दस्तक से पहले डेंगू का लार्वा ऐसे होगा खत्म

-डेंगू से बचाव के लिए अभी से जुटा स्वास्थ्य अमला
-मुख्य मार्गों से रैली निकालकर आमजन को जागरूक
-बारिश से पहले चलाया जा रहा अभियान

By: harinath dwivedi

Published: 16 May 2018, 11:09 PM IST

नीमच. डेंगू दस्तक दे उससे पहले उसके लार्वा को जड़ से खत्म करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कदम बढ़ा लिए हैं। ताकि जिले में डेंगू से कोई व्यक्ति प्रभावित न हो। इसके लिए जहां पहले चरण में जन जागरूकता रैली निकाली। वहीं अगले चरण में विद्यार्थियों की टीम बनाकर आमजन को इतना जागरूक किया जाएगा कि डेंगू का लार्वा बनने ही नहीं दिया जाए।
बतादें की बुधवार को राष्ट्रीय वाहक जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय डेंगू दिवस के उपलक्ष्य में एक जनजागरूकता रैली निकाली गई। रैली में मुख्य रूप से नर्सिंग के विद्यार्थी शामिल थे, जिन्होंने शहर के प्रमुख मार्गों से हाथों में तख्तियां लेकर आमजन को डेंगू की रोकथाम के लिए जागरूक किया। रैली में शामिल करीब १२५ विद्यार्थियों ने हाथों में तख्तियां लेकर जागरूकता के संदेश दिए। जिसमें लिखा था,पांच दिन से ज्यादा पानी भर कर न रखें, कूलर को हर सप्ताह सूखा कर रखें, पानी ठहरेगा जहां, मच्छर पनपेगा वहां आदि जागरूकता के संदेश विद्यार्थियों द्वारा नारे के रूप में बोले भी जा रहे थे, रैली को जिला चिकित्सालय में सीएमएचओ डॉ पंकज शर्मा व जिला मलेरिया अधिकारी सरिता सिंधारे ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया, जानकारी देते हुए जिला कम्युनिटी मोबीलाईजर चंद्रपालसिंह राठौड़ ने बताया कि जागरूकता रैली जिला चिकित्सालय से प्रारंभ होकर फ्रूट मार्केट, फव्वारा चौक होते हुए शहर के प्रमुख मार्गों से आमजन को जागरूक करते हुए जिला चिकित्सालय पहुंची। इस अवसर पर उपस्थित सभी को संकल्प भी दिलाया गया कि अपने आसपास मच्छर जमा नहीं होने देंगे, कूलर में समय समय पर पानी बदलेंगे, घर व कार्यस्थल के आसपास सफाई रखेंगे। कहीं भी जलभराव नहीं होने देंगे। ताकि मच्छर का लार्वा पनप ही न सके।
गत वर्ष पॉजीटिव थे १९, इस वर्ष शून्य
पिछले साल करीब १९ मरीज डेंगू पॉजीटिव पाए गए थे, जिसमें से करीब ८ मरीज पड़ोसी राज्य के थे। वहीं इस वर्ष अभी तक एक भी मरीज पॉजीटिव नहीं पाया गया। चूकि डेंगू की संभावना बारिश के दौरान रहती है। इस कारण बारिश के पूर्व से ही इसे अभियान के रूप में जड़ मूल से समाप्त करने या डेंगू का लार्वा पैदा ही नहीं होने देने के लिए जमीनी स्तर पर कार्य शुरू कर दिए गए हैं।
जिला मलेरिया अधिकारी डॉ सरिता सिंधारे ने बताया कि डेंगू से बचाव के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए रैली निकाली गई। अगले चरण में वर्कशॉप का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद मानव संसाधन की कमी को दूर करने व भविष्य में अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने के लिए विद्यार्थियों की टीम को भी जोड़ा जाएगा। इसी के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में आशा ऊषा आंगनवाड़ी के माध्यम से भी लोगों को जागरूक कर डेंगू से बचाव के तरीके जन जन तक पहुंचाए जाएंगे। ताकि डेंगू के लार्वा की उत्पत्ति ही नहीं हो सके।
-------------

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned