दिग्विजय बोले- "RSS बुलाएगी तो ज़रूर जाऊंगा, पर पूछूंगा यह 4 सवाल"

दिग्विजय बोले-

Faiz Mubarak | Publish: Sep, 16 2018 12:37:15 PM (IST) Neemuch, Madhya Pradesh, India

दिग्विजय बोले- "RSS बुलाएगी तो ज़रूर जाऊंगा, पर पूछूंगा यह 4 सवाल"

नीमचः 17 सितंबर से शुरु होने वाले राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ(RSS) का तीन दिवसीय कार्यक्रम इस समय देश और मध्य प्रदेश में काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। वजह है, कि इस कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह समेत कई नेताओं को आमंत्रित किया गया है। मामला चर्चा में आया तो मीडिया में खबरें भी गर्म होने लगीं कि, अब कांग्रेस के दिग्गज नेता भी आरएसएस के कार्यक्रम में शामिल होगे। लेकिन, चर्चाएं गर्म होते देख कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह खुद मेदान में कूदे और राजनीतिक गलियारों में बने असमंजस से पर्दा उठा दिया। दिग्विजय ने स्थितियां साफ करते हुए कहा कि, आरएसएस द्वारा कराए जा रहे कार्यक्रम का अब तक मुझे कोई न्योता नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि, अगर मुझे न्योता मिला तो में उनके कार्यक्रम में ज़रूर जाउंगा। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि, कार्यक्रम में जाने को लेकर मेरी कुछ शर्तें हैं, अगर संघ इसपर राजी है तो मुझे निमंत्रण पहुंचा सकता है।

संघ जवाब देगा तो निमंत्रण कबूलः दिग्विजय

एकता यात्रा के मद्देनजर नीमच पहुंचे दिग्विजय सिंह ने साफ तौर पर कहा कि, राजनीति गर्माने के लिए इस तरह की बातें लोगों के बीच उड़ाई जा रहीं हैं, कि मुझे संघ के कार्यक्रम का निमंत्रण मिला है। सिंह ने कहा कि, हालांकि मुझे इसमें कोई ऐतराज़ नहीं है। लेकिन संघ के बुलावे पर मैं इस शर्त पर ही जाउंगा कि, वह मेरे द्वारा पूछे गए चार सवालों के जवाब जनता को दे। दिग्विजय ने कहा कि अगर संघ द्वारा मेरी शर्तें मानकर मुझे कार्यक्रम में बुलाया गया तो, मैं उनसे पूछूंगा कि।

दिग्विजय के सवाल

-संस्था पंजीकृत है कि नहीं?
-आपके पदाधिकारी कौन हैं?
-संघ का संविधान क्या है?
-संघ में चुनाव होते हैं कि नहीं होते?

इसलिए गर्माई थी सियसत

आपको बता दें कि, पिछले दो दिनो से इस तरह की खबरें राजनीतिक गलियारों में गर्म थीं, कि आरएसएस द्वारा राजधानी दिल्ली विज्ञान भवन में तीन दिनों तक चलने वाले व्याख्यान श्रृंखला में शामिल होने के लिए कांग्रेस के कई दिग्गज नेताओं को निमंत्रित किया है। आरएसएस द्वारा कांग्रेस के जिन दिग्गज नेताओं को कार्यक्रम में आमंत्रित किये जाने की अटकलें थीं, उनमें राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी, सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी, कांग्रेस सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह समेत अन्य नेताओं का नाम सामने आ रहे थे। हांलांकि, दिग्विजय के अलावा अब तक कांग्रेस के किसी भी नेता ने यह बात नहीं कही है कि, उन्हें संघ की तरफ से कोई न्योता मिला है। बता दें कि, इस आरएसएस द्वारा किए जाने वाले इस कार्यक्रम का मकसद अलग-अलग विचारधारा के लोगों को एकत्रित करके देश हित की बातों पर गौर करना है। साथ ही, समाज के प्रबुद्ध लोगों से “भविष्य का भारत-संघ का दृष्टिकोण” विषय पर सीधा संवाद करना है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned