scriptNetaji Subhas Chandra bose daughter Anita bose pfaff appeals brought bose remains back India independence day | ‘नेताजी सुभाष चंद्र बोस के अवशेषों को वापस लाया जाए भारत’, बेटी ने स्वतंत्रता दिवस पर की अपील | Patrika News

‘नेताजी सुभाष चंद्र बोस के अवशेषों को वापस लाया जाए भारत’, बेटी ने स्वतंत्रता दिवस पर की अपील

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी अनीता बोस फाफ ने अपने पिता के अवशेषों को वापस भारत लाने की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने बताया है कि जापान की राजधानी टोक्यो में स्थित मंदिर पिता 'सुभाष चंद्र बोस' के संरक्षित अवशेषों से DNA निकालने की मंजूरी देने के लिए तैयार है।

Updated: August 15, 2022 03:25:54 pm

भारत आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मना रहा है, जिसके तहत पूरा देश स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद करते हुए नमन कर रहा है। इसी बीच नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी 'अनीता बोस फाफ' ने कहा कि नेताजी के पूरे जीवन में देश की स्वतंत्रता से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ भी नहीं था, जिसके बाद उन्होंने भारत सरकार से अपने पिता के अवशेषों को वापस भारत लाने की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि जापान की राजधानी टोक्यो में स्थित मंदिर नेताजी के संरक्षित अवशेषों से DNA निकालने की मंजूरी देने के लिए तैयार है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि जापान सरकार भी इस प्रक्रिया के लिए सहमत हो गई है।
netaji-subhas-chandra-bose-daughter-anita-bose-pfaff-appeals-brought-bose-remains-back-india-independence-day.jpg
Netaji Subhas Chandra bose daughter Anita bose pfaff appeals brought bose remains back India independence day
अनीता बोस ने नेताजी की अस्थियों को उनकी मातृभूमि में वापस लाने की अपील करते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि नेताजी के अवशेष कम से कम भारत की धरती पर लौट आए। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी अनीता बोस फाफ वर्तमान में जर्मनी में रह रहीं हैं, जो नेताजी की इकलौती संतान हैं।
 

फॉर्मोसा में एक विमान हादसे में हुई थी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत!


नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी अनीता बोस फाफ का मानना है कि दूसरे विश्व युद्ध के आखिरी हफ्तों में उनके पिता की मौत फॉर्मोसा में एक विमान हादसे में हुई थी। उनका कहना है कि नेताजी के संरक्षित अवशेषों से DNA निकालकर अब मॉडर्न टेक्नोलॉजी के जरिए टेस्टिंग की जा सकती है। जिन लोगों को अभी भी यह संदेह है कि नेताजी की मौत 18 अगस्त 1945 में नहीं थी, उनके पास टोक्यो के रेंकोजी मंदिर में रखे अवशेष के जरिए वैज्ञानिक सबूत हासिल करने का मौका है।
 

स्वतंत्रता संग्राम के सबसे प्रमुख "नायकों" में से एक "नेताजी सुभाष चंद्र बोस"


अनीता बोस फाफ ने कहा कि भारत की आजादी के 75 साल बाद भी स्वतंत्रता संग्राम के सबसे प्रमुख "नायकों" में से एक "नेताजी सुभाष चंद्र बोस" अभी तक अपनी मातृभूमि नहीं लौटे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत के लोगों ने उनके लिए भौतिक और आध्यात्मिक स्मारकों का निर्माण करके उनके यादों को आज तक जीवित रखा है।

नेताजी की मौत इतिहास का सबसे बड़ा रहस्य

नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने निधन को लेकर अलग-अलग दावे किए जाते हैं। एक दावा किया जाता है कि उनकी मौत हवाई जहाज दुर्घटना में हुई थी, यह दावा करते हुए जपानी अधिकारियों ने कुछ अवशेष एकत्रित करके टोक्यो के रेंकोजी मंदिर रखा है। इन अवशेषों की देखभाल तीन पीढ़ी के पुजारी करते आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें

विकसित भारत के लिए PM मोदी ने देश के सामने रखे ये 5 प्रण, भाई-भतीजावाद, भ्रष्टाचार और इसे बताया चुनौती

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

'हम भी बता देंगे उन्होंने क्या किया है और हमने क्या किया," बिहार के पूर्णिया में अमित शाह की रैली पर बोले नीतीश कुमारVideo: दिल्ली में खतरे के निशान से ऊपर बढ़ा यमुना का जलस्तर, लोहे वाले पुल से आवगमन हुआ ठपकाउंटी क्रिकेट में भारतीय खिलाड़ी शुभमन गिल ने अपने करियर का लगाया पहला शतकगुजरात में चुनावी तैयारियों में जुटा चुनाव आयोग, कहा- 4.83 करोड़ वॉटर्स पंजीकृतShinde vs Thackeray: उद्धव ठाकरे को बड़ा झटका, नहीं रुकेगी चुनाव आयोग की कार्रवाई, संविधान पीठ ने खारिज की याचिकाVideo: क्या सच में पवन बंसल कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में लेंगे हिस्सा? सामने आया बयानशिंजो आबे लाखों लोगों के दिलों में जिंदा रहेंगे- पीएम मोदीINDA vs NZA, 3rd Unofficial ODI: भारत ने न्यूजीलैंड को 106 रनों से हराया, सीरीज पर 3-0 से कब्जा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.