script EXCLUSIVE:अयोध्या: सूर्यवंशी राम की नगरी में सूर्य की शक्ति से चलिए सरयू नदी की लहरों पर, पहली बार सोलर बोट से कर सकेंगे सरयू यात्रा | Yogi government will organize Saryu Yatra through solar boat for first time in India | Patrika News

EXCLUSIVE:अयोध्या: सूर्यवंशी राम की नगरी में सूर्य की शक्ति से चलिए सरयू नदी की लहरों पर, पहली बार सोलर बोट से कर सकेंगे सरयू यात्रा

locationअयोध्याPublished: Jan 16, 2024 02:26:27 pm

Submitted by:

anurag mishra

22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दिन देश भर के मेहमान अयोध्या पहुंचेंगे। इससे पहले सूर्य की शक्ति का इस्तेमाल नदी में बोट के जरिये घूमने को लेकर किया जाएगा। इससे पूरे देश में इनलैंड वॉटरवे सर्विसेस की रूपरेखा बदलकर जाएगी।

 

boting_.jpg
अयोध्या की सरयू नदी में पर्यटक सोलर बोट का आनंद ले सकेंगे।
अनुराग मिश्रा।अयोध्या: अयोध्या में सूर्य की शक्ति के ज़रिये जल्दी ही इनलैंड वॉटर ट्रांसपोर्ट की दिशा में एक क्रान्तिकारी कदम उठाने जा रहा है। 22 जनवरी से पहले सूर्य की शक्ति का इस्तेमाल नदी में बोट के ज़रिये घूमने को लेकर किया जाएगा। इससे पूरे देश में इनलैंड वॉटरवे सर्विसेस की रूपरेखा बदलकर जाएगी।

अयोध्या को मॉडल सोलर सिटी के रूप में परिवर्तित किए जाने की कल्पना साकार होने जा रही है । ऐसे में यहां देश में पहली बार सोलर पावर इनेबल्ड ई-बोट को सरयू में उतारा गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी मुख्यमंत्री योगी ने पहले ही सोलर सिटी की बात करते रहे हैं ।
उत्तर प्रदेश नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा अभिकरण (यूपीनेडा) ने अयोध्या की सरयू नदी में इस बोट सर्विस के नियमित संचालन की रूपरेखा तैयार कर ली है। इस बोट को सरयू घाट के किनारे असेंबल किया गया है तथा देश के विभिन्न कोनों से इसके कल-पुर्जे व अन्य साजो-सामान मंगाए गए हैं। फिलहाल, एक बोट को कंप्लीट कर लिया गया है तथा इसके टेस्टिंग फेज की प्रक्रिया जारी है। माना जा रहा है कि 22 जनवरी को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में होने वाले प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम के पूर्व इसका उद्घाटन किया जाएगा तथा आगे आने वाले दिनों में ऐसी अन्य बोटों के नियमित संचालन का मार्ग प्रशस्त होगा।
boting1.jpgकिस तरह से खास है सोलर पावर इनेबल्ड बोट
यह सोलर पावर इवेबल्ड बोट क्लीन एनर्जी के जरिए संचालन की परिकल्पना के आधार पर कार्य करती है। यह ड्यूअल मोड ऑपरेटिंग बोट है जो 100 प्रतिशत सोलर इलेक्ट्रिक पावर बेस पर काम करती है। इसे सोलर एनर्जी से चार्ज करने के साथ ही इलेक्ट्रिक एनर्जी के जरिए भी ऑपरेट किया जा सकता है। सबसे खास बात यह है कि यह बोट कैटामरैन केटेगरी की है जिसके अंतर्गत दो हल स्ट्रक्चर्स को जोड़कर एक बोट स्ट्रक्चर में कन्वर्ट किया जा सकता है। यह बोट फाइबरग्लास बॉडी युक्त है जोकि लाइट वेट व हेवी ऑपरेशन ड्यूरेबल मटीरिल से बनी है।
इसके साथ ही, बोट के संचालन के दौरान किसी प्रकार के ध्वनि या पर्यावरणीय प्रदूषण नहीं होता है। इस बोट में एक बार में 30 लोग यात्रा कर सकेंगे तथा यह सरयू नदी में नया घाट से संचालित होगी। इस बोट टूर का ट्रैवलिंग ड्यूरेशन एक घंटे से लेकर 45 मिनट के आसपास रखा जाएगा जिसमें सरयू नदी के किनारे स्थित विभिन्न ऐतिहासिक मंदिरों व धरोहरों का दर्शन यात्री कर सकेंगे। हालांकि, बोट की ऑपरेटिंग कैपेसिटी इससे कहीं ज्यादा है और पूरी तरह चार्ज होने पर 5 से 6 घंटे तक के प्रोपल्शन टाइमफ्रेम को मैनेज किया जा सकता है।
पुणे में तैयार यह सोलर बोट में एक साथ 30 यात्री बैठ सकेंगे
3.3 किलोवॉट रूफटॉप एसेंबल्ड सोलर पैनल युक्त बोट है रिमोट व्यूइंग से लैस है ये बोट इस बोट में एक बार में 30 यात्री सफ़र कर पाएंगे और यह सफ़र नदी के अंदर 3- चार किलोमीटर का होगा से चार किलोमीटर का होगा।
बोट को पुणे की सनी बोट्स प्राइवेट लिमिटेड की ओर से असेंबल किया गया है जबकि चेन्नई की रा सोर्स प्राइवेट लिमिटेड इसमें सोलर व प्रोपल्शन पार्टनर की भूमिका निभा रहाहै। यूपीनेडा के प्रोजेक्ट मैनेजर प्रवीण नाथ पाण्डेय ने बताया कि यह बोट 12 किलोवॉट इलेक्ट्रिक आउटबोर्ड ट्विन मोटर आधारित है। बोट में 46 किलोवॉट प्रति घंटा क्षमता वाली एलेपटी बैटरी लगाई गई है तथा बोट 30 पैसेंजर्स व 2 क्रू के लिहाज से ऑपरेशनल होगी।
17 से 18 तारीख के बीच बोट तमाम टेस्टिंग प्रक्रियाओं से गुजरेगी जिसमें जलावरतण भी शामिल होगा जिसके बाद आगामी 22 जनवरी के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के पहले इसका उद्घाटन हो जाएगा। यह बोट रिमोट व्यूइंग जैसी क्लास अपार्ट फैसिलिटी से भी लैस है।
बोट की रूफटॉप पर कुल 6 सोलर पैनल लगे हैं जोकि 550 वॉट पॉवर ऊर्जा का उत्पादन करते हैं। यह बोट लाइट वेट मैटीरियल और क्लीन एनर्जी बेस्ड होने के कारण नदी में संचालन के दौरान हाई स्पीड पर ऑपरेट होने में सक्षम है और क्रूजिंग के लिहाज से इसकी स्पीड 6 नॉट्स रहेगी जबकि यह 9 नॉट्स की टॉप स्पीड को भी प्राप्त कर सकता है।

ट्रेंडिंग वीडियो