-रात मेहनत की। पति की मृत्यु के बाद उन्होंने कई जगह नौकरी की। काफी सोच-विचार के बाद वर्ष 2012 में ही उन्होंने एक मल्टीनेशनल कंपनी में कस्टमर हेड डेस्क की नौकरी की। वर्ष 2014 में एक फैशन कंपनी में स्टोर मैनेजर ज्वाइन किया और दो बड़े स्टोरों को हैंडल किया। वर्ष 2016 में वह फैशन डिजाइनर रितु कुमार से मिलीं और उनसे काफी प्रभावित हुई।
खुशबू अमृतसर में फैशन डिजाइनर रितु कुमार स्टोर में काम करती रही। फिर वो टोल प्लाजा प इस्तेमाल होने वाले फास्टैग की अमृतसर की पहली डिस्ट्रीब्यूटर बन गई। स टैग को उनकी ओर से ही अमृतसर में लांच किया गया। रितु कुमार से प्रभावित होकर उनके मन में कुछ अपना कारोबार करने का जज्बा पैदा हुआ। उन्होंने अपनी कंपनी गठित की और सोलर का कांस्पेट मार्केट में आया।

khushubu.jpg
फिर उन्होंने अपनी सोलर पैनल कंपनी कोस्मिम सोलर एंड लियोनिंड की स्थापना कीऔर सोलर का कांस्पेट मार्केट में आया। गांवों के लोगों को सौर ऊर्जा के प्रति जागरूक करने के लिए उन्होंने बड़े स्तर अभियान चलाया। कंपनी बनाकर सरकारी और गैरसरकारी संस्थानों के ठेके लेने शुरू कर दिए। आज वह सरकारी व प्राइवेट संस्थानों में सोलर पैनल स्थापित करके लोगों को सौर ऊर्जा से जोड़ते हुए बिजली सप्लाई में आत्मनिर्भर बना रही हैं।

यह भी पढ़ें

Namami Gange: 'नमामि गंगे' कार्यक्रम के तहत मिले फंड का उपयोग करने में विफल रही बिहार सरकार, CAG ने की खिंचाई

इसके अलावा कभी खुद रोजगार ढुंढने वाली खुशबु आज जरुरतमंद को भी रोजगार उपलब्ध करवा रही हैं। नकी कंपनी ने 25 के करीब युवाओं को रोजगार दिया है। इसमें छह लड़कियां भी हैं। कुछ स्टाफ स्थायी और कुछ कांट्रैक्ट में काम कर रहा है।

यह भी पढ़ें

Grammy Awards 2022 में भारत ने मारी बाजी, इन दो कलाकारों ने किया अवॉर्ड्स अपने नाम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंद्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चAnother Front of Inflation : अडानी समूह इंडोनेशिया से खरीद राजस्थान पहुंचाएगा तीन गुना महंगा कोयला, जेब कटना तयसुकन्या समृद्धि योजना में सरकार ने किए बड़े बदलाव, जानें क्या है नए नियम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.