scriptTerrorist group mujahideen gazwat hind take responsibility of IED | आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन गजवात हिंद ने ली गाजीपुर में आईईडी प्लांट की जिम्मेदारी | Patrika News

आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन गजवात हिंद ने ली गाजीपुर में आईईडी प्लांट की जिम्मेदारी

गणतंत्र दिवस से पहले राजधानी दिल्ली को दहलाने वाले साजिश की जिम्मदारी अब एक आतंकी संगठन ने ली है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक गाजीपुर फूल मंडी को विस्फोटक से उड़ाने की साजिश आतंकी सगंठन मुजाहिद्दीन गजवात हिंद ने रची थी।

नई दिल्ली

Updated: January 18, 2022 07:18:45 am

देश में गणतंत्र दिवस से पहले राजधानी दिल्ली को दहलाने वाले साजिश की जिम्मदारी अब एक आतंकी संगठन ने ली है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक गाजीपुर फूल मंडी को विस्फोटक से उड़ाने की साजिश आतंकी सगंठन मुजाहिद्दीन गजवात हिंद ने रची थी। ये आतंकी संगठन एक दूसरे आतंकी संगठन, अल कायदा से जुड़ा हुआ है। इस आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन गजवात हिंद ने टेलीग्राम पर यह लेटर भेजकर इस आईईडी (IED Blast) हमले की जिम्मेदारी ली है।
Terrorist group mujahideen gazwat hind take responsibility of IED
गाजीपुर में आईईडी (IED)
एक घंटे, आठ मिनट में फटना था आईईडी:
मीड़िया रिपोर्ट के मुताबिक, इस बात की जानकारी मिली है कि गाजीपुर मंडी में लगाए गए बम एक घंटे आठ मिनट पर फटना था। हालांकि, अभी तक ये मालूम नहीं है कि भारत में बमों की कितनी खेप को भेजा गया है। लेकिन पंजाब पुलिस ने ही अकेले 20 आईईडी, 5-6 किलोग्राम का आईडी और 100 ग्रेनेड को जब्त किया है।

पुलिस ने आगे बताया:
पुलिस ने आगे बताया कि पाकिस्तान में मौजूद आतंकियों से कहा गया है कि वे पंजाब के अलावा उत्तर प्रदेश जैसे चुनावी राज्यों और महाराष्ट्र, गुजरात और दिल्ली जैसे संवेदनशील राज्यों में धमाकों के लिए अधिक आईईडी और टिफिन बम तैयार करें।
यह भी पढ़ें

हम 'मेक इन इंडिया, मेक फॉर द वर्ल्ड' के विचार के साथ आगे बढ़ रहे- पीएम मोदी

खामी के कारण नहीं हुआ विस्फोट:
सूत्रों ने जांच रिपोर्ट के हवाले से बताया कि दिल्ली पुलिस को अंतिम पोस्ट-ब्लास्ट जांच रिपोर्ट सौंप दी गई है। इसमें लिखा है कि आईईडी में अमोनियम नाइट्रेट, आरडीएक्स, नौ वोल्ट की बैटरी, विस्फोट के लिए भरे जाने वाले लोहे के टुकड़े और एक टाइमर डिवाइस लगी हुई थी। सूत्रों ने बताया कि आईईडी में आरडीएक्स का उपयोग प्रमुख विस्फोटक के रूप में किया गया था लेकिन सर्किट में एक खामी के कारण यह विस्फोट नहीं हुआ।

हाई अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां:
विशेषज्ञों ने एक बैक-पैक में रखे लोहे के एक बक्से में रखे लगभग तीन किलोग्राम आईईडी को निष्क्रिय किया था। एनएसडी कर्मियों द्वारा फूल मंडी में एक गड्ढा खोदकर आईईडी को उसके अंदर विस्फोट करा दिया गया।
गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) से ठीक पहले राष्ट्रीय राजधानी में विस्फोटक मिलने के कारण इस घटना को दिल्ली पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों ने काफी गंभीरता से लिया था। गणतंत्र दिवस के कारण सुरक्षा एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.