राहुल गांधी के आने से पहले ही यह क्या हो गया कांग्रेस में ....

- नीमच जिले में 40 से अधिक पदाधिकारियों ने इस्तीफे पीसीसी को भेजे
- किसान आंदोलन के पहले ही संगठन में बिखराव

By: harinath dwivedi

Published: 23 May 2018, 02:35 PM IST


नीमच. एक तरफ मध्यप्रदेश में कांग्रेस द्वारा राष्ट्रीय मुखिया राहुल गांधी की अगुवाई में ६ जून को चुनावी रणभेरी गंूजाने की तैयारी की जा रही है। लेकिन दूसरी तरफ संगठन में एक ताजा निर्णय से कांग्रेस में घमासान मच गया है। मंदसौर और नीमच जिले में कांग्रेस पदाधिकारियों द्वारा ताबड़तोड़ इस्तीफे दिए जा रहे हैं।

इस कारण दे रहे इस्तीफे-
हाल ही में कांग्रेस आलाकमान द्वारा घोषित की गई प्रदेश चुनाव समन्वय समिति में मंदसौर जिले के खांटी नेता राजेंद्रसिंह गौतम का नाम शामिल किया गय है। गौतम को सिंधिया खेमे का सिपहसालार माना जाता रहा है। वे मंदसौर जिला पंचायत अध्यक्ष रह चुके हैं और जिला कांग्रेस अध्यक्ष समेत कई पदों पर रहे हैं। एक बार सांसद का चुनाव कांग्रेस के टिकिट पर लड़े थे जिसमें उन्हें भारी मतों से पराजित होना पड़ा। इसके बाद उनका नाम बागियों में शुमार हो गया। इस दौर में वे कांग्रेस में हुए झगड़ों में भी विवादित रहे हैं। लेकिन इस बार एन ६ जून के प्रस्तावित किसान आंदोलन से पहले और चुनावी तैयारी के दौर में उन्हें समन्वय समिति में शामिल करने से शेष कांग्रेसी नाराज हो गए हैं। अब यह नाराजगी खुले तौर पर इस्तीफों के रूप में सामने आ रही है।

इस्तीफे देने वालों में नटराजन समर्थक-
ुमंदसौर जिले में हुए इस्तीफों के साथ ही नीमच जिले में भी कांग्रेस संगठन से इस्तीफे देने वालों की कतार लग गई हैं। इनमें ज्यादातर पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन के समर्थक पदाधिकारी हैं। आरोप है कि गौतम पार्टी के खिलाफ प्रचार और चुनाव तक लड़ चुके हैं। ऐसे में उन्हें समन्वय समिति में लिया गया है। जबकि वे खुद कांग्रेस के साथ समन्वय नहीं रखते। पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ को भेजे जा रहे इस्तीफों में पदाधिकारी लिख रहे हैं कि बिना विश्वास में लिए गए इस निर्णय से कांग्रेस के निष्ठावान लोगों में हताशा का माहौल है। अब तक जिन पदाधिकारियों ने इस्तीफे दिए हैं उनमें नीमच जिला कांग्रेस महामंत्री ओम शर्मा, जिला सचिव संजीव पगारिया, ब्लाक प्रवक्ता मुकेश कालरा, युवा कांग्रेस अध्यक्ष हरगोविंद दीवान, हरिश दुआ, पवन अग्रवाल, प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधि उमरावसिंह गुर्जर, एनएसयूआई जिलाध्यक्ष भानूप्रतापसिंह राठोर, ग्रामीण ब्लाक अध्यक्ष नाथूसिंह राठौर, जीरन ब्लाक अध्यक्ष विनोद दक, महिला कांग्रेस अध्यक्ष आशा सांभर, प्रभु चंदेल, मंडलम अध्यक्ष रमेश कदम, महेश सोनगरा, इकबाल कुरैशी, जुगल अहीर, मोहनसिंह जाट, विक्रमसिंह चौहान, मुकेश बोराना, सेक्टर अध्यक्ष रामगोपाल राठौर, अशेक सुराह, लोकेंद्र अग्रवाल, पियुष जैन, राकेश सोनकर, सलीम कुरैशी, यशपाल आर्य आदि हैं। इधर मनासा ब्लाक अध्यक्ष चंद्रशेखर पालीवाल, रामपुरा ब्लाक अध्यक्ष लोकेंद्रसिंह चंद्रावत ने खुद सहित १० पदाधिकारियों के इस्तीफे की पुष्टि की है। जावद ब्लाक से पीसीसी मेंबर अशरफ मेव गुड्डू, पूर्व जनपद सदस्य व पीसीसी मेंबर सत्यनारायण पाटीदार, सिंगोली ब्लाक अध्यक्ष संजय तिवारी, जिला पंचायत सदस्य व ब्लाक महामंत्री दिनेश बैरागी सहित ४ ने अपने-अपने इस्तीफों की पुष्टि की है।

-
अधिकांश पदाधिकारियों ने सीधे पीसीसी को इस्तीफे भेजे हैं। ऐसी जानकारी मिली है। इस संबंध में सभी संयम से काम लें, उचित फोरम पर किसी भी समस्या का बेहतर समाधान हो सकता है। गुरूवार को पिपलियामंडी में प्रदेश के प्रभारी सचिव संजय कपूर आ रहे हैं, उनसे इस संदर्भ में चर्चा होगी। - नंदकिशोर पटेल, जिला कांग्रेस अध्यक्ष नीमच
-------------------------

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned