कोरोना के चलते यहां अब घर बैठे होंगे मां भादवामाता के दर्शन

नवरात्रि में घर बैठे कर सकेंगे भादवामाता के दर्शन
प्रशासन ने जिले के लोकन केबल नेटवर्क पर सीधे प्रसारण की करी व्यवस्था
कोरोना वायरस के चलते जिले के सभी धार्मिक आयोजन स्थगित

By: Mukesh Sharaiya

Published: 19 Mar 2020, 01:50 PM IST

नीमच. प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस के मदेदनजर जन स्वास्थ्य एंव सुरक्षा को देखते हुए जिले के भादवामाता में 25 मार्च से नवरात्रि में आयोजित होने वाला मेला निरस्त कर दिया गया है। साथ ही जिले के अन्य धार्मिक मेलों को भी स्थगित कर दिया गया है। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए नवरात्रि में भादवामाता के दर्शन की लाइव व्यवस्था स्थानीय केबल नेटवर्क के माध्यम से सम्पूर्ण जिले में की जाएगी। लोग घर बैठे ही दर्शन कर सकेंगे।
मेले निरस्त होने के लिए गांवों में करें प्रचार
यह जानकारी कलेक्टर जितेन्द्रसिंह राजे ने बुधवार को कलेक्टोरेट में आयोजित जिले के प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में दी। कलेक्टर ने कहा कि भादवामाता माता मंदिरके गर्भगृह में प्रवेश तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया गया है। कलेक्टर ने श्रद्धालुओं और आमजनों से अपील की है कि वे कोरोना वायरस के मद्देनजर धार्मिक मेले, उत्सव, समारोह व भीड़भाड़ वाले अन्य स्थानों पर न जाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि ग्रामस्तर पर भादवामाता व अन्य मेलों के आयोजन निरस्त होने की सूचना की मुनादी कर लाउड स्पीकर से व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए। प्रचार होने से श्रद्धालु मेले में न पहुंचेंगे और कोरोना के सक्रमण से बच सकेंगे। उन्होंने थानों और मंडियों में भी कोरोना के प्रति जनजागरूकता के लिए प्रचार सामग्री वितरित करने, होर्डिग्स बैनर आदि लगाने के निर्देश दिए। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि ग्राम पंचायतों के माध्यम से गांवों में हाथ धुलाई के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इनमें भी मेलों उत्सव समारोहों के आयोजन निरस्त करने की सूचना प्रसारित की जाए। कलेक्टर ने सभी सीएमओ को शहरी क्षेत्र में भी धार्मिक मेलों के निरस्त होने व कोरोना से बचाव के उपायों को अपनाने की सूचना प्रसारित करवाने के निर्देश दिए।
बाहर से आने वालों पर रखें कड़ी नजर
पुलिस अधीक्षक मनोजकुमार राय ने कहा कि कोरोना से लोग डरें नहीं बल्कि बचे। सावधानी बरतें, सचेत रहें, हाथ बार बार धोएं, सामूहिक भोज, लंगर आदि के कार्यक्रम भी न हो। यात्री बसों में भी स्वच्छता की व्यवस्था की जाए। कोरोना से डरे नहीं अफवाहों पर ध्यान न दें। बचाव उपयों पर अमल करें। पुलिस अधीक्षक राय ने थाना प्रभारियों को निर्देश दिए कि वे धर्मशालाओं, होटलों, लॉज आदि में प्रतिदिन ठहरने वालों की जानकारी लें और बाहर से आने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखें। जिला पंचायत सीईओ भव्या मित्तल ने निर्देश दिए कि कोरोना वायरस से बचाव के उपायों के बारे में भी ग्रामीणों को व्यापक स्तर पर जागरूक करें। मंदिर परिसरों की साफ सफाई की नियमित व्यवस्था पंचायतें करें। बस स्टैंड, बसों में भी दवा छिड़काव की व्यवस्था की जाए। बैठक में जिले के तीनों एसडीएम, तहसीलदार, एसडीओपी, जनपद सीईओ, थाना प्रभारी, सीएमओ, सभी विभागों के ग्रामस्तरीय अधिकारी-कर्मचारियों आदि उपस्थित थे।

Show More
Mukesh Sharaiya Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned