scriptUniform Civil Code draft submitted to Uttarakhand CM bill will be presented in vidhansabha | उत्तराखंड में अब लागू होगा समान नागरिकता कानून, 48 घंटे में संहिता से कानून बन जाएगा UCC | Patrika News

उत्तराखंड में अब लागू होगा समान नागरिकता कानून, 48 घंटे में संहिता से कानून बन जाएगा UCC

locationनई दिल्लीPublished: Feb 04, 2024 08:33:28 pm

Submitted by:

Shivam Shukla

Uniform Civil Code: रविवार को उत्तराखंड कैबिनेट ने समान नागरिकता संहिता को मंजूरी दे दी है। बता दें कि अब यह बिल सदन में पेश किया जाएगा।

Uniform Civil Code

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अगुवाई वाली कैबिनेट ने यूनिफॉर्म सिविल कोड पर मुहर लगा दी है। अब यह बिल आगामी विधानसभा सत्र यानी 6 फरवरी को विधानसभा में पेश किया जाएगा। बता दें कि सीएम धामी ने रविवार शाम को अपने आवास पर एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई थी, जिसमें समान नागरिकता संहिता का ड्राफ्ट पेश किया गया था। इसके बाद मंत्रीमंडल ने इस अपनी स्वीकृति दे दी है।

800 पन्नों की रिपोर्ट में की गई ये सिफारिश

सूत्रों ने बताया कि 800 पन्नों की रिपोर्ट में हलाला, इद्दत, तीन तलाक को सजा योग्य अपराध बताने की सिफारिश की है। इसके साथ ही सभी धर्मों की महिलाओं के लिए पैतृक संपत्ति में समान अधिकार, शादी और तलाक के लिए एक जैसे नियम, बहुविवाह पर रोक जैसे प्रावधानों की सिफारिश की गई है। खास बात यह है कि यूसीसी में जनसंख्या नियंत्रण कानून को शामिल नहीं किया गया है।

शाह ने पत्रिका से कहा था - अच्छा ही होगा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पिछले दिनों पत्रिका के साथ इंटरव्यू में यूसीसी के मुद्दे पर कहा था कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने कमेटी बनाई है। इसका काम समाप्त होने के कगार पर है। मुख्यमंत्री ने कहा भी है कि जल्द लेकर आएंगे। अच्छा ही होगा।

ट्रेंडिंग वीडियो