PM मोदी के दौरे को फायदे की नजर से देख रहा अमरीका, 'नए भारत' के सपने से रोजगार अवसर बढ़ने की उम्मीद

PM मोदी के दौरे को फायदे की नजर से देख रहा अमरीका, 'नए भारत' के सपने से रोजगार अवसर बढ़ने की उम्मीद

Abhishek Pareek | Publish: Jun, 13 2017 07:19:00 PM (IST) राष्ट्रीय

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'नए भारत' के दृष्टिकोण से अमरीका में भी रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'नए भारत' के दृष्टिकोण से अमरीका में भी रोजगार के अवसर पैदा होंगे। स्पाइसर ने मोदी की आगामी अमरीका यात्रा की घोषणा करते हुए कहा, 'प्राकृतिक गैस समेत अमरीकी ऊर्जा एवं प्रौद्योगिकी की मदद से मोदी के नए भारत के निर्माण का सपना पूरा होगा और इस प्रक्रिया में हजारों नौकरियों का सृजन होगा।' 




उन्होंने कहा कि वर्ष 2000 से भारत-अमेरिका व्यापार में छह गुणा वृद्धि हुर्इ है और यह 19 अरब से बढ़कर 115 अरब का हो गया है। भारतीय अर्थव्यवस्था सात प्रतिशत से अधिक की दर से विकसित हो रही है। प्रेस सचिव ने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री की यात्रा के दौरान वह और अमरीकी राष्ट्रपति अपने नागरिकों के हित में भारत-अमरीका साझेदारी के लिए एक व्यापक दृष्टिकोण पर चर्चा करेंगे। 




मोदी 25-26 जून को अमेरिका की यात्रा पर रहेंगे। वह यात्रा के दूसरे दिन 26 जून को ट्रंप के साथ वार्ता करेंगे। दोनों नेताओं के बीच यह पहली मुलाकात होगी। इस मुलाकात की विश्वभर के कूटनीतिक हलकों में प्रतीक्षा की जा रही है। उन्होंने कहा, 'राष्ट्रपति ट्रंप अमरीका और भारत के बीच संबंध मजबूत बनाने के उपायों तथा आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई, आर्थिक विकास एवं सुधारों को बढ़ावा देने और भारत-प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षा सहयोग का विस्तार करने जैसी अपनी साझा प्राथमिकताओं पर चर्चा करेंगे।' 




यह ट्रंप की मोदी के साथ पहली मुलाकात होगी। मोदी ने जनवरी में जब उन्हें राष्ट्रपति का पदभार संभालने पर बधाई दी थी, तभी उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री को अमरीका आमंत्रित किया था। विदेश मंत्रालय ने कल मोदी की अमेरिका यात्रा की घोषणा की और बताया कि दोनों नेता भारत आैर अमरीका के बीच सामरिक साझेदारी के विभिन्न आयामों व अन्य द्विपक्षीय मुद्दों पर विस्तार से चर्चा करेंगे। प्रधानमंत्री की इस यात्रा को दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और प्रगाढ़ बनाने के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned