मनासा क्षेत्र के विकास के लिए स्वच्छ राजनीति जरूरी

harinath dwivedi

Publish: May, 18 2018 01:41:57 PM (IST)

Neemuch, Madhya Pradesh, India
मनासा क्षेत्र के विकास के लिए स्वच्छ राजनीति जरूरी

-मनासा न्यायालय परिसर में पत्रिका चेंजमेकर अभियान के तहत लिया संकल्प
-स्वच्छ राजनीति के लिए त्याग, सेवा समर्पण की भावना जरूरी

नीमच. क्षेत्र के विकास के लिए जरूरी है जो व्यक्ति जनप्रतिनिधि के रूप में सामने आए, उसमें त्याग, सेवा और विकास की भावना हो, तभी राजनीति भी स्वच्छ होगी ओर राजनीति से जुड़े लोग भी भ्रष्टाचार से दूर रहते हुए विकास की गंगा में हाथ बटाएंगे। इसी उद्देश्य को लेकर पत्रिका द्वारा चेंजमेकर अभियान चलाया जा रहा है।
इसी अभियान के तहत गुरुवार को मनासा विकासखंड के अंतर्गत न्यायालय परिसर मनासा में अभिभाषक संघ अध्यक्ष सुभाष तुगनावत की अध्यक्षता में एक बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें सभी ने स्वच्छ राजनीति को लेकर अपने अपने विचार प्रस्तुत किए। लेकिन सभी का एक मत में यही कहना था कि चाहे किसी भी पार्टी का उम्मीद्वार हो या जनप्रतिनिधि बने, वह स्थानीय निवासी हो, ताकि क्षेत्र का भी विकास हो सके, क्योंकि पिछले समय में बाहरी व्यक्तियों के साम्राज्य के चलते क्षेत्र का विकास न के बराबर हुआ है।
इस अवसर पर अभिभाषक संघ के तत्वावधान में पत्रिका अभियान चेंजमेकर के तहत न्यायालय परिसर में मनासा में सभी ने हाथ आगे करते हुए संकल्प लिया कि हम राजनीति को भ्रष्टाचार मुक्त करते हुए स्वच्छ राजनीति के लिए अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। हम स्वयं ऐसे व्यक्ति को चुनेंगे जो वाकई राजनीति में भ्रष्टाचार को न पनपने दे ओर क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहे। इस अवसर पर काफी संख्या में अभिभाषक उपस्थित थे। जिन्होंने पत्रिका अभियान की सराहना करते हुए हमेशा अपना भी पूर्ण सहयोग स्वच्छ राजनीति में करने की बात कही।
क्षेत्र के विकास के लिए अब यह बहुत जरूरी है कि उम्मीद्वार स्थानीय हो, शिक्षित हो, उसके व्यक्तिव में पारदर्शिता हो। लंबे समय से जनप्रतिनिधि के रूप में बाहरी व्यक्ति आगे आए हैं। क्षेत्रवासियों की भी यही ईच्छा है कि स्थानीय व्यक्ति आगे आएं। ताकि क्षेत्र का विकास हो।
-सुभाष तुगनावत, अध्यक्ष, अभिभाषक संघ मनासा
स्वच्छ राजनीति के लिए जरूरी है उम्मीद्वार किसी भी पार्टी का हो, लेकिन एक तो वह स्थानीय हो, जनता की समस्या को जान कर उन्हें हल करवाने के साथ ही भेदभाव मुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त कार्य करे। उसे जनप्रतिनिधि बनने के बाद सभी मापदंडों पर खरा उतरना चाहिए।
-जयंत कुमार उपाध्याय, वरिष्ठ अभिभाषक, मनासा
स्वच्छ राजनीति के लिए जरूरी है कि ऐसा व्यक्ति उम्मीद्वार के रूप में चुना जाए जो समाजसेवा में हरदम तत्पर रहा हो, निस्वार्थ भाव से हर स्तर पर कार्य करना जानता हो, साथ ही वह स्थानीय हो, क्योंकि स्थानीय व्यक्ति ही क्षेत्र की समस्या को अच्छे से जानता है ओर वह क्षेत्र के विकास को काफी बेहतर तरीके से कर सकता है।
-अनवर खान, अभिभाषक, मनासा
राजनीति में भ्रष्टाचार दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। जिससे विकास कार्य भी कागजों में अधिक जमीनी स्तर पर कम नजर आते हैं। इस कारण स्वच्छ राजनीति बहुत जरूरी है। ताकि क्षेत्र के विकास की गुणवत्ता भी बढ़े ओर आमजन को मिलने वाला हर लाभ उस व्यक्ति तक पहुंचे।
-दुष्यंत सारू, अभिभाषक, मनासा
----------------

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned