सर्वे में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, देश में दवा से ज्यादा शराब पर खर्च कर रहे लोग

देश के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य के मुकाबले शराब और तंबाकू पर तीन गुनी ज्यादा रकम खर्च कर रहे हैं। ताजा सर्वेक्षण रिपोर्ट में यह बात सामने आई है।

By: Abhishek Pareek

Published: 07 Nov 2016, 08:01 AM IST

देश के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य के मुकाबले शराब और तंबाकू पर तीन गुनी ज्यादा रकम खर्च कर रहे हैं। ताजा सर्वेक्षण रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। क्रोम डाटा एनालिसिस एंड मीडिया की ओर से ग्रामीण जीवनशैली पर किए गए सर्वेक्षण की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ। 



इस सर्वेक्षण रिपोर्ट में कहा गया है कि देश के ग्रामीण इलाकों में लोग हर महीने 140 रुपए शराब पर खर्च करते हैं। वहीं 196 रुपए तंबाकू उत्पादों पर, लेकिन सेहत पर यह खर्च महज 56 रुपए है। आधुनिक चिकित्सा पर लोगों की निर्भरता कम है। 




यह सर्वेक्षण 19 राज्यों में फैले 50 हजार गांवों में किया गया। इसमें कहा गया है कि उन इलाकों के महज एक फीसदी परिवार साल में सौंदर्य प्रसाधन सामग्री पर एक हजार या उससे ज्यादा रकम खर्च करते हैं जबकि 63 फीसदी लोगों के मामले में यह खर्च 400 रुपए से भी कम है। 




माना जा रहा है कि स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार और लोगों में इसके प्रति जागरुकता अभियानों की कमी के चलते यह स्थिति है। इनमें मनोरंजन के साधनों की कमी के चलते नशे का प्रयोग भी एक कारण हो सकता है।



एलोपैथी के बजाय घरेलू इलाज को तरजीह

ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सुविधाओं पर खर्च कम होने की प्रमुख वजह है कि वहां लोग अब भी एलोपैथिक दवाओं की बजाय घरेलू उपायों को ही तरजीह देते हैं। 
Show More
Abhishek Pareek
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned