scriptraksha badhan 2021 shayari in hindi | Rakhi Shayari in Hindi: राखी पर भाई-बहन से जुड़ी शायरी | Patrika News

Rakhi Shayari in Hindi: राखी पर भाई-बहन से जुड़ी शायरी

Rakhi Shayari in Hindi: रक्षाबंधन के पर्व पर इन शायरियों के माध्यम से आप अपनों को राखी का बधाई संदेश भेज सकते हैं।

नई दिल्ली

Published: August 22, 2021 07:29:26 am

Rakhi Shayari in Hindi: भाई-बहन के आपसी प्रेम का पर्व रक्षाबंधन हिंदू धर्म के प्रमुख त्यौहारों में एक है। इस मौके पर आप रक्षा बंधन शायरियों के माध्यम से अपनों को बधाई संदेश दे सकते हैं। यहां पढ़िए ऐसी ही कुछ शायरियों के बारे में
rakhi_shayari_in_hindi.jpg

Rakhi Shayari in Hindi


जब भी मुसीबत पड़ेगी हम पर,
हमारे हक में दुआ मांगेगा कौन?
जब बहनें ही न रहेंगी इस दुनिया में,
तो राखी बांधेगा कौन?

गुलशन से कोई फूल मयस्सर न जब हुआ
तितली ने राखी बांधी दी कांटे की नोक पर।
न मांगे वो धन और दौलत, न मांगे उपहार,
चाहत बहन की इतनी कि बस बना रहे प्यार।
गम न कोई पास में आए, खुशियां मिलें हजार,
मेरी बहन की हर मनोकामना पूरी हो यही है दुआ दिल से।
यह भी पढ़ें

Raksha Bandhan 2021 Wishes and Quotes : इन स्पेशल मैसेज, कोट्स से विश करें रक्षाबंधन, भाई-बहन के रिश्तों में बढ़ेगा प्यार

वो सदा ख्याल रखता है उसका,
और उसे सिर आंखों पर बिठाता है।
दुनिया का हर भाई अपनी बहन को,
जी-जान से भी ज्यादा चाहता है।

भाई की कलाई पर राखी बांधे बहना,
मांगती है वादा संग ही रहना,
बना रहे यूं ही रिश्ता बना रहे ये प्यार,
मेरी प्यारी बहना को मुबारक हो रक्षाबंधन का त्यौहार।
यह भी पढ़ें

फ्लिपकार्ट की रक्षा बंधन सेल में स्मार्टफोन और अन्य प्रोडक्ट्स पर मिल रहे हैं ये आकर्षक ऑफर्स

मन को छू जाती है तेरी हर बात,
आंखों से पढ़ लेती हो मेरे जज्बात,
राखी बांध हर लेती हो हर सब दुख,
जीवन में इससे बड़ा नहीं कोई सुख।

सावन के महीने में जो पावन पर्व ये आता है,
हर बहन को अपने भाई से मिलवाता है।
रक्षाबंधन का ये त्यौहार है ऐसा,
भाई-बहन के लिए ढेरों खुशियां लाता है।
यह भी पढ़ें

रक्षाबंधन पर अमेजन दे रहा है स्मार्टफोन, टीवी और एक्सेसरीज पर भारी छूट

कितने दिनों के बाद,
सूनी कलाई पर बहना का प्यार आया है।
ये प्यार ही है जिसने भाई का जीवन जगमग बनाया है,
मेरी प्यारी बहना को राखी की बधाई।

भाई की खुशियों की खातिर मांगे बहन दुआएं,
दुख की घडियां भाई के जीवन में कभी न आए।
बांध रही है राखी बहना,
माथे चंदन तिलक लगाए।
कह रही ईश्वर से,
सब बलाओं से वो भाई को बचाए।

सावन की रिमझिम फुहार है,
रक्षाबंधन का त्यौहार है।
भाई बहन की मीठी सी तकरार है,
प्यार और खुशियों का त्यौहार है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.