scriptA professor here had to give false information | यहां के एक प्रोफेसर को झूठी जानकारी देना पड़ गया भारी | Patrika News

यहां के एक प्रोफेसर को झूठी जानकारी देना पड़ गया भारी

उच्च शिक्षा विभाग ने प्राध्यापक शर्मा का अभ्यावेदन किया अमान्य

नीमच

Published: March 31, 2022 08:20:51 pm

मुकेश सहारिया, नीमच. अंतत: स्वामी विवेकानंद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय नीमच के वरिष्ठ प्राध्यापक डा. एलएन शर्मा को बुधवार को लीड कॉलेज प्राचार्य डा. वीके जैन ने कार्यमुक्त कर दिया। डा. शर्मा ने अपने तबादले को लेकर उच्च शिक्षा विभाग के समक्ष अभ्यावेदन प्रस्तुत किया था, जिसे विभाग ने अमान्य कर दिया है।
chhatarpur patrika news, Chhatarpur news, in chhatarpur, chhatarpur news, chhatarpur hindi news, Chhatarpur current news, chhatarpur crime news
chhatarpur patrika news, Chhatarpur news, in chhatarpur, chhatarpur news, chhatarpur hindi news, Chhatarpur current news, chhatarpur crime news
विदित हो कि अगस्त 2021 में जिले से 6 प्राध्यापकों के तबादले हुए थे। प्राध्यापकों के नीमच से लगाव के चलते कार्यमुक्त होने में भारी परेशानी महसूस कर रहे थे। ट्रांसफर के बाद भी आदेश को तोड़ मरोड़ कर नीमच में टिके रहने की जुगत भिड़ाते दिख रहे थे। इसमें वे काफी हद तक सफल भी हुए थे। इसके बाद पिछले दिनों नीमच विधायक दिलीपसिंह परिहार के माध्यम से यह मामला विधानसभा तक में गूंजा था। विधानसभा में प्रश्न लगने की सूचना बाद ही आनन फानन में सभी प्राध्यापकों को कार्यमुक्त कर दिया गया था। बस प्राध्यापक डा. एलएन शर्मा बच गए थे। डा. शर्मा का ट्रांसफर नीमच से महू किया गया था। नीमच से उन्हें कार्यमुक्त भी कर दिया गया था। उन्होंने कोर्ट की शरण ली थी। कोर्ट ने यथास्थिति के आदेश दिए थे। बताया यह जाता है कि उन्हें कोर्ट के आदेश के तहत नीमच कॉलेज से कार्यमुक्त होने पर महू में यथास्थिति बनाए रखना थी, लेकिन वे नीमच में सेवाएं देते रहे। यहां तक कि उन्होंने अर्जित अवकाश भी ले लिया। डा. शर्मा ने न्यायालय के निर्णय के अनुक्रम में उच्च शिक्षा विभाग में अभ्यावेदन प्रस्तुत कर ट्रांसफर निरस्त कराने की गुहार लगाई। उच्च शिक्षा विभाग में डा. शर्मा ने अपने स्तर पर तर्क भी दिए। इस पर उच्च शिक्षा विभाग ने दो टूक कहा कि नीमच में वाणिज्य के 5 पद स्वीकृत हैं। सभी प्राध्यापक नियमित रूप से कार्यरत हैं। यदि जरूरत लगी तो अतिथि विद्वान काम कर लेंगे। डा. शर्मा द्वारा दिए अन्य तर्कों को भी विभाग ने अस्वीकार कर दिया। विभाग की ओर से स्पष्ट किया गया कि उनका ट्रांसफर प्रशासनिक कार्य सुविधा एवं छात्रहित में किया गया है। इतना ही नहीं विभाग ने कहा कि शर्मा नीमच में लगातार 9 साल से पदस्थ हैं। ट्रांसफर नीति के अनुसार उनके द्वारा प्रस्तुत किए गए सभी अभ्यावेदन अमान्य करते हुए मुख्यमंत्री के अनुमोदन से ट्रांसफर किया गया है। उच्च शिक्षा विभाग के आदेश के बाद बुधवार को डा. शर्मा को कार्यमुक्त भी कर दिया गया।

शासन आदेश पर किया कार्यमुक्त
उच्च शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन ने प्राध्यापक डा. एलएन शर्मा का अभ्यावेदन अमान्य कर दिया। इसके बाद शासन आदेश अनुसार मैंने बुधवार को प्राध्यापक शर्मा को कार्यमुक्त भी कर दिया है।
-डा. वीके जैन, प्राचार्य लीड कॉलेज

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.