scriptSBI withdraws controversial circular on recruitment of pregnant women | महिला आयोग के नोटिस के बाद झुका SBI, विवादित सर्कुलर लिया वापस | Patrika News

महिला आयोग के नोटिस के बाद झुका SBI, विवादित सर्कुलर लिया वापस

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने विवादित सर्कुलर को विवादों के बाद बयान जारी कर वापिस लेने का निर्णय लिया है और पुराने नियमों को बहाल किया है। इस मामले में महिला आयोग से भी एसबीआई को नोटिस भेजा गया था।

Published: January 29, 2022 05:44:40 pm

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने सर्कुलर को लेकर जारी विवादों के बाद इसे वापिस लेने का निर्णय लिया है। शनिवार को एसबीआई ने एक बयान जारी कर कहा कि गर्भवती महिलाओं की भर्ती को लेकर जारी सर्कुलर को निलंबित करने का फैसला किया गया है। ये बयान इसलिए भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि महिला आयोग ने भी इसको लेकर आपत्ति जताई थी एसबीआई को नोटिस भेजकर जवाब मांगा था। सोशल मीडिया पर भी लोगों ने एसबीआई के सर्कुलर को भेदभावपूर्ण बताया था।
SBI withdraws controversial circular on recruitment of pregnant women
SBI withdraws controversial circular on recruitment of pregnant women

एसबीआई ने क्या कहा?


SBI ने अपने अपने बयान में कहा, "SBI ने हाल ही में बैंक में भर्ती के लिए विभिन्न फिटनेस मानकों की समीक्षा की है, जिसमें गर्भवती महिला उम्मीदवारों के लिए मानदंड भी शामिल हैं, संशोधित दिशानिर्देशों का उद्देश्य विभिन्न स्वास्थ्य मापदंडों पर स्पष्टता प्रदान करना था जहां निर्देश स्पष्ट नहीं थे या बहुत पुराने थे। मीडिया के कुछ वर्ग ने इस संबंध में मानदंडों में संशोधन को महिलाओं के प्रति भेदभावपूर्ण बताया है।"

एसबीआई ने आगे लिखा, "हम हमेशा अपनी महिला कर्मचारियों की देखभाल और सशक्तिकरण के प्रति हमेशा सक्रिय रहे हैं और अब ये कुल कार्यबल का लगभग 25 प्रतिशत हैं। कोरोना के समय में सरकार के निर्देशों के अनुसार गर्भवती महिला कर्मचारियों को कार्यालय में उपस्थित होने से छूट दी गई है और घर से काम करने की अनुमति दी गई है।"

नियमों में किया संशोधन

एसबीआई ने लिखा, "हालांकि, जनता की भावनाओं को देखते हुए, SBI ने गर्भवती महिला उम्मीदवारों की भर्ती के संबंध में संशोधित निर्देशों को स्थगित करने और पुराने निर्देशों को जारी रखने का निर्णय लिया है।"
बता दें कि इससे पहले 6 महीने तक की गर्भवती महिला उम्मीदवारों को कुछ शर्तों के आधार पर बैंक में काम करने की अनुमति थी।


क्या था सर्कुलर में?


SBI बैंक द्वारा 31 दिसंबर को एक सर्कुलर जारी किया गया था। इस सर्कुलर में कहा गया था कि यदि गर्भावस्था 3 महीने से अधिक की है, तो उम्मीदवार को अस्थायी रूप से अयोग्य है और उसे बच्चे के जन्म के बाद 4 महीने के भीतर भर्ती होने की अनुमति मिल दी जा सकती है।

इस सर्कुलर को लेकर एसबीआई को सोशल मीडिया पोर भी काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। यहाँ तक कि महिला आयोग ने भी नोटिस भेजकर जवाब मांगा था और इसे भेदभावपूर्ण बताया था।

यह भी पढ़ें

SBI ने प्रेग्नेंट महिलाओं को बताया 'अनफिट', महिला आयोग ने भेजा नोटिस



यह भी पढ़ें

SBI बंद करने वाली है आपका बैंक अकाउंट, यह है कारण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

Drone Festival: दिल्ली के प्रगति मैदान में भारत के सबसे बड़े ड्रोन फेस्टीवल का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदीअजमेर शरीफ दरगाह में मंदिर होने के दावे के बाद बढ़ाई गई सुरक्षा, पुलिस बल तैनातपहली बार हिंदी लेखिका को मिला अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार, एक मॉं की पाकिस्तान यात्रा पर आधारित है उपन्यासजम्मू कश्मीर: टीवी कलाकार अमरीन भट की हत्या का 24 घंटे में लिया बदला, तीन दिन में सुरक्षा बलों ने मारे 10 आतंकीमहरौली में गैस पाइपलाइन में लीकेज के बाद जोरदार धमाका लगी आग, एक घायलमानसून ने अब तक नहीं दी दस्तक, हो सकती है देरखिलाड़ियों को भगाकर स्टेडियम में कुत्ता घुमाने वाले IAS अधिकारी का ट्रांसफर, पति लद्दाख तो पत्नी को भेजा अरुणाचलमहंगाई का असर! परिवहन मंत्रालय ने की थर्ड पार्टी बीमा दरों में बढ़ोतरी, नई दरें जारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.