scriptXPRIZE Carbon Removal Challenge: save earth win the biggest prize with rajarthan patrika | XPRIZE Carbon Removal Challenge: पत्रिका बताएगा कैसे जीत सकते हैं धरती को बचाने के लिए इतिहास का सबसे बड़ा इनाम | Patrika News

XPRIZE Carbon Removal Challenge: पत्रिका बताएगा कैसे जीत सकते हैं धरती को बचाने के लिए इतिहास का सबसे बड़ा इनाम

राजस्थान पत्रिका समाचार पत्र समूह एक्सप्राइज कार्बन रिमूवल चैलेंज में भागीदारी कर रहा है ताकि जलवायु के प्रति जागरूकता लाने के साथ ही देश की प्रतिभाओं और नवाचार को अंतरराष्ट्रीय मंच भी मिले। जलवायु संरक्षण की इस वैश्विक मुहिम से आपके लिए है 100 मिलियन डॉलर जीतने का मौका। पुरस्कार राशि का स्पॉन्सर है मस्क फाउंडेशन।

नई दिल्ली

Published: November 15, 2021 09:37:55 am

नई दिल्ली। जलवायु परिवर्तन की चुनौती से निपटने और पृथ्वी के कार्बन चक्र को पुन: संतुलित करने के उद्देश्य से शुरू अमरीकी संगठन एक्सप्राइज के कार्बन रिमूवलÓ चैलेंज ( XPRIZE Carbon Removal Challenge ) में विजेताओं को 100 मिलियन डॉलर (अभी डॉलर दर से लगभग 742 करोड़ रु.) की पुरस्कार राशि जीतने का अवसर मिलेगा। इस अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में प्रतिभागियों को जलवायु संरक्षण की ठोस योजना देनी होगी।
 XPRIZE Carbon Removal Challenge
XPRIZE Carbon Removal Challenge
पत्रिका, एक्सप्राइज कार्बन रिमूवलÓ चैलेंज में भागीदारी कर रहा है ताकि जलवायु के प्रति जागरूकता लाने के साथ ही देश की प्रतिभाओं और नवाचार को अंतरराष्ट्रीय मंच भी मिले। पुरस्कार राशि दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क से जुड़े मस्क फाउंडेशन की तरफ से है।
यह भी पढ़ेंः Delhi Air Pollution: दिल्ली की हवा आज भी बहुत खराब, लॉकडाउन जैसे हालात, स्कूल बंद, घर से काम करेंगे सरकारी कर्मचारी

कैसे मिलेगा पुरस्कार?
प्रतियोगिता शुरू होने के एक साल बाद जज प्रविष्टियों की समीक्षा करेंगे। इसमें 1-1 मिलियन डॉलर के 15 माइल स्टोन अवॉर्ड दिए जाएंगे। 22 अप्रेल-2022 को 15 मिलियन डॉलर के माइलस्टोन पुरस्कारों की, जबकि 22 अप्रेल, 2025 को 80 मिलियन डॉलर के मुख्य पुरस्कार की घोषणा की जाएगी।
चैलेंज: कार्बन हटाने का फॉर्मूला
4 वर्ष अवधि की इस प्रतियोगिता में विश्व के किसी भी कोने से इनोवेटर या टीमें हिस्सा ले सकती हैं, जो वायुमंडल और महासागरों की सतह से कार्बन डाइऑक्साइड को खींचकर स्थायी रूप से अलग करने का फॉर्मूला सुझा सकें। पुरस्कार जीतने के लिए टीमों को प्रति वर्ष कम से कम एक हजार टन कार्बन हटाए जाने का क्रिएटिव हल प्रदर्शित करना होगा, जो आगे चलकर सालाना 10 लाख टन और फिर गीगाटन तक कार्बन हटाने में सक्षम हो। अस्थायी या अल्पकालिक उपायों को प्रतियोगिता में शामिल नहीं किया जाएगा।
(एक गीगाटन=एक अरब मीट्रिक टन (2.2 ट्रिलियन पाउंड)
प्रतियोगिता के दो चरण
पहला : 1 वर्ष के लिए 2021-22 (प्रमाणित कॉन्सेप्ट पेश करना होगा)
दूसरा : 2 से 4 वर्ष 20200-2025 (योजना का फुल डेमोंस्ट्रेशन)

कौन ले सकता है भाग?
क्यूबा, ईरान, उत्तर कोरिया, सीरिया और यूक्रेन के क्रीमिया क्षेत्र को छोड़कर विश्व में हर देश या द्वीप का नागरिक प्रतियोगिता के लिए पात्र ह
रजिस्ट्रेशन का तरीका
22 अप्रेल 2021 से प्रतियोगिता के लिए पंजीकरण शुरू हो गया है। इसमें शिक्षाविद, उद्यमी, इनोवेटर आदि टीम बना सकते हैं। पंजीकरण के लिए अकाउंट बनाकर 250 डॉलर शुल्क जमा करवाना होगा। शुल्क व हिस्सा लेने के लिए विस्तृत और अधिकृत जानकारी क्यूआर कोड के जरिए एक्सप्राइज की वेबसाइट पर जाएं।
439.jpgइतिहास को फिर से लिखने और अपने घर समान इस ग्रह पर सभी को बेहतर भविष्य देने के लिए इंसानी रचनात्मकता, नवाचार और प्रतिस्पर्धा में अभी देर नहीं हुई।
अनुशेह अंसारी, सीईओ, एक्सप्राइज

437.jpgमुझे उम्मीद है, विजेता टीमें जलवायु परिवर्तन जैसे गंभीर खतरे को हल करने में मदद करेंगी।
एलन मस्क (टेस्ला, स्पेसएक्स, न्यूरालिंक और द बोरिंग कंपनी के सह संस्थापक एवं सीईओ)

हम इस महत्वपूर्ण अभियान को उसी तरह आगे बढ़ाना चाहते हैं, जैसे एक्सप्राइज ने व्यावसायिक अंतरिक्ष यान को आगे बढ़ाया था।
पीटर एच. डायमंडिज, एमडी , (संस्थापक और कार्यकारी अध्यक्ष, एक्सप्राइज)
ये है पुरस्कार राशि
50 मिलियन डॉलर, विजेता
30 मिलियन डॉलर, तीन

यह भी पढ़ेंः दिल्ली के बाद अब हरियाणा में भी स्कूल बंद, प्रदूषण के चलते सरकार ने लिया फैसला

रनरअप्स
15 मिलियन डॉलर, 1-1 मिलियन डॉलर के 15 माइलस्टोन अवार्ड
05 मिलियन डॉलर, छात्र टीमों के लिए एक्सप्राइज देगा। (छात्र टीमों के लिए रजिस्ट्रेशन बंद हो चुका है)
क्यूआर कोड स्कैन कर एक्सप्राइज कार्बन रिमूवल चैलेंज से जुड़ी जरूरी जानकारी लें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कम उम्र में ही दौलत शोहरत हासिल कर लेते हैं इन 4 राशियों के लोग, होते हैं मेहनतीबाघिन के हमले से वाइल्ड बोर ढेर, देखते रहे गए पर्यटक, देखें टाइगर के शिकार का लाइव वीडियोइन 4 राशि की लड़कियों का हर जगह रहता है दबदबा, हर किसी पर पड़ती हैं भारीआनंद महिंद्रा ने पूरा किया वादा, जुगाड़ जीप बनाने वाले शख्स को बदले में दी नई Mahindra BoleroFace Moles Astrology: चेहरे की इन जगहों पर तिल होना धनवान होने की मानी जाती है निशानीइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशदेश में धूम मचाने आ रही हैं Maruti की ये शानदार CNG कारें, हैचबैक से लेकर SUV जैसी गाड़ियां शामिल

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवानहीं चाहिए अवार्ड! इन्होंने ठुकरा दिया पद्म सम्मान, जानिए क्या है वजहबिहार में तिरंगा फहराने के दौरान पाइप में करंट से बच्चे की मौत, कई झुलसेरेलवे का बड़ा फैसला: NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर रोक, रिजल्‍ट पर पुर्नविचार के लिए कमेटी गठितUP Assembly Elections 2022 : सपा सांसद आजम खां जेल से ही करेंगे नामांकन, कोर्ट ने दी अनुमतिहाईवे के ओवरब्रिजों में सीरियल बम प्लांट, जानिए सीएम योगी के लिए लेटर में क्या लिखा, Videoकिसान मनाएंगे विश्वासघात दिवस, करेंगे पीएम मोदी का पुतला दहन, जानिए क्यों ?गणतंत्र दिवस परेड में ड्रोन क्रैश, नृत्य कर रही महिलाएं घायल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.