scriptTwo tourist destination in the new year | नए साल में दो पर्यटन स्थल | Patrika News

नए साल में दो पर्यटन स्थल

कायलाना झील के पास करीब 32.30 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन माचिया बायो...

जोधपुर

Updated: January 16, 2015 12:09:36 pm

जोधपुर। कायलाना झील के पास करीब 32.30 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन माचिया बायोलॉजिकल पार्क मार्च तक तैयार होकर दर्शकों के लिए खोल दिया जाएगा। वर्तमान में उम्मेद उद्यान परिसर में संचालित जंतुआलय के बड़े वन्यजीव लॉयन, पैंथर सहित चीतल, काले हरिण, चिंकारे, घडियाल, मगरमच्छ को फरवरी 2015 तक माचिया पार्क में शिफ्ट करने की कवायद तेज हो गई है।

ये सब तैयार
करीब 604.69 हेक्टेयर क्षेत्रफल वाले माचिया वन खंड के 41 हेक्टेयर एरिया में निर्माणाधीन बायोलॉजिकल पार्क में मुख्य द्वार, वाहन पार्किग, फूड स्टोर, कैफेटेरिया, स्टाफ क्वार्टर, इंटरप्रिटिशेन सेन्टर, टिकट विंडो, जू डायरेक्टर का प्रशासनिक भवन, लॉन, विजिटर रोड, सर्विस रोड, आठ एन्क्लोजर्स, वन्यजीव अस्पताल, पार्किग स्थल, वाटर टैंक तैयार हो चुके हैं। पौधरोपण, इनरिचमेंट व लैण्ड स्केपिंग का कार्य अंतिम चरण में है।

32.30 करोड़ का वित्तीय सहयोग
विशेष्ाज्ञों के अनुसार, शहर से दूर प्रदूष्ाण रहित क्षेत्र में नवनिर्मित जंतुआलय में शिफ्ट होने के बाद सभी बड़े वन्यजीवों के जीवनकाल एवं आयु में सकारात्मक परिवर्तन आएगा। जापान इंटरनेशनल कॉ-ऑपरेशन एजेन्सी "जाइका", तेरहवें वित्त आयोग एवं राज्य सरकार से कुल 32.30 करोड़ का वित्तीय सहयोग मिला है।

देश भर से लाएंगे आकष्ाüक वन्यजीव
माचिया पार्क को मार्च से पहले दर्शकों के लिए खोलने की तैयारी युद्ध स्तर पर की जा रही है। पार्क में देश के विभिन्न जंतुआलयों से लॉयन, टाइगर, जैकाल, हायना, जैगुआर सहित मरू प्रदेश में पाए जाने विभिन्न तरह के सरिसृप, मरू लोमड़ी, मरू बिल्ली सहित कई आकर्षक वन्यजीव भी रखे जाएंगे। आठ पिंजरों में उम्मेद उद्यान में संचालित जू से वन्यजीव शिफ्टिंग फरवरी तक कर दी जाएगी।
महेन्द्र सिंह राठौड़, उपवन
संरक्षक (वन्यजीव) जोधपुर।

जोधपुर। करीब 930 लाख रूपए की लागत से कायलाना झील के पास भीम भड़क जाने वाले मार्ग पर 50 हेक्टेयर में फैली सुरम्य पहाडियों के मध्य बायोडाइवर्सिटी पार्क जंगल की अनुभूति कराएगा।

शहरवासियों के साथ देशी-विदेशी पर्यटक भी प्राकृतिक छठा को निहार सकेंगे। जोधपुर शहर के पर्यावरणीय संतुलन एवं पर्यटन विकास के लिए कायलाना से सटे बड़ा भाखर वनखंड को बायोडाइवर्सिटी पार्क के रूप में विकसित करने के लिए 250 लाख की वित्तिय स्वीकृति भी जारी हो चुकी है। विस्तृत परियोजना रिपोर्ट को राज्य सरकार से हरी झंडी मिलते ही निर्माण कार्य आरंभ हो जाएगा।

250 लाख रूपए मिले
बायोडाइवर्सिटी पार्क के लिए कुल 250 लाख रूपए मिल चुके हैं। इस बाबत क्षेत्रीय विधायक सूर्यकांता व्यास एवं जिला कलक्टर से बैठक के बाद उन्हें डीपीआर की प्रतिलिपि सौंपी जा चुकी है। विस्तृत परियोजना रिपोर्ट की राज्य सरकार से स्वीकृति मिलते ही निर्माण कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।
- विधुशेखर दवे, कार्यवाहक उपवन संरक्षक जोधपुर

प्राकृतिक झरना व हर्बल पार्क होगा आकष्ाüण
आरएसआरडीसी के माध्यम से तैयार होने वाले बायोडाइवर्सिटी पार्क के चारों तरफ हेरिटेज दीवार व पांच विशाल वॉच टॉवर बनाए जाएंगे। पार्क में इॅको ट्रेल्स का रोमांच व चट्टानों में बहते पानी से प्राकृतिक झरने का आनंद भी लिया जा सकेगा।

पार्क परिसर में जगह-जगह रैन शेल्टर्स एवं विश्राम स्थल पर शहरवासी बारिश के बीच प्रकृति का लुत्फ उठा सकेंगे। इसके अलावा हर्बल पार्क, केक्टस गार्डन, योगा गार्डन और विविधताओं से परिपूर्ण फूलों का बगीचा होगा। पार्क में एक से दूसरी पहाड़ी तक पहुंचने के लिए लकड़ी व बांस के पुल निर्मित किए जाएंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीश्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.