scriptPM Narendra Modi in Gorakhpur will inaugurate AIIMS | पूर्वांचल को PM Narendra Modi का बड़ा तोहफा, आखिर बीजेपी के लिए पूर्वांचल इतना महत्वपूर्णँ क्यों है? | Patrika News

पूर्वांचल को PM Narendra Modi का बड़ा तोहफा, आखिर बीजेपी के लिए पूर्वांचल इतना महत्वपूर्णँ क्यों है?

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज योगी आदित्यनाथ के गृह क्षेत्र गोरखपुर (Gorakhpur) पहुंच गए हैं जहां सीएम योगी ने उनका स्वागत किया। अब कुछ ही देर में पीएम मोदी कई परियोजनाओं को जनता को सौंपेंगे।

नई दिल्ली

Published: December 07, 2021 01:34:30 pm

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों से पूर्व गोरखपुर (Gorakhpur) का दौरे पर हैं। इस दौरान वो गोरखपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और उर्वरक कारखाना का शिलान्यास करेंगे। पीएम मोदी की ये रैली भाजपा के लिए काफी महत्वपुर्ण है क्य़ोंकि इससे भाजपा यूपी के बड़े हिस्से को संदेश भेजेगी। इसके साथ ही जाति समीकरण साधने के भी प्रयास होंगे।
yogi_modi_up.jpg
पीएम नरेंद्र मोदी पंहुचें गोरखपुर

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज योगी आदित्यनाथ के गृह क्षेत्र गोरखपुर (Gorakhpur) पहुंच गए हैं जहां सीएम योगी ने उनका स्वागत किया। अब कुछ ही देर में पीएम मोदी कई परियोजनाओं को जनता को सौंपेंगे।
वो यहां औपचारिक रूप से 112 एकड़ में फैले एम्स अस्पताल का उद्घाटन करेंगे। वो यहां ICMR से जुड़े चिकित्सा अनुसंधान केंद्र का भी उद्धाटन करेंगे। आज तीन दशक से बंद पड़े उर्वरक कारखाने को भी खोला जायेगा और इस समारोह का भी पीएम मोदी हिस्सा लेंगे।
पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के इस कार्यक्रम में लगभग चार लाख लोग हिस्सा लेंगे और भाजपा इसके जरिए अपना शक्ति प्रदर्शन भी करेगी। इस दौरान पीएम मोदी प्रदेश में जाति समीकरण को भी साधेंगे।
महत्व

  • सरकार के अनुसार इन तीनों प्रोजेक्ट्स पर लगभग दस हजार करोड़ रूपये खर्ज हुए हैं।
  • 22 जुलाई 2016 में पीएम मोदी गोरखपुर एम्स का शिलान्यास किया था जिसकी लागत एक हजार करोड़ रूपए हैं।
  • इस अस्पताल में लगभग 300 बेड होंगे जो बाद में और बढ़ाए जायेंगे और करीब 35 बेड का इमरजेंसी वार्ड हैं।
  • इसका ओपीडी वर्ष 2019 में ही शुरू हो गया था और अब तक करीब सात लाख लोग यहां इलाज भी करा चुके हैं।
  • एम्स को लेकर सरकार का दावा है कि करीब सात करोड़ लोगों को इसका लाभ मिलेगा और पूर्वी उत्तर प्रदेश के साथ ही बिहार, झारखंड और नेपाल तक के लोग यहां इलाज करा सकेंगे।
  • गोरखपुर का खाद कारखाना भी काफी अहम है जिसकी लागत लगभग 6803 करोड़ रूपए है।
  • गोरखपुर उर्वरक कारखाना 30 साल से अधिक समय से बंद रहने के बाद खुलेगा।
  • ये देश को यूरिया के उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने में मदद करेगा।
  • इस कारखाने में हर वर्ष 12.7 लाख मीट्रिक टन नीम कोटेड यूरिया का उत्पादन होगा।
  • ये किसानों को यूरिया की कमी पूरा करेगा और करीब 20 हजार रोजगार सृजन की संभावना है।
  • ICMR से जुड़े चिकित्सा अनुसंधान केंद्र के जरिए वायरल बीमारियों की जांच विश्व स्तरीय होगी और रिसर्च भी हो सकेगी।इससे जांच व इलाज के लिए गांव के लोगों को बड़े शहरों का रूख नहीं करना पड़ेगा।
अन्य प्रोजेक्टस
  • इसके अलावा 11 दिसंबर को पीएम मोदी बलरामपुर में पांच दशक पुराने सरयू कैनाल प्रोजेक्ट का लोकार्पण करेंगे।
  • 13 दिसंबर को पीएम मोदी अपने ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण करेंगे।
  • पीएम मोदी 25 दिसंबर को कानपुर मेट्रो का लोकार्पण करेंगे।
जाति समीकरण साधने की कोशिश
पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) फर्टिलाइजर फैक्ट्री के मैदान में एक बड़ी रैली को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी और सीएम योगी के साथ अति पिछड़ा वर्ग (OBC) में अच्छी पकड़ रखने वाले केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी भी मंच पर होंगे।
  • गोरखपुर क्षेत्र के 10 सांसदों और राज्य सरकार के 10 मंत्रियों को भी मंच पर पीएम मोदी के साथ बैठने का अवसर मिलेगा।
  • इस दौरान मंच पर भाजपा की सहयोगी निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और एमएलसी संजय निषाद भी होंगे।गोरखपुर, बस्ती, प्रयागराज और वाराणसी (Varanasi) की कई विधानसभा सीटें निषाद बहुल मानी जाती हैं। इसलिए निषाद पार्टी के साथ भाजपा होना अहम है।
  • गौरखुर (Gorakhpur) में नौ विधानसभा सीटों पर निषाद समुदाय का प्रभाव है।
  • अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल पीएम मोदी के साथ मंच पर मौजूद रहेंगी।
  • गोरखपुर-बस्ती मंडल में बड़ी संख्या में पटेल वोटर हैं। भाजपा अनुप्रिया पटेल के जरिए पटेल वोट बैंक को साधने की कोशिश करेंगे
वर्ष 2014 और 2019 के लोकसभा और 2017 के विधानसभा चुनावों में भाजपा को पूर्वांचल में सबसे अधिक सीटें मिली थीं।अपने पुराने फॉर्मूले के तहत भाजपा पूर्वांचल में एक बार फिर से चुनावों में जीत के लिए जातिवाद समीकरण को साध रही है।पीएम मोदी का पूर्वांचल का ये तीसरा दौरा है। यहां अगर भाजपा बड़ा कमाल दिखा पाती है तो भाजपा के लिए यूपी की सत्ता में वापसी आसान हो जायेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.