script'A figure that people used to call 'Daddy' | 'एक ऐसी शख्सियत जिन्हें लोग 'डेडी' कहकर बुलाते थे' | Patrika News

'एक ऐसी शख्सियत जिन्हें लोग 'डेडी' कहकर बुलाते थे'

गट्टूलाल शर्मा का सामाजिक और धार्मिक क्षेत्र में रहा उल्लेखनीय योगदान

नीमच

Updated: April 25, 2022 08:18:27 pm

नीमच. भारतीय जनता पार्टी के कद्दावार नेताओं में सुमार रहे थे नीमच के गट्टूलाल शर्मा। पीडि़त मानवता की सेवा में उन्होंने अपना जीवन समर्पित कर दिया था। भगवान भोलनाथ के परम भक्त होने के साथ ही उन्होंने भूतेश्वर महादेव मंदिर विकास में अनुकर्णीय योगदान दिया। उनके द्वारा किए गए कार्यों को सैकड़ों लोग आज भी याद करते हैं।

'एक ऐसी शख्सियत जिन्हें लोग 'डेडी' कहकर बुलाते थे'
गट्टूलाल शर्मा
इतिहास साक्षी है कि नीमच की लालमाटी में समय समय पर अनगिनत ऐसी महान विभूतियों का जन्म हुआ है जिन्होंने अपना सम्पूर्ण जीवन समाज और धर्म के उत्थान के लिए समर्पित किया। ऐसे ही व्यक्तित्व के धनी गट्टूलाल शर्मा की 26 अप्रैल को प्रथम पुण्यतिथि है। स्वर्गीय शर्मा का जीवन समाजिक, धार्मिक और राजनीतिक कार्यों के लिए हमेशा समर्पित रहा। बचपन से उनका झुकाव अध्यात्म, शिव साधना और गोसेवा की ओर रहा। वे नर सेवा को ही नारायण सेवा मानते थे। वे फुटबॉल के श्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में भी लोकप्रिय रहे। नीमच शहर की एनएफए टीम से जयपुर में होने वाली डूरंड कप फुटबॉल प्रतियोगिता में अपने साथी अब्दुल करीम के साथ उत्कृष्ट खेल का प्रदर्शन किया। स्वर्गीय शर्मा का राजनीतिक जीवन भी शानदार रहा है। उन्होंने कई महत्वपूर्ण पदों की शोभा बढ़ाई। वर्ष 1982 से 1985 तक नीमच नगरपालिका अध्यक्ष रहे। वे अविभाजित मंदसौर जिले के भाजपा जिला महामंत्री रहे। वर्ष 1990 से 1993 तक नीमच भाजपा मंडल अध्यक्ष रहे। उनकी वरिष्ठ अभिभाषक के रूप में नीमच-मंदसौर-इंदौर तक अगल पहचान थी। जिला सहकारी बैंक में वर्ष 2005 में विधि सलाहकार नियुक्त हुए। वर्ष 2005-2006 में जिला अंत्योदय समिति में अध्यक्ष बने। भगवान भोले के परमभक्त रहते उन्होंने सावन मास में 25 सालों से लगातार मिट्टी के शिवलिंग नियमित रूप से प्रतिदिन बनाकर प्राण प्रतिष्ठा की। सूर्यास्त से पहले उन्हें विसर्जित किया गया। गोभक्त के रूप में भी उन्हें याद किय जाता है। वे प्रत्येक रविवार नियमित रूप से गायों को चारा, गुड का दलिया आदि अपने हाथों से खिलाते थे। वे अंतिम समय तक सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक क्षेत्र में सक्रिय रहे। उनकी कमी जीवन भर सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक क्षेत्र में खलेगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

'तमिल को भी हिंदी की तरह मिले समान अधिकार', CM स्टालिन की अपील के बाद PM मोदी ने दिया जवाबहिन्दी VS साऊथ की डिबेट पर कमल हासन ने रखी अपनी राय, कहा - 'हम अलग भाषा बोलते हैं लेकिन एक हैं'Asia Cup में भारत ने इंडोनेशिया को 16-0 से रौंदा, पाकिस्तान का सपना चूर-चूर करते हुए दिया डबल झटकाअजमेर की ख्वाजा साहब की दरगाह में हिन्दू प्रतीक चिन्ह होने का दावा, पुलिस जाप्ता तैनातबोरवेल में गिरा 12 साल का बालक : माधाराम के देशी जुगाड़ से मिली सफलता, प्रशासन ने थपथपाई पीठममता बनर्जी का बड़ा फैसला, अब राज्यपाल की जगह सीएम होंगी विश्वविद्यालयों की चांसलरयासीन मलिक के समर्थन में खालिस्तानी आतंकी ने अमरनाथ यात्रा को रोकने की दी धमकीलगातार दूसरी बार हैदराबाद पहुंचे PM मोदी से नहीं मिले तेलंगाना CM केसीआर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.