scriptMonsoon season: Monsoon departs from Himachal after 432 deaths and Rs 2192 crores wasted | हिमाचल से विदा हुआ मॉनसून : शिमला में सबसे अधिक बारिश, 432 लोगों की मौत, 2192 करोड़ का नुकसान | Patrika News

हिमाचल से विदा हुआ मॉनसून : शिमला में सबसे अधिक बारिश, 432 लोगों की मौत, 2192 करोड़ का नुकसान

locationनई दिल्लीPublished: Oct 04, 2022 10:43:23 am

Submitted by:

Shaitan Prajapat

Monsoon in Himachal: हिमाचल प्रदेश में इस वर्ष मानसून कहर बरपा रहा है। मानसून सीजन में बड़े पैमाने पर जान-माल का नुकसान हुआ है। इससे लोक निर्माण विभाग, जल शक्ति विभाग और बिजली बोर्ड को करोड़ों का नुक्सान उठाना पड़ा है। इसके साथ ही मानसून सीजन में अब तक 300 से ज्यादा लोग काल का ग्रास बन चुके हैं।

Monsoon in Himachal
Monsoon in Himachal

Monsoon in Himachal: हिमाचल प्रदेश से मॉनसून की विदाई हो गई है। प्रदेश से 3 अक्तूबर को मॉनसून विदा हो गया है। इस बार मॉनसून सीजन में प्रदेश में सामान्य से दो फीसदी कम बारिश हुई है। मानसून की बारिश ने राज्य को गहरे जख्म दिए हैं। प्रदेश में इस मॉनसून सीजन में 432 लोगों की मौत हुई है। हिमाचल में इस वर्ष मानसून कहर बरपा रहा है। मानसून सीजन में बड़े पैमाने पर जान-माल का नुकसान हुआ है। इससे लोक निर्माण विभाग, जल शक्ति विभाग और बिजली बोर्ड को करोड़ों का नुक्सान उठाना पड़ा है। हालांकि, बीते पांच साल में इस सीजन में सबसे अधिक नुकसान बारिश की वजह से हुआ है।

8 दिन की देरी से विदा हुआ मानसून


शिमला के मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, इस मॉनसून सीजन में 716.7 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। वहीं, 734.4 मिलीमीटर बारिश को सामान्य माना गया है। मौसम विभाग ने पहले कहा था कि प्रदेश से 25 सितंबर को मॉनसून विदा होगा। पर आठ दिन देरी से 3 अक्तूबर को मॉनसून ने अलविदा हुआ है। पिछले साल 2021 में 8 अक्टूबर को मॉनसून की विदाई हुई थी और सामान्य से 12 फीसदी कम बारिश दर्ज की गई।

शिमला में सबसे अधिक बारिश


मौसम विभाग के अनुसार, इस बार के मॉनसून सीजन में सबसे ज्यादा बारिश शिमला जिले में 898.6 मिलीमीटर हुई है। वहीं, सबसे कम बारिश लाहौल-स्पीति जिले में (168.3 एमएम) हुई है। सितंबर में सामान्य से 13 फीसदी अधिक पानी बरसा है। मंडी, लाहौल-स्पीति और चंबा जिला को छोड़कर प्रदेश के शेष सभी जिलों में सितंबर माह में सामान्य से अधिक बारिश देखी गई है। जून में सामान्य से 34 और अगस्त में चार फीसदी कम बारिश हुई है।

2192 करोड़ रुपये बहाकर विदा हुआ मॉनसून


राज्य में भारी बारिश से अब तक 2192 करोड़ रुपए की सरकारी और निजी संपत्ति तबाह हो गई है। बीते 5 सालों में यह नुकसान सबसे ज्यादा है। इस साल 262 घर पूरी तरह जमींदोज हुए हैं। जबकि, 1,172 मकानों को मामूली नुकसान हुआ है। इसके अलावा 1109 गौशालाएं, 173 दुकानें और 63 घराट भी बारिश से तबाह हुए हैं।


यह भी पढ़ें

दिल्ली सहित इन राज्यों से विदा हुआ मानसून, जानिए इस वर्ष कितनी कम हुई बारिश



432 लोगों ने गवाई जान


प्रदेश में मानसून के दौरान सबसे ज्यादा मौतें सड़क दुर्घटनाओं के चलते हुई है। हिमाचल प्रदेश में इस मॉनसून सीजन में 432 लोगों की मौत हुई है। भूस्खलन और सड़क हादसों में 769 लोग घायल हैं, जबकि फ्लैश फ्लड में 15 लोग अभी भी लापता हैं। इसके अलावा, सीजन के दौरान 979 मवेशियों की मौत हुई है।


यह भी पढ़ें

12 अक्टूबर तक तेज हवा व जोरदार बारिश की संभावना, होगा ठंड का एहसास, जाने मौसम का हाल



सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र: बल्लारशाह रेलवे स्टेशन पर फुटओवर ब्रिज का हिस्सा गिरा, 20 यात्री घायल, 8 की हालत गंभीरGujarat Elections 2022: PM मोदी का कांग्रेस पर निशाना, कहा- देश में चरम पर था आतंकवादश्रद्धा मर्डर केस: सोमवार को आफताब के नार्को टेस्ट के लिए FSL में तैयारी, जानिए तिहाड़ में कैसे गुजरी पहली रातराजस्थान में बैकफुट पर कांग्रेस, पार्टी में फूट का डर, गहलोत खेमा शांत, पायलट समर्थक मुखरकेजरीवाल का बड़ा दावा! बोले- लिख कर देता हूं गुजरात में बन रही AAP की सरकारBJP का केजरीवाल पर हमला, संबित पात्रा बोले, सत्येंद्र जैन के लिए जेल में रखे गए हैं 10 लोगपूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सहारनपुर दो दिवसीय दौरे पर, कई कार्यक्रमों में करेंगे शिरकतमन की बात में पीएम मोदी ने कहा, जी-20 की अध्यक्षता मिलना गौरव की बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.