जौनपुर रैली में नोटबंदी पर राहुल गांधी की दो टूक - कहा, मोदी ने जनता के रगों से निकाल लिए खून

जौनपुर रैली में नोटबंदी पर राहुल गांधी की दो टूक - कहा, मोदी ने जनता के रगों से निकाल लिए खून
rahul gandhi

उत्तर प्रदेश में यहां एक रैली में राहुल ने लोगों को मोदी के खिलाफ 'मुर्दाबाद' के नारे लगाने से रोकते हुए कहा कि वह प्रधानमंत्री हैं और हमें किसी के लिए भी 'मुर्दाबाद' शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि नोटबंदी का फैसला कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 99 फीसदी भारतीयों के रगों से खून खींच लिया।



उत्तर प्रदेश में यहां एक रैली में राहुल ने लोगों को मोदी के खिलाफ 'मुर्दाबाद' के नारे लगाने से रोकते हुए कहा कि वह प्रधानमंत्री हैं और हमें किसी के लिए भी 'मुर्दाबाद' शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश से भ्रष्टाचार व काला धन को खत्म करने के लिए कांग्रेस सरकार के किसी भी कदम का समर्थन करेगा, लेकिन नोटबंदी न तो भ्रष्टाचार और न ही काले धन के खिलाफ है।



उन्होंने कहा कि हम भ्रष्टाचार को भारत से उखाड़ फेंकना चाहते हैं। यदि सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ कोई फैसला लेगी, तो हम उसका 100 फीसदी समर्थन करेंगे। राहुल गांधी ने कहा कि 8 नवंबर को देश में मौजूद 86 फीसदी नकदी को अमान्य करने का फैसला भारत के गरीब लोगों के खिलाफ है। इसके अलवा नोटबंदी भारत के 90 फीसदी लोगों, किसानों व मजदूरों के खिलाफ है। उनसे मंजूरी लिए बिना मोदी ने उनके रगों से खून निकाल लिया है। 



जौनपुर में राहुल गांधी के भाषण के शुरुआत के साथ ही भीड़ में मौजूद कुछ लोग मोदी के खिलाफ नारे लगाने लगे। तब कांग्रेस उपाध्यक्ष ने उनसे कहा कि हमारा मोदी तथा भारतीय जनता पार्टी (BJP) से विचारों को लेकर मतभेद है। इसके साथ ही कहा कि नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं। उनसे राजनीतिक लड़ाई है। उन्होंने कहा कि इस शब्द का इस्तेमाल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के लोग करते हैं, हम नहीं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned