scriptSupreme Court Denies Urgent Hearing On plea against 'Talaq-e-Hasan' | तलाक-ए-हसन को चुनौती देने वाली याचिका पर जल्द सुनवाई करने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इनकार, कहा - 'इसमें क्या है अरजेंसी?' | Patrika News

तलाक-ए-हसन को चुनौती देने वाली याचिका पर जल्द सुनवाई करने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इनकार, कहा - 'इसमें क्या है अरजेंसी?'

मुस्लिम पुरुषों को तलाक का एकतरफा अधिकार देने वाले तलाक-ए-हसन और दूसरे प्रावधानों को चुनौती देने वाली याचिका को जल्द सुनवाई के लिए लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने मना कर दिया है। कोर्ट में दाखिल की गई याचिका में दलील दी गई कि तलाक-ए-हसन या इस तरह के अन्य एकतरफा अतिरिक्त न्यायिक तलाक प्रक्रियाएं न तो मानवाधिकारों और न ही जेंडर अनुपात के आधुनिक सिद्धांतों से मेल खाती हैं।

नई दिल्ली

Published: May 09, 2022 04:42:51 pm

तीन तलाक यानी तलाक-ए-बिद्दत के बाद अब तलाक-ए-हसन को लेकर मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा है। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से पहले ही तीन तलाक को अपराध घोषित किया जा चुका है। तो वहीं मुस्लिमों में तलाक के लिए समान कानून की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई है। याचिका दायर कर 'तलाक-ए-हसन' और 'एकतरफा न्यायेतर तलाक' के अन्य सभी रूपों को अमान्य और असंवैधानिक घोषित करने की गुहार लगाई गई है। मगर मुस्लिम पुरुषों को तलाक का एकतरफा अधिकार देने वाले तलाक-ए-हसन और दूसरे प्रावधानों को चुनौती देने वाली याचिका को जल्द सुनवाई के लिए लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने मना कर दिया है।
तलाक-ए-हसन को चुनौती देने वाली याचिका पर जल्द सुनवाई करने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इनकार, कहा - 'इसमें क्या है अरजेंसी?'
तलाक-ए-हसन को चुनौती देने वाली याचिका पर जल्द सुनवाई करने से सुप्रीम कोर्ट ने किया इनकार, कहा - 'इसमें क्या है अरजेंसी?'
पति की तरफ से पहला तलाक पा चुकी गाजियाबाद की बेनजीर हिना की याचिका जल्द सुनने की मांग पर चीफ जस्टिस एनवी रमना की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा कि मामले को तुरंत सुनवाई के लिए लगाना जरूरी नहीं है। सीजेआई ने कोई भी तिथि देने से इनकार करते हुए कहा, "यह क्या है, इसमें क्या अरजेंसी है?" बता दें वकील अश्वनी कुमार उपाध्याय ने मुख्य न्यायाधीश को याचिका पर जल्द सुनवाई की मांग के लिए पत्र लिखा था। याचिका में तलाक-ए-हसन व ऐसी अन्य प्रक्रिया को अवैध ठहराने व रद्द करने की मांग की गई थी।
सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक यानी की तलाक-ए-बिद्दत को भले ही असंवैधानिक घोषित कर दिया था, मगर तलाक के दूसरे प्रकार अभी भी वैध हैं और वे पूर्व की भांति ही लागू रहेंगे। कहने के मतलब यह है की पति यानी की शौहर कुरान के मुताबिक एक-एक माह के अंतराल पर तीन बार तलाक कह कर बीवी से संबंध खत्म कर सकता है। यानी की तलाक-ए-अहसन और तलाक-ए-हसन को असंवैधानिक, अवैध या आपराधिक घोषित नहीं किया गया है। जिस कारण से गाजियाबाद की बेनजीर हिना ने कोर्ट में याचिका दायर की है।

यह भी पढ़ें

तलाक-ए-हसन के खिलाफ मुस्लिम महिला ने खटखटाया कोर्ट का दरवाजा, जानिए क्यों की जा रही इसे खत्म करने की मांग

याचिकाकर्ता के वकील अश्विनी उपाध्याय ने कहा है कि बेनज़ीर को 19 अप्रैल को पहला तलाक मिल चुका है। बेनज़ीर की याचिका में यह मांग भी की गई है कि मुस्लिम लड़कियों को तलाक के मामले में बाकी लड़कियों जैसे अधिकार मिलने चाहिए। याचिका में कहा गया है कि धार्मिक स्वतंत्रता के नाम पर मुस्लिम महिलाओं को कानून की नजर में समानता और सम्मान से जीवन जीने जैसे मौलिक अधिकारों से वंचित नहीं रखा जा सकता है। याचिका में मांग की गई है कि तलाक-ए-हसन और अदालती तरीके से न होने वाले दूसरे सभी किस्म के तलाक को असंवैधानिक करार दिया जाए।

यह भी पढ़ें

राजद्रोह कानून पर सुप्रीम कोर्ट कर रहा विचार, अटॉर्नी जनरल ने कहा - 'हनुमान चालीसा पढ़ने पर राजद्रोह का हुआ था मुकदमा दर्ज'

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

शिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारभूस्खलन से हिमाचल में 100 से अधिक सड़कें ठप, चार दिन भारी बारिश का अलर्टबिहारः मंत्रियों में विभागों का बंटवारा, गृह मंत्रालय नीतीश के पास, तेजस्वी के पास 4 विभाग, तेज प्रताप का घटा कद, देखें ListVideo मध्यप्रदेश में बाढ़ के हालात, सात जिलों में राहत-बचाव का काम शुरू, लोगों को घरों से निकालाMaharashtra: खाने को लेकर कैटरिंग मैनेजर पर भड़के शिवसेना MLA संतोष बांगर, कर्मचारी को जड़ दिए थप्पड़कश्मीरी पंडित की हत्या मामले में सामने आई मनोज सिन्हा, महबूबा मुफ्ती व उमर अब्दुल्ला की प्रतिक्रिया, जानिए क्या कहा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.